September 26, 2022
Spread the love

भारत सरकार ने 2021-22 की मार्च तिमाही के साथ-साथ पूरे वित्त वर्ष 2022) के लिए सकल घरेलु उत्पाद ( GDP ) के आंकड़े मंगलवार को जारी किए। मिनिस्ट्री ऑफ स्टैटेस्टिक्स एंड प्रोग्राम इम्प्लीमेंटेशन (MoSPI) की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक मार्च तिमाही में GDP ग्रोथ सिर्फ 4.1% रही है। पिछले साल की इसी तिमाही में ये 2.5% थी। वित्त वर्ष 2021-22 में देश की जीडीपी 8.7 फीसदी की दर से बढ़ी । इसके पहले वर्ष 2020-21 में अर्थव्यवस्था में 6.6 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई थी। ( FY – Financial year )

देश की विकास दर FY 2021-22 की अक्टूबर-दिसंबर तिमाही की तुलना में थोड़ी कमजोर रही। पिछली तिमाही (अक्टूबर, नवंबर और दिसंबर) में GDP ग्रोथ रेट 5.4% थी। वित्त वर्ष 2021-22 की पहली तिमाही (अप्रैल, मई और जून) में GDP ग्रोथ 20.1% रही थी। दूसरी तिमाही (जुलाई, अगस्त और सितंबर) में GDP ग्रोथ रेट 8.4% रफ्तार से बढ़ी थी।
देश की विकास दर FY 2021-22 की अक्टूबर-दिसंबर तिमाही की तुलना में थोड़ी कमजोर रही। पिछली तिमाही (अक्टूबर, नवंबर और दिसंबर) में GDP ग्रोथ रेट 5.4% थी। वित्त वर्ष 2021-22 की पहली तिमाही (अप्रैल, मई और जून) में GDP ग्रोथ 20.1% रही थी। दूसरी तिमाही (जुलाई, अगस्त और सितंबर) में GDP ग्रोथ रेट 8.4% रफ्तार से बढ़ी थी।

राजकोषीय घाटा (Fiscal deficit) संशोधित लक्ष्य से कम

सरकार की ओर से जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक, 6.9 प्रतिशत के संशोधित बजट अनुमान के मुकाबले 2021-22 में राजकोषीय घाटा सकल घरेलू उत्पाद का 6.71 प्रतिशत रहा है। 

विनिवेश लक्ष्य के करीब भी नहीं पहुंची सरकार

पिछले वित्त वर्ष में सरकार अपने विनिवेश के लक्ष्य से चूक गई। विनिवेश और विभिन्न परिसंपत्ति को बेचकर भारत सरकार ने 78,000 करोड़ रुपये की आय का लक्ष्य बनाया था जिसके मुक़ाबले सिर्फ 14,000 करोड़ रुपये की ही आय हुयी।

आखिर GDP होती क्या है?

GDP अर्थव्यवस्था की सेहत को ट्रैक करने के लिए उपयोग किए जाने वाले सबसे आम पैमाना में से एक है। किसी देश की सीमा में एक निर्धारित समय के भीतर तैयार सभी वस्तुओं और सेवाओं के कुल मौद्रिक या बाजार मूल्य को सकल घरेलू उत्पाद (GDP) कहते हैं | इसमें देश की सीमा के अंदर रहकर जो विदेशी कंपनियां प्रोडक्शन करती हैं उसे भी शामिल किया जाता है। जब अर्थव्यवस्था की सेहत अच्छी होती है, तो आमतौर पर बेरोजगारी का लेवल कम होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.