September 26, 2022
Shinzo Abe: जापान के पूर्व Pm की मौत की हुई पुष्टि, उनकी श्रद्धांजलि में भारत में 9 जुलाई को राष्ट्रीय शोक

Shinzo Abe: जापान के पूर्व Pm की मौत की हुई पुष्टि, उनकी श्रद्धांजलि में भारत में 9 जुलाई को राष्ट्रीय शोक

Spread the love

जापान (Japan) के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे (Shinzo Abe) के ऊपर एक कार्यक्रम के दौरान गोली चली थी. जिसमे सुबह उनके घायल होने की ख़बर सामने आई थी. लेकिन उनकी हालत गंभीर होने के कारण आज उनकी मौत हो गई. जिसके चलते प्रधानमंत्री मोदी (PM Modi) ने भी दुःख व्यक्त किया है और इस बात की घोषणा की है कि उनको श्रद्धांजलि देने के लिए भारत 9 जुलाई को राष्ट्रीय शोक दिवस मनाएगा.

भारत को भी इस ख़बर से लगा धक्का

ANI की ख़बर के मुताबिक, जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे (Shinzo Abe) की शुक्रवार को संसदीय चुनाव (parliamentary election) के प्रचार के दौरान गोली लगने से मौत हो गई. पश्चिमी शहर नारा (Nara) के एक नीरस यातायात द्वीप पर बोलते हुए एक व्यक्ति ने 67 वर्षीय शिंजो आबे (Shinzo Abe) पर गोली चला दी और वो तुरंत जमीन पर गिर गए.

बता दें की, हमले के तुरंत बाद आबे को अस्पताल ले जाया गया. उसके बाद पुलिस ने आबे पर हमला करने वाले शख्स को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस ने संदिग्ध शूटर की पहचान नारा (Nara) निवासी तेत्सुया यामागामी (Tetsuya Yamagami) के रूप में की है. इसके बाद शाम को ख़बर आई की उनकी मौत की पुष्टि भी हो गई. भारत समेत कई देशों ने दुःख व्यक्त किया है.

अधिकारिक ख़बर के मुताबिक, जापान (Japan) के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे के सम्मान में भारत (India) ने 9 जुलाई को एक दिन के राजकीय शोक की घोषणा की है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने दुःख व्यक्त करते हुए ट्वीट किया की, “पूर्व प्रधान मंत्री #शिंजोआबे के प्रति हमारे गहरे सम्मान के प्रतीक के रूप में, 9 जुलाई 2022 को एक दिवसीय राष्ट्रीय शोक मनाया जाएगा.”

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने व्यक्त किया दुःख 

जापान (Japan) के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे की मौत की अधिकारिक जानकारी मिलते ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने ट्वीट कर अपना दुःख जाहिर किया है. पीएम मोदी (PM Modi) ने लिखा,

“मैं अपने सबसे प्यारे दोस्तों में से एक शिंजो आबे के दुखद निधन पर स्तब्ध और दुखी हूं. वह एक महान वैश्विक राजनेता, एक उत्कृष्ट नेता और एक उल्लेखनीय प्रशासक थे. उन्होंने जापान और दुनिया को एक बेहतर जगह बनाने के लिए अपना जीवन समर्पित कर दिया.”

मीडिया रिपोर्ट्स में ऐसा कहा गया था की, शिंजो आबे पर हमले के बाद, उनको अस्पताल ले जाया गया और बताया गया की पूर्व जापानी पीएम को सीने में गोली मारी गई है. उन्होंने उसकी स्थिति को “कार्डियोपल्मोनरी अरेस्ट” के रूप में बताया.

नारा मेडिकल यूनिवर्सिटी अस्पताल ने की पुष्टि

नारा मेडिकल यूनिवर्सिटी अस्पताल के अधिकारियों के अनुसार, आबे की शाम 5:03 बजे (स्थानीय समयानुसार) मृत्यु हो गई और उनकी गर्दन में दो गोलियां भी लगीं थी. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी दुःख प्रकट करते हुए कहा की, “जापान के पूर्व प्रधान मंत्री शिंजो आबे के निधन से गहरा दुख हुआ. भारत और जापान के बीच सामरिक संबंधों को मजबूत करने में उनकी भूमिका सराहनीय थी. वह हिंद-प्रशांत में एक स्थायी विरासत छोड़ गए हैं. उनके परिवार और जापान के लोगों के प्रति मेरी संवेदनाएं हैं.”

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने लिखा की, “जापान के पूर्व पीएम शिंजो आबे के निधन से गहरा दुख हुआ. भारत और जापान के बीच सामरिक संबंधों को मजबूत करने में उनकी भूमिका सराहनीय थी. वह हिंद-प्रशांत में एक स्थायी विरासत छोड़ गए हैं. उनके परिवार और जापान के लोगों के प्रति मेरी संवेदनाएं.”

Leave a Reply

Your email address will not be published.