September 25, 2022
Sri Lanka Crisis: श्रीलंका ने इस साल क़र्ज़ चुकाने के लिए 5 अरब डॉलर का लक्ष्य रखा है

Sri Lanka Crisis: श्रीलंका ने इस साल क़र्ज़ चुकाने के लिए 5 अरब डॉलर का लक्ष्य रखा है

श्रीलंका(Sri Lanka) के नए प्रधानमंत्री रानिल विक्रमसिंघे(Ranil Wickremesinghe) ने श्रीलंका के हित में कुछ बड़े फैसले लिए हैं. रानिल विक्रमसिंघे ने गुरुवार को संयुक्त मंडलों(United Chambers) के प्रतिनिधियों के साथ एक बैठक के दौरान बताया कि सरकार के दुबारा भुगतान करने के लिए 5 बिलियन अमरीकी डालर और देश के भंडार को बढ़ाने के लिए 1 बिलियन अमरीकी डालर का लक्ष्य बना रही है.
Spread the love

श्रीलंका(Sri Lanka) के नए प्रधानमंत्री रानिल विक्रमसिंघे(Ranil Wickremesinghe) ने नया लक्ष्य रखा है. रूस और यूक्रेन युद्ध की मार पूरी दुनिया पर पड़ रही हैै. यूरोप में एनर्जी क्राइसिस है, अमेरिका में महंगाई बढ़ रही है वहीं भारत जैसे देश बढ़ती तेल की कीमतों से परेशान है. ऐसे में पहले से ही आर्थिक रूप से कंगाल हो चुके श्रीलंका को रूसी युद्ध से बड़ा फायदा मिल रहा है. दरअसल श्रीलंका में बीते 1 हफ्ते से पेट्रोल पूरी तरह से खत्म हो चुका है, वहीं डीजल के सीमित स्टॉक ही बचे हैं.

Sri Lanka के नए प्रधामंत्री ने लिया बड़ा फ़ैसला

श्रीलंका(Sri Lanka) के नए प्रधानमंत्री रानिल विक्रमसिंघे(Ranil Wickremesinghe) ने श्रीलंका के हित में कुछ बड़े फैसले लिए हैं. रानिल विक्रमसिंघे ने गुरुवार को संयुक्त मंडलों(United Chambers) के प्रतिनिधियों के साथ एक बैठक के दौरान बताया कि सरकार के दुबारा भुगतान करने के लिए 5 बिलियन अमरीकी डालर और देश के भंडार को बढ़ाने के लिए 1 बिलियन अमरीकी डालर का लक्ष्य बना रही है.

इसके अलावा बैठक के दौरान विक्रमसिंघे(Ranil Wickremesinghe) ने विस्तार से बताया कि अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष(international monetary fund) के साथ बातचीत जारी है और उन्हें उम्मीद है कि वार्ता इसी महीने खत्म हो जाएगी.

श्रींलंका के प्रधानमंत्री ने बताया की वित्तीय और कानूनी सलाहकारों की नियुक्ति के बाद श्रीलंका क़र्ज़ चुकाने के लिए अब तैयार है और अब उसको लोन चुकाने के लिए कुछ समय भी मिल गया है. श्रीलंका के प्रधान मंत्री ने आगे कहा कि संकट को कम करने में मदद करने के लिए IMF के साथ समझौते पर निर्भर है. 

आगे टिप्पणी करते हुए, प्रधान मंत्री विक्रमसिंघे ने कहा कि लोन देने वाल देशों के साथ बातचीत जारी है. उन्होंने कहा कि जापान(Japan) के साथ संबंध टूट गए हैं और उन संबंधों को सुधारने और उनका विश्वास हासिल करने में कुछ समय लगेगा. दवा की कमी के संबंध में, प्रधान मंत्री ने बताया कि मालदीव के पूर्व राष्ट्रपति मोहम्मद नशीद(Mohamed Nasheed) जिन्हें 19 मई को द्वीप राष्ट्र के लिए राहत प्रयासों के समन्वय के लिए नियुक्त किया गया था, तत्काल आवश्यक चिकित्सा आपूर्ति के लिए अंतर्राष्ट्रीय अपील का नेतृत्व कर रहे थे.

श्रीलंका में मंत्रिमंडल ने दिया सामूहिक दिया था इस्तीफा

श्रीलंका(sri lanka) में आर्थिक संकट की वजह से लोगों की नाराजगी को देखते हुए सरकार के सभी 26 मंत्रियों ने इस्तीफा दे दिया था. केवल राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे और प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे ने इस्तीफा नहीं दिया था. गोटबाया ने जल्द बनने वाली सर्वदलीय सरकार में विपक्षी नेताओं को भी शामिल होने का न्योता दिया था. इससे पहले अपने घर के बाहर हो रहे विरोध प्रदर्शन को देखते हुए गोटबाया ने देश में आपातकाल लागू कर दिया था, जिसे अब हटा दिया गया था.

श्रीलंकाSri lanka) में महंगाई इस कदर ऊपर पहुंच गई है कि वहां चावल 220 रुपए प्रति किलो और गेहूं 190 रुपए प्रति किलो की दर से बिक रहा हैथा. वहीं, एक किलोग्राम चीनी की कीमत 240 रुपए, नारियल तेल 850 रुपए प्रति लीटर, जबकि एक अंडा 30 रुपए और 1 किलो मिल्क पाउडर की रिटेल कीमत 1900 रुपए तक पहुंच गई थी. पिछले हफ्ते 12.5 किलो गैस सिलेंडर की कीमत 4200 रुपए हो गई थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.