राष्ट्रपति Vladimir Putin ने प्राइस कैप इस्तमाल करने वाले देशों पर तेल निर्यात करने से रोका

Vladimir Putin: रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) ने रूसी तेल और पेट्रोलियम उत्पादों की आपूर्ति पर प्रतिबंध लगा दिया है. CNN न्यूज़ के मुताबिक, “विदेशी कानूनी संस्थाओं और व्यक्तियों को रूसी तेल और पेट्रोलियम उत्पादों की आपूर्ति निषिद्ध है.” रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) ने मंगलवार को उन देशों को तेल आपूर्ति पर प्रतिबंध लगाने के एक पेपर पर हस्ताक्षर किए, जिन्होंने रूसी तेल और पेट्रोलियम उत्पादों पर मूल्य कैप लगाने पर हामी भरी थी.”

राष्ट्रपति Vladimir Putin के इस फैसले से वैश्विक स्तर पर मचा हड़कंप

CNN से मिली जानकारी के मुताबिक, इस महीने की शुरुआत में, पश्चिमी देशों ने रूसी कच्चे तेल पर 60 डॉलर प्रति बैरल की कीमत कैप लागू की गई थी. यह उन कंपनियों द्वारा लागू किया जाता है जो रूसी तेल के लिए शिपिंग, बीमा और अन्य सेवाएं प्रदान करती हैं.

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) ने तेल निर्यात को लेकर मंगलवार को यह फैसला लिया था. रूसी सरकार ने उन देशों और कंपनियों को तेल की सप्लाई पर रोक लगाने का फरमान जारी किया है. जो यूक्रेन में मॉस्को के हमलों के जवाब में पश्चिमी देशों के प्राइस कैप के समर्थन में हैं.

उन देशों पर प्रतिबंध लगा है जो प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष तौर पर प्राइस कैप का इस्तेमाल कर रहे हैं

राष्ट्रपति कार्यालय की ओर से जारी नोटिस के मुताबिक, उन विदेशी संस्थाओं व व्यक्तियों को रूसी तेल और तेल उत्पादों की सप्लाई प्रतिबंधित है. जिनके आपूर्ति करार प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष तौर पर प्राइस कैप का इस्तेमाल कर रहे हैं.

राष्ट्रपति Vladimir Putin ने प्राइस कैप इस्तमाल करने वाले देशों पर तेल निर्यात करने से रोका
राष्ट्रपति Vladimir Putin ने प्राइस कैप इस्तमाल करने वाले देशों पर तेल निर्यात करने से रोका

स्पुतनिक के अनुसार, प्राइस कैप के तहत रूसी तेल की आपूर्ति पर प्रतिबंध 1 फरवरी, 2023 से प्रभावी होगा और 1 जुलाई, 2023 तक प्रभावी रहेगा. रूसी पेट्रोलियम उत्पादों की आपूर्ति पर प्रतिबंध की तारीख कैबिनेट द्वारा निर्धारित की जाएगी. लेकिन यह 1 फरवरी, 2023 से पहले नहीं होगी.

राष्ट्रपति पुतिन ने अमेरिका को दी है यह धमकी

इसके अलावा बता दें की, रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) ने यूक्रेन में चल रहे युद्ध के बीच यूक्रेन को पैट्रियट वायु रक्षा प्रणाली आपूर्ति को रोकने की संयुक्त राज्य अमेरिका की योजना पैट्रियट को धमकी दी है.

बताया जा रहा है की, अमेरिका ने इस सप्ताह यूक्रेन के लिए अतिरिक्त 850 मिलियन अमरीकी डालर की सुरक्षा सहायता की घोषणा की थी. अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन प्रशासन की शुरुआत के बाद से कीव के लिए कुल सैन्य सहायता 21.9 बिलियन अमरीकी डालर तक हो गई है.

देशभक्तों को मात देंगे पुतिन

नवीनतम सहायता में पैट्रियट एयर डिफेंस सिस्टम शामिल था. जो क्रूज मिसाइलों, कम दूरी की बैलिस्टिक मिसाइलों और विमानों को काफी नीचे लाने में सक्षम था. राष्ट्रपति पुतिन ने कहा की, “ऐसा कहा जाता है कि पैट्रियट सिस्टम को यूक्रेन भेजा जा सकता है. उन्हें करने दो हम देशभक्तों को भी मात देंगे. और उन्हें बदलने या नई प्रणाली बनाने के लिए कुछ भेजना होगा.”

आगे उन्होंने (Vladimir Putin) कहा की, “हम इसे ध्यान में रखते हैं और वहां भेजी जाने वाली हर चीज को गिनते हैं. डिपो में कितने सिस्टम हैं. वे कितने और निर्माण कर सकते हैं और कितनी तेजी से.”

Leave a Reply