Google के सीईओ Sundar Pichai पद्म भूषण से हुए सम्मानित, कहा 'भारत मेरा हिस्सा है'

Sundar Pichai: गूगल और अल्फाबेट के सीईओ सुंदर पिचाई (Sundar Pichai) को अमेरिका में भारतीय दूत द्वारा शनिवार को भारत के तीसरे सबसे बड़े नागरिक पुरस्कार पद्म भूषण से सम्मानित किया गया है. उन्हें 17 पुरस्कार विजेताओं में से एक नामित किया गया था.

प्रतिष्ठित पुरस्कार स्वीकार करते हुए पिचाई (Sundar Pichai) ने कहा, “भारत मेरा एक हिस्सा है और मैं जहां भी जाता हूं इसे अपने साथ ले जाता हूं.” उन्हें व्यापार और उद्योग श्रेणी में 2022 के लिए पद्म भूषण से सम्मानित किया गया है. उन्होंने सैन फ्रांसिस्को में अपने करीबी परिवार के सदस्यों की उपस्थिति में यह पुरस्कार प्राप्त किया.

Sundar Pichai देश के सर्वोच्च अवार्ड से हुए सम्मानित

NDTV से मिली जानकारी के मुताबिक, गूगल और अल्फाबेट के सीईओ सुंदर पिचाई (Sundar Pichai) ने अमेरिका में भारत के राजदूत तरणजीत सिंह संधू से पुरस्कार स्वीकार करते हुए कहा की, “भारत मेरा एक हिस्सा है और मैं जहां भी जाता हूं इसे अपने साथ ले जाता हूं. मैं इस अपार सम्मान के लिए भारत सरकार और भारत के लोगों का बहुत आभारी हूं. मुझे आकार देने वाले देश द्वारा इस तरह से सम्मानित किया जाना अविश्वसनीय रूप से सार्थक है.”

आगे उन्होंने (Sundar Pichai) कहा की, “मैं एक ऐसे परिवार में बड़ा होने के लिए भाग्यशाली था. जिसने सीखने और ज्ञान को पोषित किया. माता-पिता के साथ जिन्होंने यह सुनिश्चित करने के लिए बहुत त्याग किया कि मुझे अपनी रुचियों का पता लगाने के अवसर मिले.”

Google के सीईओ Sundar Pichai पद्म भूषण से हुए सम्मानित, कहा 'भारत मेरा हिस्सा है'
Google के सीईओ Sundar Pichai पद्म भूषण से हुए सम्मानित, कहा ‘भारत मेरा हिस्सा है’

भारतीय राजदूत तरनजीत सिंह संधू ने कहीं ये बातें

गूगल सीईओ पिचाई (Sundar Pichai) ने आगे कहा कि तकनीकी परिवर्तन की तेज़ गति को देखने के लिए वर्षों में कई बार भारत लौटना आश्चर्यजनक रहा है. उन्होंने कहा कि भारत में किए गए नवाचार (innovations) दुनिया भर के लोगों को लाभान्वित कर रहे हैं. डिजिटल भुगतान से लेकर आवाज प्रौद्योगिकी (voice technology) तक भारत ने तरक्की की है.

इस अवसर पर सैन फ्रांसिस्को में भारत के महावाणिज्यदूत (Consul General) टी वी नागेंद्र प्रसाद (T V Nagendra Prasad) उपस्थित थे. भारतीय राजदूत तरनजीत सिंह संधू ने कहा कि, “सुंदर पिचाई (Sundar Pichai) परिवर्तन के लिए प्रौद्योगिकी की असीम संभावनाओं का प्रतिनिधित्व करते हैं.”

भारत और गूगल के बीच जारी रहेगी महान साझेदारी

उन्होंने कहा, “वह दुनिया के विभिन्न हिस्सों में समाज के विभिन्न वर्गों के लिए डिजिटल उपकरण और कौशल को सुलभ बनाने की दिशा में सराहनीय प्रयास कर रहे हैं.” प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 3एस- गति, सरलता और सेवा (3Ss – speed, simplicity and service) को संयोजित करने वाली प्रौद्योगिकी के दृष्टिकोण को याद करते हुए भारतीय राजदूत तरनजीत सिंह संधू ने आशा व्यक्त की कि गूगल भारत में हो रही डिजिटल क्रांति का पूरा उपयोग करेगा.

गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई ने कहा की, “मैं Google और भारत के बीच महान साझेदारी को जारी रखने की आशा करता हूं. क्योंकि हम प्रौद्योगिकी के लाभों को अधिक लोगों तक पहुंचाने के लिए मिलकर काम कर रहें हैं.” सीईओ पिचाई ने आगे कहा की, “प्रधानमंत्री मोदी की डिजिटल इंडिया दृष्टि निश्चित रूप से उस प्रगति के लिए ज़रूरी रही है. और मुझे गर्व है कि Google भारत में निवेश करना जारी रखे है. और साथ ही गूगल सरकारों, व्यवसायों और समुदायों के साथ साझेदारी करता है.”

Leave a Reply