Thailand में बच्चों पर हुई अंधाधुंध फायरिंग, देश में है दहशत का माहौल

Thailand:  पूर्वोत्तर थाईलैंड के एक ‘डे केयर सेंटर’ में एक पूर्व पुलिसकर्मी ने बृहस्पतिवार को गोलीबारी की जिसमें दर्जनों बच्चों और शिक्षकों की मौत हो गई है. बता दें की, डेकेयर सेंटर में एक पूर्व पुलिसकर्मी द्वारा चाकू और बंदूक की भगदड़ में मारे गए 23 बच्चों सहित 37 लोगों की मौत हो गई है. घटना के पीड़ितों को याद करने के लिए सरकारी इमारतों ने शुक्रवार को आधा झुका झंडा फहराया. इस घटना ने पूरे देश को झकझोर कर रख दिया है. अब जनता सरकार से जवाब माँग रही है.

Thailand में हुई घटना की वजह से लोगों में है दहशत का माहौल

WION से मिली जानकारी के मुताबिक, थाईलैंड (Thailand) में 23 बच्चों सहित 37 लोगों की मौत हो गई है. स्कूल के फर्श पर छोटे-छोटे बच्चों के शव उनके कंबलों में पड़े मिले हैं. इस घटना की वजह से बच्चों के माँ-बाप का हाल बुरा है.

पुलिस ने हमलावर की पहचान पुलिस बल के एक पूर्व सदस्य पन्या खमरपम के रूप में की है. इस पुलिस अधिकारी को नशीली दवाओं के आरोपों को लेकर बर्खास्त कर दिया गया था. और ड्रग के आरोप में कई मुकदमे भी चल रहे थे. बताया जा रहा है की, जघन्य अपराध को अंजाम देने के बाद उसने घर जाकर अपनी पत्नी और बच्चे को गोली मारकर खुद भी खुदकुशी कर ली है.

इस घटना पर थाईलैंड (Thailand) के प्रधानमंत्री ने गहरा दुःख जताया है. पुलिस ने अपने अधिकारिक बयान में कहा है कि,

“उथाई सावन नर्सरी (Uthai Sawan nursery) में मरने वाले ज्यादातर बच्चों की चाकू मारकर हत्या कर दी गई है. यह हाल के इतिहास में किसी एक हत्यारे द्वारा किए गए नरसंहार में सबसे खराब बच्चों की घटनाओं में से एक है.”

2 से 5 की उम्र के थे बच्चे

पूर्वोत्तर थाईलैंड के एक ‘डे केयर सेंटर’ में जिन बच्चों की मौत हुई है उनकी उम्र 2 से 5 साल के बीच में थी. सरकारी प्रवक्ता का कहना है की, “थाई राजा (King of Thailand) शुक्रवार को बचे लोगों से मिलने जाएंगे. थाईलैंड के राजा महा वजीरालोंगकोर्न नोंग बुआ लाम फु प्रांत में हुई घटना के पीड़ित परिवारों से मिलेंगे. इसके साथ ही थाईलैंड के प्रधानमंत्री प्रयुत चान-ओ-चा भी उनके साथ जाएंगे.”

फर्स्ट रिस्पॉन्डर टीम का नेतृत्व करने वाले एक आपातकालीन कार्यकर्ता पियालक किंगकाव ने रायटर को बताया, “यह एक ऐसा दृश्य है जिसे कोई भी देखना नहीं चाहता है. जैसे ही मैं अंदर गया मेरे पैरों तले ज़मीन खिसक गई.” घटना स्थल पर मौजूद लोगों ने थाईलैंड के कोम चाड ल्यूक टेलीविजन को  बताया की, ‘‘हमले में मारी गई एक शिक्षिका की गोद में घटना के समय बच्चा था. वो दर्शय वाकई में रौंगटे खड़े करने वाला था”

पुलिस का कहना है की घटना में और 10 लोग घायल हुए हैं जिनमें से 6 की हालात बहुत गंभीर है. सरकारी प्रसारक थाईपीबीएस को एक शिक्षिका ने बताया कि हमलावर कार से निकला और बाहर दोपहर का खाना खा रहे व्यक्ति को गोली मार दी थी. थाईलैंड में हुई घटना ने न सिर्फ थाईलैंड बल्कि दुनिया भर में सभी को झकझोर कर रख दिया है. हालाँकि, इस हमले की जाँच जारी है.

Leave a Reply