September 26, 2022
Sourav Ganguly

Sourav Ganguly

गांगुली के राजनीति में जाने की अटकले लगायी जा रही हैं, जिसमें कुछ सच्चाई भी है | पिछले दिनों केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने दो दिवसीय पश्चिम बंगाल दौरे के आखिरी दिन बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली से मुलाकात की थी। यह मुलाकात सौरव गांगुली के आवास पर हुई थी। इस दौरान शाह और गांगुली ने साथ में डिनर भी किया था।
Spread the love

भारतीय क्रिकेट टीम के महानतम कप्तानों में शुमार मौजूदा बीसीसीआइ (BCCI) अध्यक्ष सौरव गांगुली नई शुरुआत करने जा रहे हैं। सोशल मीडिया पर एक खास संदेश जारी करने के साथ उन्होंने अपने फैंस से समर्थन मांगा और कहा कि वह आज एक नई शुरुआत करने जा रहे हैं। अब यह शुरुआत क्या है इसका खुलासा तो उन्होंने नहीं किया लेकिन कयास उनके राजनीति में आने के लगाए जा रहे हैं।

गांगुली ने लिखा, “साल 1992 में मैंने अपनी यात्रा शुरू की थी 2022 मेरे क्रिकेट करियर के 30 साल पूरे होने का साल है। तब से अब तक क्रिकेट ने मुझे काफी कुछ दिया है। सबसे अहम कि इसने मुझे आप सभी का समर्थन दिलाया है। मैं हर एक समर्थक का आज शुक्रिया करना चाहता हूं जिन्होंने भी मेरी इस यात्रा में भागीदारी दी और मुझे वहां पहुंचाया जहां आज हूं। आज मैं एक ऐसी चीज को शुरू करने की योजना बना रहा हूं जिससे मुझे उम्मीद है कि काफी सारे लोगों को फायदा पहुंचेगा। मैं उम्मीद करता हूं कि मेरे जीवन के इस नए अध्याय में आपका साथ मिलेगा।”

Tweet के कारण सोशल मीडिया पर राजनीति की अटकले

सौरव ने अपने ट्वीट में लिखा कि साल 2022 मेरी क्रिकेट यात्रा का 30वां साल है। अब मैं कुछ ऐसा करना चाहता हूं, जिससे लोगों का भला हो। इसके बाद कहा जाने लगा कि सौरव ने BCCI अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया है। लेकिन, थोड़ी ही देर बाद बोर्ड के सेक्रेटरी जय शाह ने न्यूज एजेंसी एएनआई को दिए बयान में स्पष्ट किया कि सौरव गांगुली ने अध्यक्ष पद से इस्तीफा नहीं दिया है। सौरव गांगुली 2019 से BCCI के अध्यक्ष हैं।

गांगुली के राजनीति में जाने की अटकले लगायी जा रही हैं, जिसमें कुछ सच्चाई भी है | पिछले दिनों केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने दो दिवसीय पश्चिम बंगाल दौरे के आखिरी दिन बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली से मुलाकात की थी। यह मुलाकात सौरव गांगुली के आवास पर हुई थी। इस दौरान शाह और गांगुली ने साथ में डिनर भी किया था।

इस दौरान पश्चिम बंगाल बीजेपी के अध्यक्ष डॉ सुकांत मजूमदार, नेता प्रतिपक्ष शुभेंदु अधिकारी और स्वपन दास गुप्ता समेत अन्य नेता भी मौजूद थे | अमित शाह से मुलाकात को लेकर गांगुली से जब सवाल किया गया था तो उन्होंने कहा था कि डिनर को लेकर राजनीतिक मायने नहीं निकाले जाने चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.