Solar Car: जम्मू-कश्मीर के गणित शिक्षक ने बनाई इलेक्ट्रिक सोलर कार

Solar Car: सोलर कार (Solar Car) बनाने के लिए जम्मू-कश्मीर (Jammu & Kashmir) के एक शिक्षक को सभी सरहा रहें हैं. ANI की रिपोर्ट्स की माने तो, जम्मू-कश्मीर (Jammu & Kashmir) के इन शिक्षक ने इलेक्ट्रिक कार का आविष्कार किया है जो सौर ऊर्जा (Solar energy) से चलती है. जम्मू और कश्मीर के तंगमर्ग के रहने वाले बिलाल अहमद (Bilal Ahemad) इस परियोजना पर 13 साल से अधिक समय से काम कर रहे हैं और आखिरकार, उन्होंने यह मुकाम हासिल किया.

बिलाल अहेमद की हो रही वाहवाही

ANI की रिपोर्ट की मुताबिक, जम्मू और कश्मीर (Jammu & Kashmir) के तंगमर्ग (Tangmarg) के रहने वाले बिलाल अहमद (Bilal Ahemad) इस परियोजना पर 13 साल से अधिक समय से काम कर रहे हैं. एएनआई (ANI) से बात करते हुए, अहमद (Bilal Ahemad) ने कहा कि वह विकलांगों के लिए एक कार बनाना चाहते थे, लेकिन आर्थिक तंगी के कारण ऐसा नहीं कर सके.

इसके अलावा बिलाल अहेमद (Bilal Ahemad)  ने कहा की, “मैं विकलांग लोगों के लिए एक कार बनाना चाहता था लेकिन आर्थिक तंगी ने इसे मुश्किल बना दिया. सोलर कार (Solar Car) के विचार ने मुझे यह सोचने पर मजबूर कर दिया कि यह मुफ्त ऊर्जा है. और हाल ही में मैंने अखबारों में भी पढ़ा कि 10 साल में पेट्रोल (Petrol) की कीमतें बढ़ने की उम्मीद है.

कारें देखने और उनके बारे में पढने का शौख रखते हैं बिलाल

बिलाल अहेमद (Bilal Ahemad) का कहना है की, 1950 से बनी कारों को देखने और पढ़ने का शौख रहा है उनको. बिलाल का कहना है की वो इस धारणा को तोड़ना चाहतें हैं, कि केवल अभिजात वर्ग ही शानदार सवारी कर सकता है. अहमद ने एक सौर कार (Solar Car) बनाई जो न केवल एक शानदार अनुभव देती है बल्कि आम लोगों के लिए भी सस्ती है.

इसके बाद बिलाल बताते हैं की, “मैंने लोगों को एक शानदार अनुभव देने के लिए कुछ सोचा और कार पर काम करना शुरू कर दिया और विभिन्न वीडियो देखकर इसे संशोधित किया और इसमें सुविधाओं को जोड़ना शुरू कर दिया.” बिलाल के इस कदम की जमकर तारीफ़ भी की जा रही है.

Leave a Reply