September 25, 2022
Taiwan के विदेश मंत्री का बड़ा बयान आया सामने, उन्होंने कहा की, चीन आक्रमण की तैयारी के लिए कर रहा अभ्यास

Taiwan के विदेश मंत्री का बड़ा बयान आया सामने, उन्होंने कहा की, चीन आक्रमण की तैयारी के लिए कर रहा अभ्यास

Spread the love

Taiwan: चीन और ताइवान के बीच काफ़ी समय से तनातनी मची हुई है. चीन लगातार ताइवान (Taiwan) को धमकियाँ दे रहा है. इसके पहले जब अमेरिका की स्पीकर नैन्सी पेलोसी ने ताइवान का दौरा किया था. तब भी चीन अमेरिका और ताइवान दोनों ही देशों को सचेत कर चुगा था. लेकिन अब चीन युद्ध करने जैसे हालात पैदा कर रहा है.

ताइवान के विदेश मंत्री ने कहीं ये बातें

WION से मिली जानकारी के मुताबिक, ताइवान (Taiwan) के विदेश मंत्री जोसेफ वू ने मंगलवार को चीन पर आक्रमण की तैयारी के लिए और एशिया-प्रशांत क्षेत्र में यथास्थिति को बदलने के लिए द्वीप को घेरने वाले हवाई और समुद्री अभ्यास का उपयोग करने का आरोप लगाया है.

एएफपी की रिपोर्ट के अनुसार, वू ने ताइपे में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा, “चीन ने ताइवान पर आक्रमण की तैयारी के लिए अभ्यास और अपनी सैन्य प्लेबुक का इस्तेमाल किया है.”

उन्होंने आगे कहा की, “यह ताइवान (Taiwan) में सार्वजनिक मनोबल को कमजोर करने के लिए बड़े पैमाने पर सैन्य अभ्यास और मिसाइल लॉन्च, साथ ही साइबर हमले, एक दुष्प्रचार अभियान और आर्थिक जबरदस्ती कर रहा है.”

मंत्री ने चीन की निंदा भी की कि वह एक दिन पहले समाप्त होने का आश्वासन देने के बावजूद सोमवार को अपना अभ्यास जारी रखे. उन्होंने कहा कि पीएलए (PLA) के सैन्य अभ्यास ने दुनिया के सबसे व्यस्त शिपिंग और हवाई मार्गों में से एक को बाधित किया.

अभी भी चल रहा चीन का सैन्य अभ्यास

ताइवान की शिकायत यही है की, चीन का सैन्य अभ्यास अभी भी चल रहा है. बता दें की, द्वीप पर संभावित आक्रमण के खिलाफ तैयारी के लिए ताइवान की सेना द्वारा अपनी लाइव-फायर ड्रिल आयोजित करने के कुछ घंटे बाद वू की प्रेस कॉन्फ्रेंस हुई थी.

ताइवान की आठवीं सेना कोर के प्रवक्ता लू वोई-जे ने कहा कि लक्ष्य फ्लेयर्स और तोपखाने की गोलीबारी के साथ 0040 GMT के तुरंत बाद दक्षिणी काउंटी पिंगटुंग में सैन्य अभ्यास शुरू हुआ था. उन्होंने कहा कि सैन्य अभ्यास लगभग 0130 GMT पर समाप्त होने की उम्मीद है.

सेना ने कहा कि ताइपे के अभ्यास, जो गुरुवार को फिर से होंगे, उसमें सैकड़ों सैनिकों की तैनाती और लगभग 40 हॉवित्जर शामिल हैं. हालांकि ताइपे का अभ्यास चीन के युद्ध खेलों को समाप्त करने के कुछ घंटों बाद हुआ. लू ने कहा कि सैन्य अभ्यास निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार हो रहा था. ये चीन के अभ्यास के जवाब में आयोजित नहीं किया जा रहा था.

चीन और अमेरिका आए आमने-सामने

मिली जानकारी के मुताबिक, चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) ने पिछले गुरुवार को अमेरिकी हाउस स्पीकर नैन्सी पेलोसी के द्वीप पर उग्र प्रतिक्रिया में ताइवान को घेरने वाले सैन्य अभ्यास शुरू कर दिया था. अभ्यास शुरू करने के कुछ दिनों बाद, अमेरिका से ताइवान तक 25 वर्षों में सबसे उच्च स्तर का सैन्य अभ्यास शुरू किया.

इस यात्रा ने चीन को नाराज कर दिया क्योंकि उसने इस यात्रा को “वन चाइना पॉलिसी” के उल्लंघन के रूप में देखा. युद्ध के खेल छह क्षेत्रों पर केंद्रित थे जो अनिवार्य रूप से ताइवान को घेरते थे. क्षेत्र में नागरिक जहाजों और विमानों तक पहुंच को प्रतिबंधित करते थे. क्योंकि बलों ने लाइव-फायर ड्रिल और मिसाइल लॉन्च किया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published.