September 25, 2022
Rishi Sunak: भारतीय मूल के ऋषि सुनक बनेंगे ब्रिटेन के अगले प्रधानमंत्री ?

Rishi Sunak: भारतीय मूल के ऋषि सुनक बनेंगे ब्रिटेन के अगले प्रधानमंत्री ?

Spread the love

Rishi Sunak: ब्रिटेन (Britain) में सियासी खीचा तानी के बाद अब सब कुछ सही होता दिखा रहा है. पूर्व प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन (Boris Johnson) के इस्तीफ़े के बाद से अब ब्रिटेन के अगले प्रधानमंत्री की दौड़ शुरू हो चुगी है. बता दें की, ब्रिटेन (Britain) के प्रधानमंत्री की रेस में भारतीय मूल (Indian-origin) के ऋषि सुनक (Rishi Sunak)  सबसे आगे पहुंच गए हैं.

क्या ऋषि सुनक के नाम पर लगेगी मोहर

ब्रिटेन में प्रधानमंत्री चुनने की प्रक्रिया शुरू हो चुगी है. भारतीय मूल (Indian-Origin) के और पूर्व चांसलर ऋषि सनक (Rishi Sunak) प्रधानमंत्री पद के सबसे मजबूत दावेदार के रूप में उभर रहें हैं. बता दें की, उन्होंने पहले दौर के मतदान में पहला स्थान हासिल किया है. मिली जानकारी के मुताबिक, ब्रिटेन के पूर्व वित्त मंत्री ऋषि सुनक ने 88 सांसदों को मत जुटा लिया है. जबकि दूसरे नंबर पर पेनी मोरदाउंत (Penny Mordaunt) को 67 वोट मिले हैं.

इसी के साथ बता दें की, विदेश सचिव लिज़ ट्रस (50 वोट), पूर्व समानता मंत्री केमी बैडेनोच (40 वोट) शामिल हैं. बैकबेंच विधायक टॉम तुगेंदत (37 वोट) और अटॉर्नी जनरल सुएला ब्रेवरमैन (32 वोट) शामिल हैं. पहले दौर की वोटिंग से पहले पीएम पद की दौड़ में आठ नाम शामिल थे. ऋषि को कंजर्वेटिव पार्टी का उभरता सितारा माना जाता है. ऋषि (Rishi Sunak) 2015 में पहली बार सांसद चुने गए थे.

2018 में में मंत्री बने. इसके बाद 2019 में उनको ट्रेजरी का चीफ सेक्रेटरी बनाया गया. ऋषि सुनक का बोरिस जॉनसन (Boris Johnson) के प्रधानमंत्री बनने में भी अहम रोल रहा है. उनको मीडिया इंटरव्यूज में भी अक्सर देखा जाता रहा है. टीवी डिबेट में भी कई दफा नज़र आए हैं ऋषि सुनक.

इंफोसिस के को-फाउंडर के दामाद हैं ऋषि

बता दें की ऋषि सुनक भारतीय मूल के हैं. इसके साथ ही वो भारतीय सॉफ्टवेयर कंपनी इंफोसिस (Infosis) के को-फाउंडर नारायण मूर्ति (N.r. Narayana Murthy) के दामाद भी हैं. ऋषि की पत्नी का नाम अक्षता है. इनकी दो बेटियां हैं. जिनके नाम  कृष्णा और अनुष्का हैं. ऋषि और अक्षता की शादी साल 2009 में हुई थी. मीडिया के हवाले से मिली जानकारी के मुताबिक, ब्रिटेन (Britain) के पीएम पद की दौड़ में दो ब्रिटिश-भारतीय भी शामिल हैं.

बता दें की, पहला नाम पूर्व वित्त मंत्री ऋषि सुनक का है. तो वहीं अगला नाम अटॉर्नी जनरल सुएला ब्रेवरमैन (Suella Braverman) का है. दोनों ही नेताओं की उम्र बराबर है. दोनों ब्रिटेन में जन्मे भारतीय मूल (Indian-Origin) के नेता हैं. ख़बरों की माने तो दोनों ने ही नेताओं ने साल 2016 में ब्रेग्जिट (Brexit) के लिए हुए जनमत संग्रह को लेकर अभियान में हिस्सा लिया था.

ऋषि सुनक ने एक विडियो साझा किया था जिसमे उन्होंने बताया था की, किस तरह 1960 के दशक में अफ्रीका (Africa) के ग्रामीण इलाके में रहने वाली भारतीय मूल की उनकी नानी सृक्षा तंजानिया (Tanzania) के रास्ते ब्रिटेन (Britain) आई थीं. ऋषि सुनक ने बताया की, “वह युवा महिला ब्रिटेन आई यहां उसे नौकरी मिल गई, लेकिन अपने पति और संतान को यहां लाने का इंतजाम करने के लिए उन्हें एक साल तक पैसे जोड़ने पड़े. उनमें से एक संतान मेरी मां थीं, जिनकी उम्र तब 15 साल थी.”

Leave a Reply

Your email address will not be published.