September 25, 2022
China's population: रिपोर्ट में दावा 2025 तक घटने लगेगी चीन की जनसंख्या

China's population: रिपोर्ट में दावा 2025 तक घटने लगेगी चीन की जनसंख्या

Spread the love

चीनी अधिकारीयों का कहना है की 2025 तक चीन की आबादी (China’s population) कम होने लगेगी. बता दें की, चीन ने अपने यहां जनसंख्या की रफ्तार सुस्त पड़ने के संकेत दिए हैं.  ग्लोबल टाइम्स अखबार के अनुसार, चीन के जनसांख्यिकी विशेषज्ञों का अनुमान है कि आने वाले वर्षों में नकारात्मक जनसंख्या वृद्धि लंबे समय तक प्रमुखता से देखने को मिलेगी.

क्यों घट रही चीनी जनसंख्या

ग्लोबल टाइम्स अखबार से मिली जानकारी के मुताबिक, दुनिया का सबसे अधिक आबादी वाला देश एक उभरते हुए जनसांख्यिकीय संकट से जूझ रहा है. क्योंकि यह तेजी से उम्र बढ़ने वाले कार्यबल, धीमी अर्थव्यवस्था और दशकों में अपनी सबसे कमजोर जनसंख्या वृद्धि का सामना कर रहा है.

हालांकि अधिकारियों ने 2016 में देश की सख्त “एक-बाल नीति” में ढील दी और पिछले साल जोड़ों को तीन बच्चे पैदा करने की अनुमति दी थी. राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने सोमवार को 2021 और 2025 के बीच की अवधि का जिक्र करते हुए कहा की, “कुल जनसंख्या की वृद्धि दर काफी धीमी हो गई है. और यह 14वीं पंचवर्षीय योजना’ अवधि में नकारात्मक वृद्धि के चरण में प्रवेश करेगी.”

हाल के वर्षों में चीन में कुल प्रजनन दर (fertility rate) 1.3 से नीचे आ गई है. सेंटर फॉर चाइना एंड ग्लोबलाइजेशन के जनसांख्यिकी विशेषज्ञ और वरिष्ठ शोधकर्ता हुआंग वेनझेंग ने कहा, “यह लंबे समय से जारी कम प्रजनन दर का अपरिहार्य परिणाम है.”

दुनिया की आबादी का छठा हिस्सा है चीन

जानकारी के लिए बता दें की, चीन में दुनिया की आबादी का छठा हिस्सा है. फिर भी चार असाधारण दशकों के बाद, जिसमें चीन की आबादी 660 मिलियन से बढ़कर 1.4 बिलियन हो गई है.  इस वर्ष 1959-1961 के महान अकाल के बाद पहली बार इसकी आबादी कम होने की राह पर है.

चीन के राष्ट्रीय सांख्यिकी ब्यूरो के नवीनतम आंकड़ों के अनुसार, चीन की जनसंख्या (China’s population) 2021 में 1.41212 बिलियन से बढ़कर 1.41260 बिलियन हो गई. केवल 480,000 की रिकॉर्ड कम वृद्धि, एक दशक पहले आठ मिलियन या उससे अधिक की वार्षिक वृद्धि का एक मात्र अंश है.

ऑस्ट्रेलिया और संयुक्त राज्य अमेरिका में कुल प्रजनन दर (Fertility Rate) प्रति महिला 1.6 जन्म है. जानकारी के लिए बता दें की, विश्व की कुल आबादी में से करीब 18 फीसदी लोग भारत में रहते हैं और दुनिया के हर 6 नागरिकों में से एक भारतीय है. भारत में भी तेज़ी से जनसँख्या बढ़ रही है.

चीन के इस प्रांत में पैदा हुए 60 साल बाद इतने बच्चे

अधिकारिक जानकारी के मुताबिक, ग्लोबल टाइम्स ने दावा किया कि, चीन के (China’s population) मध्य हुनान प्रांत में जन्म की संख्या पिछले 60 सालों में पहली बार पांच लाख से नीचे रही. रिपोर्ट में बताया गया कि केवल चीन के दक्षिणी गुआंगडोंग प्रांत में इस दौरान दस लाख से अधिक बच्चों ने जन्म लिया है.

चीन में जनसंख्या तेज़ी बढ़ रही थी. जिसका असर चीन की अर्थव्यवस्था पर पद रही थी. बता दें की, चीन में बीते समय ऐसे हालात पैदा हो गए थे की, चीन में बैंकों के बाहर सैन्य टैंक खड़े करने पड़े थे. क्योंकि जनता वहां से अपना पैसा निकलना चाहती थी. चीन की सरकार लगातार मुसीबतों में फसती नज़र आ रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.