भारतीय मूल के Rishi Sunak बने ब्रिटेन के प्रधानमंत्री

Rishi Sunak: सोमवार (24 अक्टूबर, 2022) को ऋषि सुनक (Rishi Sunak) ब्रिटेन के पहले भारतीय मूल के प्रधानमंत्री बने हैं. वेस्टमिंस्टर के सबसे धनी राजनेताओं में से एक के रूप में जाने जाने वाले, 42 वर्षीय ऋषि सनक देश के सबसे युवा प्रधानमंत्री बन गए हैं. ऋषि सनक को मंगलवार को किंग चार्ल्स द्वारा यूके (UK) का नया पीएम नियुक्त किया जाएगा. ब्रिटिश राजनीतिक इतिहास में ऐसा पहली बार है जब कोई भारतीय मूल का प्रधानमंत्री बना है.

Rishi Sunak के प्रधानमंत्री बनने से है भारतीयों में खुशी की लहर

Dawn से मिली जानकारी के मुताबिक, ऋषि सुनक (Rishi Sunak) ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बन गए हैं. वो पहले  ब्रिटिश-भारतीय प्रधानमंत्री हैं. उनके प्रधानमंत्री बनते ही भारतीयों में भी खुशी की लहर है. सब अब ब्याही उम्मीद लगा रहे हैं की ऋषि कैसे भारत और ब्रिटेन के रिश्तों को मजबूत करेंगे. वो क्या कदम उठाएंगे दोनों देशों के रिश्ते को आगे ले जाने के लिए.

लिज़ ट्रस से उनको अभी कुछ महीने पहले हार का सामना करना पड़ा था. उस वक़्त भी चुनाव में उम्मीद लगाई जा रही थी की ऋषि (Rishi Sunak) ही ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बनेंगे. लेकिन उस वक़्त वो हार गए थे.

भारतीय मूल के Rishi Sunak बने ब्रिटेन के प्रधानमंत्री
भारतीय मूल के Rishi Sunak बने ब्रिटेन के प्रधानमंत्री

लिज़ ट्रस ने ऋषि सुनक को दी बधाई

20 अक्टूबर को यूनाइटेड किंगडम के प्रधानमंत्री के रूप में पद छोड़ने वाली लिज़ ट्रस ने ब्रिटिश के नए प्रधानमंत्री ऋषि सनक (Rishi Sunak) को कंजरवेटिव पार्टी के नेता और ब्रिटेन के अगले प्रधानमंत्री के रूप में चुने जाने पर बधाई दी है.

बता दें की, लिज़ ट्रस ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर ट्वीट कर के कहा की, “ऋषि सुनक को कंजरवेटिव पार्टी के नेता और हमारे अगले प्रधानमंत्री के रूप में नियुक्त किए जाने पर बधाई. आपको मेरा पूरा समर्थन है.”

लिज़ ट्रस का अधिकारिक ट्वीट…

स्थाई मीडिया की माने तो, लिज़ ट्रस विशेष रूप से, कार्यालय में केवल 44 दिनों तक रहीं हैं. जब उन्होंने कहा कि वह इस्तीफा दे देंगी. तब उनके इस फैसले ने सभी को चौका दिया. ब्रिटेन राजनीतिक और आर्थिक उथल-पुथल से जूझ रहा है. लिज़ का कड़ा विरोध भी हो रहा था, की वो देश को संभाल नहीं पा रही हैं. उनके कार्यकाल में कर (Interest) को लेकर जो फैसला लिया गया था. इसका भी वैश्विक स्तर पर कड़ा विरोध हुआ था.

ईमानदारी और विनम्रता के साथ काम करेंगे ऋषि सुनक

प्रधानमंत्री ऋषि सुनक (Rishi Sunak) ने कहा की, “हमें अब स्थिरता और एकता की जरूरत है और मैं अपनी पार्टी और देश को एक साथ लाने को अपनी सर्वोच्च प्राथमिकता बनाऊंगा.” एक सार्वजनिक बयान में, उन्होंने कहा की, “मैं प्रतिज्ञा करता हूं कि मैं ईमानदारी और विनम्रता के साथ आपकी सेवा करूंगा और मैं ब्रिटिश लोगों के लिए दिन-रात काम करूंगा.”

भारतीय सूचना प्रौद्योगिकी बेलवेदर फर्म इंफोसिस लिमिटेड (bellwether firm Infosys Ltd) के सह-संस्थापक एन आर नारायण मूर्ति ने सोमवार को अपने दामाद ऋषि सनक को ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बनने पर बधाई दी है. नारायण मूर्ति ने कहा कि उन्हें विश्वास है कि सुनक देश के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करेंगे. बता दें की ऋषि सुनक की शादी नारायण मूर्ति की बेटी अक्षता मूर्ति से हुई है और उनकी की दो बेटियां हैं. कृष्णा जो 11 वर्ष की हैं और अनुष्का को  9 वर्ष की हैं.

One thought on “भारतीय मूल के Rishi Sunak बने ब्रिटेन के प्रधानमंत्री”

Leave a Reply