Sri Lanka: भारत ने श्री लंका की बड़ी मदद की, 40,000 मीट्रिक टन डीजल की खेप भेजीं

श्री लंका (Sri Lanka) को भारत की तरफ़ से बड़ी मदद की गई है. बता दें की, भारत(India) लगातार श्री लंका(Sri Lanka) की मदद का कर रहा है.  भारतीय सहायता के तहत 40 हज़ार मीट्रिक टन के डीजल की खेप गुरूवार को कोलंबो(Colombo) पहुँच गई है.

कितनी मदद की भारत ने अपने पड़ोसी देश की

भारत भीषण आर्थिक संकट से जूझ रहे अपने पड़ोसी देश की मदद के लिए हाथ बढ़ा रहा है. ANI न्यूज़ एजेंसी की ख़बर के अनुसार, भारत ने श्री लंका को आर्थिक, रसोई गैस और बड़ी मात्रा में ईंधन भेज कर सहायता की है. इसके साथ ही धन संकट वाली श्री लंका(Sri Lanka) सरकार को बचाने के लिए भारत ने श्री लंका(Sri Lanka) को कई अरब अमेरिकी डॉलर की सहायता भी की है.

इन्ही सभी चीजों के चलते, भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी(PM Modi) ने कहा था की भारत ने श्री लंका को हर संभव मदद प्रदान की है और हमेशा अपने पड़ोसी देश के लोगो के साथ कंधे से कंधा मिला कर खड़ा रहेगा. इसके साथ ही PM Modi ने ये भी कहा थी की, भारत श्री लंका के लोकतंत्र, स्थिरता और आर्थिक सुधार का समर्थन करेगा.

श्री लंका को भेजा गया था 50,000 मीट्रिक टन चावल

बता दें की, मुसीबत में फंसे श्री लंका(Sri Lanka) को भारत ने भारतीय ऋण सहायता के तहत 50 हज़ार मीट्रिक टन चावल भेजा था. अंतरराष्ट्रीय मीडिया के मुताबिक, विक्रमसिंघे ने कहा कि अगला शिपमेंट चार महीने की अवधि के लिए एलपीजी वितरित करेगा. उन्होंने बताया कि वो शिपमेंट हमें मिलने में अभी 14 दिन लगेंगे. पीएम ने कहा कि श्रीलंका उन 14 दिनों के भीतर शिपमेंट को सुरक्षित करने के लिए बातचीत कर रहा है.

ख़बरों की माने तो, श्रीलंका(Sri Lanka) के प्रधानमंत्री रानिल विक्रमसिंघे(Ranil Wickremesinghe) ने मंगलवार को जाफना से भारत(India) के लिए जल्द ही उड़ानें फिर से शुरू करने की घोषणा की है. उन्होंने अपने पर्यटन विभाग से अधिक-से-अधिक भारतीय पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए योजना बनाने को कहा है.

Leave a Reply