Ukraine War के बीच रूस एक बार फिर से पश्चिमी देशों के टकराव की स्थिति में आ सकता है |

Ukraine War के बीच रूस एक बार फिर से पश्चिमी देशों के टकराव की स्थिति में आ सकता है | बेलारूस के राष्ट्रपति द्वारा परमाणु हथियारों से लैस नाटो उड़ानों के बेलारूसी सीमा के करीब उड़ान भरने की शिकायत के बाद रूस बेलारूस को परमाणु हथियार ले जाने में सक्षम मिसाइलों की आपूर्ति करेगा।

राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin ) ने शनिवार को मास्को में बेलारूसी नेता अलेक्जेंडर लुकाशेंको (Alexander Lukashenko) की अगवानी के दौरान यह घोषणा की।

NATO की गतिविधियों से भयभीत है बेलारूस

पुतिन ने लुकाशेंको के साथ सेंट पीटर्सबर्ग में अपनी बैठक की शुरुआत में रूसी टेलीविजन पर एक प्रसारण में कहा “आने वाले महीनों में, हम बेलारूस को इस्कंदर-एम (Iskander-M ) सामरिक मिसाइल प्रणालियों को स्थानांतरित करेंगे, जो पारंपरिक और परमाणु संस्करणों में बैलिस्टिक या क्रूज मिसाइलों का उपयोग कर सकते हैं”

पुतिन के साथ बैठक में, लुकाशेंको ने बेलारूस के पड़ोसियों लिथुआनिया और पोलैंड की “आक्रामक”, “टकराव” और “प्रतिकारक” नीतियों के बारे में चिंता व्यक्त की।

लुकाशेंको ने पुतिन से अपने देश बेलारूस की सीमाओं के पास अमेरिका के नेतृत्व वाले नाटो गठबंधन द्वारा परमाणु हथियारों से लैस उड़ानों के जवाब देने के लिए उचित सिस्टम माउंट करने में मदद करने के लिए कहा।

Ukraine war के बीच बेलारूस को हथियार देगा रूस

पुतिन ने यूक्रेन को लेकर पश्चिम देशों के साथ बढ़ते तनाव के बीच बेलारूसी युद्धक विमानों को परमाणु हथियार ले जाने में सक्षम बनाने के लिए उन्हें अपग्रेड करने की पेशकश की है ।

पिछले महीने लुकाशेंको ने कहा था कि उनके देश ने रूस से इस्कंदर परमाणु सक्षम मिसाइलें और एस-400 एंटी-एयरक्राफ्ट एंटी-मिसाइल सिस्टम खरीदे हैं।

“कई रुस द्वारा निर्मित Su-25 विमान बेलारूसी सेना के साथ सेवा में हैं। जिन्हे रूस द्वारा उचित तरीके से उन्नत किया जायेगा।

“यह आधुनिकीकरण रूस के विमान कारखानों में किया जाने की सम्भावना है और कर्मियों का प्रशिक्षण उसी के अनुसार शुरू होगा |

 

By Satyam

Leave a Reply