September 29, 2022
UK PM: ब्रिटेन के प्रधानमंत्री चुनाव में भारतीय मूल के ऋषि सनक हैं आज भी सबसे आगे, दौड़ में और उम्मीदवार पिछड़े

UK PM: ब्रिटेन के प्रधानमंत्री चुनाव में भारतीय मूल के ऋषि सनक हैं आज भी सबसे आगे, दौड़ में और उम्मीदवार पिछड़े

Spread the love

ब्रिटिश पूर्व वित्त मंत्री ऋषि सुनक (Rishi Sunak) ने सोमवार को संसद के कंजर्वेटिव पार्टी (Conservative Party) के सदस्यों के बीच UK PM के मतदान के शुरुवाती दौर में शीर्ष स्थान हासिल किया है.

बता दें की, प्रधानमंत्री के रूप में बोरिस जॉनसन (Boris Johnson) को बदलने की दौड़ चार से कम हो गई है. बता दें की, भारतीय मूल के ऋषि सुनक ब्रिटेन के प्रधानमंत्री (UK PM) बनने के बेहद करीब पहुंच गए हैं.

भारतीय मूल के ऋषि बनने जा रहे ब्रिटेन के प्रधानमंत्री

ANI से मिली जानकारी के मुताबिक,  बोरिस जॉनसन को बदलने की दौड़ चार से कम हो गई, जिसमें टॉम तुगेंदत (Tom Tugendhat) सबसे कम वोट प्राप्त करने के बाद प्रतियोगिता से बाहर हो गए. ब्रिटिश भारतीय पूर्व वित्त मंत्री को तीसरे दौर के मतदान में 115 मत मिले, जिसमें व्यापार मंत्री पेनी मोर्डंट 82 मतों के साथ दूसरे स्थान पर रहे, इसके बाद विदेश सचिव लिज़ ट्रस 71 मतों के साथ, और पूर्व समानता मंत्री केमी बडेनोच 58 मतों के साथ दूसरे स्थान पर रहे.

बता दें की, टोरी बैकबेंचर और हाउस ऑफ कॉमन्स फॉरेन अफेयर्स कमेटी के अध्यक्ष टॉम तुगेंदत ने पिछले 32 वोटों से 31 वोटों की गिरावट दर्ज की और प्रतियोगिता से बाहर हो गए. जादू संख्या 120 के रूप में देखी जाती है. उम्मीदवार को अपने कंजरवेटिव पार्टी के कम से कम 120 सहयोगियों का समर्थन प्राप्त करना ही होता है. इस हफ्ते आखिरी कुछ दौर की वोटिंग हो रही है.

क्योंकि तीसरी लाइव टेलीविज़न डिबेट, जिसे मंगलवार शाम को स्काई न्यूज़ (Sky News)  द्वारा होस्ट किया जाना था, को रद्द कर दिया गया था. डिबेट को रद्द करने की वजह बताई गई थी की,  सनक (Rishi Sunak) और ट्रस दोनों ने भाग लेने से इनकार कर दिया था. ब्रिटेन के चुनाव हर कोई बड़ी ही गंभीरता से ले रहा है. क्योंकि, ब्रिटेन में पूर्व प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन (Boris Johnson) के सरकार गिरने की वजह थी उन पर भ्रष्टाचार के आरोप.

2 लाख कार्यकर्ता चुनेंगे नया पीएम

ब्रिटेन में प्रधानमंत्री (UK PM) बनने की दौड़ ज़ारी है. बता दें की, गुरूवार तक केवल दो उम्मीदवार मैदान में बचे रहेंगे. पांच सितंबर तक विजयी उम्मीदवार तत्कालीन पीएम बॉरिस जॉनसन (Boris Johnson) की जगह नए प्रधानमंत्री के रूप में पद की शपथ लेंगे. ऐसा बताया जा रहा है की, बचे हुए 2 उम्मीदवार फिर देश में अलग-अलग जाकर अपना प्रचार अभियान चलाएंगे. इस अभियान के दौरान वे कंजर्वेटिव पार्टी (Conservative Party) के कार्यकर्ताओं को संबोधित करेंगे.

इसके साथ ही  बताएंगे कि अगर वे पीएम (UK PM) बनते हैं तो देश के लिए क्या खास करेंगे और देश को क्या अलग देंगे. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, 2 लाख कार्यकर्ता ऑनलाइन वोटिंग के माध्यम से नए प्रधानमंत्री को चुनेंगे. जो भी नया प्रधानमंत्री चुना जाएगा वो  5 सितंबर को ब्रिटेन के नए पीएम (PM) की शपथ ग्रहण करेगा.

ऋषि सुनक भारतीय मूल के हैं. जानकारों की माने तो अगर ऋषि सुनक प्रधानमंत्री बनते हैं तो इसका सीधा फैयदा भारत को भी पहुंचेगा. भारत और ब्रिटेन के रिश्ते और ज्यादा मजबूत हो जाएंगे. जिसका सीधा असर दोनों ही देशों के व्यापार पर पड़ेगा. अब सभी की निगाहें ब्रिटेन के चुनाव पर ही टिकी हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.