September 25, 2022
Spread the love

अयोध्या(Ayodhya) में राम मंदिर(Ram Mandir) के निर्माण के लिए बुधवार का दिन बेहद ही खास और इतिहासिक रहा है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ(Yogi Adityanath) ने राम मंदिर मे गर्भगृह का शीला पूजन 1 जून को पूरा किया।  राम मंदिर से सौ मीटर दूर द्रविड़ शैली के मंदिर श्री रामलला सदन का उद्घाटन CM Yogi ने किया। दक्षिण भारत के कलाकारों ने तीन साल में इस मंदिर को तैयार किया है।

सीएम योगी ने गर्भगृह की रखी शिला

उत्तर प्रदेश के अयोध्या(Ayodhaya) में भगवान श्री राम के मंदिर निर्माण का काम तेजी से चल रहा है. राम मंदिर(Ram Mandir) के निर्माण के पहले चरण में चबूतरे का काम पूरा हो गया है. जिसके बाद अब मंदिर(Ram Mandir) के दूसरे चरण की शुरूआत होने जा रही है।  जिसके तहत गर्भ गृह के निर्माण का कार्य शुरू किया जाएगा।  अयोध्या में आज राम मंदिर निर्माण के दूसरे चरण का कार्य शुरू होगा.मुख्य राम मंदिर के गर्भ गृह निर्माण की आधारशिला के कार्यक्रम में सीएम योगी, उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या, श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र न्यास के अध्यक्ष नृत्य गोपाल दास, महामंत्री चंपत राय समेत तकरीबन 250 साधु संत और राजनैतिक हस्तियां मौजूद रहेंगी।

बताया जा रहा है कि गर्भगृह की आधारशिला के रखने के बाद दिसंबर 2023 तक गर्भगृह का काम पूरा कर लिया जाएगा। जिसके बाद साल 2024 की मकर संक्रांति के दिन रामलला को मंदिर में स्थापित कर दिया जाएगा। सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि 500 सालों से जिसका इतंजार था वह अब मूर्त रूप लेने जा रहा है। उन्होंने कहा कि भारत की आस्था पर आक्रांताओं ने प्रहार किया था, लेकिन अंत में भारत और सत्य की जीत हुई है। राममंदिर न सिर्फ अलौकिक होगा बल्कि तकनीक के मामले में भी अव्वल होगा। रामलला का गर्भगृह मकराना के संगमरमर से सजेगा। 32 सीढ़ियां चढ़कर रामलला के दर्शन होंगे। रामनवमी पर सूर्य की किरणें रामलला का अभिषेक करेंगी। मंदिर निर्माण में देश की आठ नामी तकनीकी एजेंसियों की मदद ली जा रही है। वास्तु शास्त्र व स्थापत्य कला की भी अनुपम झलक मंदिर में दिखेगी।

धर्म, सत्य और न्याय के रास्ते पर जीत: योगी

सीएम योगी ने कहा, ”मंदिर निर्माण पूज्य संतों का संघर्ष श्रद्धेय, अशोक सिंघल जी जैसे संत, आरएसएस, और विचार परिवार से जुड़े हुए उन लाखों कार्यकर्ताओं का जो पुरुषार्थ था वह आज साकार रूप लेता दिख रहा है। सचमुच आज का दिन हम सबको अभिभूत करता है। नई प्रेरणा देता है कि हम सदैव धर्म, सत्य और न्याय के रास्ते पर बढ़ेंगे तो विजय होने से कोई नहीं रोक सकता है।”  गर्भगृह के निर्माण का शुभारंभ करने के बाद सीएम योगी ने मीडिया से बातचीत में कहा कि अब मंदिर(Ram Mandir) का निर्माण तेजी से होगा।

उन्होंने कहा, ”सैकड़ों वर्षों की जो भारत की आस्था जिस पवित्र काम के लिए तरस रही थी, वह दिन बहुत दूर नहीं, जब मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान राम का मंदिर(Ram Mandir) अयोध्या में बनकर देश-दुनिया के सभी सनातन धर्मावलंबियों की आस्था का प्रतीक बनेगा ही। रामजन्मभूमि मंदिर भारत का राष्ट्र मंदिर होगा। भारत की आस्था को सम्मान देने के साथ भारत के एकात्मता का प्रतीक होगा।”रामलला सदन के महंत जगद्गुरु रामानुजाचार्य स्वामी राघावाचार्य हैं। उन्होंने बताया कि मंदिर में भगवान श्रीराम, लक्ष्मण और जानकी के साथ भगवान विष्णु, हनुमान जी और रंगनाथ जी सहित जय-विजय की प्रतिमाओं की स्थापना की जा रही हैं।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का ट्वीट,

1 thought on “Ram Mandir: अयोध्या में सीएम योगी ने रखी गर्भगृह की शिला, बोले- 500 सालों का संघर्ष भारत की जीत

Leave a Reply

Your email address will not be published.