Sadhguru का बयान भारत में पिछले 10 वर्षों में कोई बड़ा दंगा नहीं हुआ

ईशा फाउंडेशन(Isha Foundation) के संस्थापक सद्गुरु जग्गी वासुदेव(Sadhguru) ने देश में धार्मिक असहिष्णुता के बढ़ने की बात से इनकार किया है. एएनआई(ANI) से बातचीत में उन्होंने कहा कि टेलीविजन स्टूडियो में बहुत गर्मी है, जिसे यह बताने के लिए अतिरंजित किया जा रहा है कि देश में धार्मिक असहिष्णुता बढ़ रही है. सच्चाई यह है कि पिछले एक दशक में बड़ी सांप्रदायिक हिंसा से मुक्त रहा है.

देश में दस साल से नहीं हुए दंगे- सद्गुरु जग्गी वासुदेव

ईशा फाउंडेशन के संस्थापक सद्गुरु(Sadhguru) ने ग्रेजुएशन के दिनों को याद किया जब सांप्रदायिक हिंसा की घटनाओं को सामान्य माना जाता था.

उन्होंने कहा, “मुझे लगता है कि पिछले 25 वर्षों में इन चीजों (सांप्रदायिक हिंसा) में काफी कमी आई है. जब हम विश्वविद्यालय में थे, तो एक भी साल नहीं था जब देश में कोई बड़ा सांप्रदायिक दंगा नहीं हुआ हो. मैंने (सांप्रदायिक हिंसा के बारे में) 5-6 वर्षों में नहीं सुना है या शायद 10 वर्षों में. आपने ऐसी बातें नहीं सुनी हैं. दुर्भाग्य से कुछ फ्लैशप्वाइंट हुए हैं, लेकिन बड़ी सांप्रदायिक हिंसा नहीं हुई. जैसा कि हम सोचते थे कि इसका सामना करना देश के लिए सामान्य बात है.”

आध्यात्मिक नेता ने हिंसा में शामिल लोगों के खिलाफ कार्रवाई की पुरजोर वकालत की. उन्होंने कहा कि धार्मिक मुद्दों पर टीवी स्टूडियो में चर्चा अतिशयोक्ति के साथ हो रही है. कुछ आम सहमति के मुद्दे हैं जहां कुछ बहस चल रही है. वे सभी कानून की अदालत में हैं. आपको कानून को अपने रास्ते पर जाने देना चाहिए. उन्होंने कहा, “जब एक बार आप गति प्राप्त कर लेते हैं, तो लोग हर जगह जाने के लिए उत्साहित होते हैं. अगर क्षेत्र में चुनाव या कुछ और होता है, तो इन चीजों का इस्तेमाल किया जाता है.”

सद्गुरु(Sadhguru) ने कहा, “मुझे लगता है कि हम चीजों को थोड़ा बढ़ा-चढ़ाकर पेश करते हैं. हां, कुछ मुद्दे हैं जिन पर बहस हुई है और टेलीविजन चैनलों पर बहुत गर्मी है. आप इसे सड़क पर कहीं भी नहीं देखते हैं. आप दिल्ली भर में चलते हैं या देश के किसी भी गांव में ऐसी कोई असहिष्णुता या हिंसा या कुछ भी नहीं है.” सद्गुरु(Sadhguru) नहीं चाहते कि उनके लोग आपस में झगड़ें. उनके पास समय और धैर्य नहीं है और न ही वे उस दिशा में जाने का इरादा रखते हैं.

Read Also –Myanmar: कई साल बाद शुरू हुई म्यांमार में मौत की सजा, पूर्व सांसद समेत 4 लोगों को दी जाएगी फांसी

मिट्टी बचाओ अभियान के 50 दिन पूरे होने पर Sadhguru ने कहीं बड़ी बातें

मिट्टी बचाओ अभियान के 50 दिन पूरे होने के बाद सद्गुरु जग्गी महाराज कृषि योग्य भूमि के महत्व को समझाने के लिए जयपुर से दिल्ली जाते समय बहरोड़ रूके. जहां पर उनका स्वागत कार्यक्रम किया गया. किसानों को संबोधित करते हुए जग्गी महाराज ने कहा कि दुनिया में मिट्टी का संकट बढ़ रहा (Sadhguru Jaggi Vasudev message on saving soil) है. इस पर तत्काल ध्यान देना चाहिए. जिससे संपदा भी बचेगी और किसानों को फायदा भी होगा.

सद्गुरु(Sadhguru) ने मार्च महीने में 100 दिन की 30000 किलोमीटर के मोटरसाइकिल यात्रा ‘जर्नी टू सेव सॉइल’ (Journey To Save Soil campaign) की शुरुआत की थी. यह यात्रा शनिवार को बहरोड़ पहुंची थी, जहां पर किसानों का कार्यक्रम रखा गया था. किसानों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि मिट्टी बचाना ही उनका पहला उद्देश्य है. जिससे किसानों की उपज बढ़ेगी. किसानों को खेती करने के लिए जैविक खाद का उपयोग करना चाहिए.

Leave a Reply