Zimbabwe Media: जिम्बाब्वे के मीडिया एलायंस ने चीनी दूतावास की कार्रवाई की निंदा की

जिम्बाब्वे के मीडिया (Zimbabwe Media) एलायंस ने हरारे (Harare) में चीनी दूतावास (Chinese Embassy) की कार्रवाई की निंदा की है. बता दें की, जिसने चीनी खनन कंपनियों द्वारा उल्लंघन पर लेख प्रकाशित करने के बाद एक साप्ताहिक समाचार पत्र को धमकी दी थी.

जिम्बाब्वे मीडिया एलायंस ने कहीं ये बातें

ANI से मिली जानकारी के मुताबिक, वॉयस ऑफ अमेरिका ने बताया की, एलायंस (Zimbabwe Media) ने कहा कि चीनी दूतावास ने “द स्टैंडर्ड” अखबार के खिलाफ कड़े कदम उठाने की धमकी दी है. जिसे समूह ने प्रेस की स्वतंत्रता पर हमला कहा. मीडिया एलायंस के प्रमुख निगेल न्यामुटुम्बु ने कहा  है की, “सबसे पहले, चीनी दूतावास ने यह निर्दिष्ट नहीं किया कि वे समाचार पत्र के खिलाफ क्या एक्शन लेंगे, और यह एक चिंता का विषय है.”

बता दें की, प्रकाशन के अनुसार, चीनी दूतावास ने बुधवार को कहा कि वे जिम्बाब्वे के मीडिया एलायंस द्वारा दिए गए बयान पर टिप्पणी नहीं करेंगे.

मीडिया एलायंस के प्रमुख निगेल न्यामुटुम्बु ने कहा है की, “चीनी दूतावास ने भी मौजूद पेशेवर तंत्र के साथ कोई निवारण नहीं मांगा है. चाहे वह अल्फा मीडिया होल्डिंग्स के लोकपाल के माध्यम से हो, जिसमें समाचार पत्र होता है कि उनके पास समस्याएँ थीं या स्व-नियामक तंत्र से संपर्क कर रहे थे जो निवारण के लिए उपलब्ध है. जवाबदेही की तलाश करने के लिए, और उन क्षेत्रों को प्राप्त करने के लिए जिन्हें वे चाहते थे कि थ्रेस्ड आउट किया जाएगा.”

अधिकारिक जानकारी के मुताबिक, उन्होंने आगे कहा कि चीनी दूतावास जिम्बाब्वे मीडिया आयोग या किसी भी राजनयिक चैनल का इस्तेमाल कर सकता था ताकि उनके मुद्दों को सौहार्दपूर्ण ढंग से संभाला जा सके. टिप्पणी के लिए बुधवार को जिम्बाब्वे के अधिकारियों से संपर्क नहीं हो सका. एक साक्षात्कार में, अल्फा मीडिया होल्डिंग्स के संपादकीय सलाहकार बोर्ड के सदस्य, हरारे के पूर्व मेयर मुचादेयी एश्टन मसुंडा ने कहा कि चीनी दूतावास की धमकियों के बावजूद पत्रकार पीछे नहीं हटेंगे.

अल्फा मीडिया होल्डिंग्स एक स्वतंत्र मीडिया हाउस है- मेयर

बता दें की, हरारे के पूर्व मेयर मसुंडा ने कहा है की, “जिस आरोप ने मुझे वास्तव में हरकत में लाया, वह चीनी दूतावास का आरोप था कि अल्फा मीडिया होल्डिंग्स के पत्रकारों को विदेशी-जुड़े गैर-सरकारी संगठनों के साथ-साथ एक दूतावास द्वारा भुगतान किया गया था.” इसके अलावा मसुंडा ने कहा कि, उनका संगठन ज़िम्बाब्वे में सटीक और निष्पक्ष रूप से रिपोर्ट करना जारी रखेगा.

इसके साथ ही पूर्व हरारे मेयर ने अपने दिए गए एक बयान में कहा है की, “अल्फा मीडिया होल्डिंग्स एक स्वतंत्र मीडिया हाउस है. जो किसी भी राजनीतिक संबंधों से मुक्त है. अधिकारिक जानकारी के मुताबिक, पूर्व हरारे मेयर ने इसके अलावा कहा की, किसी भी अल्फा मीडिया होल्डिंग्स पत्रकार के लिए पारिश्रमिक के बाहर कोई भुगतान प्राप्त करना एक अभिशाप है.”

फ़िलहाल तो ये बात आगे क्या मोड़ लेगा ये पुरी तरह से चीनी दूतावास (Chinese Embassy) की कार्रवाई पर निर्भर है. लेकिन इसके साथ ही जिम्बाब्वे के मीडिया (Zimbabwe Media) एलायंस अपने आप को निर्दोष साबित करने में लगा. हालाँकि इस मुद्दे पर चीनी दूतावास (Chinese Embassy) आगे कोई बयान नहीं दिया है. अल्फा मीडिया होल्डिंग्स पत्रकारों पर भी अब गाज गिरते नज़र आ रही है.

Leave a Reply