इराकी समाचार एजेंसी (INA) के अनुसार, इराकी संसद ने गुरुवार को सर्वसम्मति से इजरायल के साथ सामान्यीकरण को अपराध घोषित करने वाले विधेयक को मंजूरी दे दी।

नया कानून सभी इराकियों के साथ-साथ इराक में काम करने वाले विदेशियों पर भी लागू होता है, और यह निर्धारित करता है कि कानून तोड़ने वालों को मौत की सजा भी दी जा सकती है।

इराकी संसद के पहले उपाध्यक्ष, हकीम अल-ज़मीली ने सोशल मीडिया पर एक संदेश पोस्ट किया, जिसमें संसद के सभी सदस्यों को इस कानून पर मतदान करने के लिए धन्यवाद दिया और इसे ऐतिहासिक बताया ।

अल-ज़मीली ने सोशल मीडिया पर अपने संदेश में लिखा कि “यह कानून जिसे संसद के सदस्यों द्वारा सर्वसम्मति से वोट दिया गया है , ये लोगों की इच्छा का सही प्रतिबिंब और एक बहादुर राष्ट्रीय निर्णय का प्रतिनिधित्व करता है। यह एक ऐसा रुख है जिसे यहूदी लोगों (इज़राइल के संदर्भ में) के साथ संबंधों को अपराध बनाने के मामले में दुनिया में अपनी तरह का पहला माना जाता है, “।

अल-ज़मीली ने अरब और दुनिया की अन्य इस्लामी संसदों से भी इसी तरह के कानून जारी करने का आह्वान किया जो उनके लोगों की आकांक्षाओं को पूरा करें।

अल-ज़मीली ने समझाया, ” इराकी संसद उन कानूनों को जारी करने के साथ आगे बढ़ रही है जो इराक की सुरक्षा को बनाए रखते हैं, लोगों के हितों का समर्थन करते हैं और देश के विकास को बढ़ाते हैं।”

इराकी सरकार के अनुसार इस नए कानून का उद्देश्य इजरायल के साथ राजनयिक, राजनीतिक, सैन्य, आर्थिक, सांस्कृतिक या किसी अन्य प्रकार के संबंधों की स्थापना को रोकना है।

यह कानून इराक के अंदर और बाहर इराकियों और सरकारों, संसदों, विभागों और संस्थानों पर लागू होता है। इस कानून में इराक में काम करने वाली निजी कंपनियां, विदेशी कंपनियां और विदेशी निवेशक भी शामिल हैं।

इस कानून का और कारण ?

इराक से जैसे -जैसे अमेरिका बाहर निकल रहा है ,वहां पड़ोसी ईरान का दखल बढ़ता जा रहा है | इराक के लोगों में ईरान के प्रति सहानभूति पायी जाती है जिसका कारण इस्लामिक स्टेट के खिलाफ लड़ने में ईरान द्वारा की गयी सहायता है | इराकी संसद के अधिकतर सांसद ईरान की सहायता से ही चुने गए है | इसलिए इसमें कोई दोराय नहीं होनी चाहिए कि इस निर्णय में ईरान शामिल न हो , क्योंकि ईरान और इजराइल एक दूसरे के दुश्मन है |

By Satyam

One thought on “इराक में इजराइल से संबंध रखना अपराध, सजा में मिलेगी मौत”

Leave a Reply