रूसी राष्ट्रपति Putin ने पश्चिमी देशों पर हमला बोलते हुए कहा की, 'भारत जैसे देश को लूटा गया है'

Putin: एक कार्यक्रम के दौरान रूसी राष्ट्रपति पुतिन (Putin) ने अपने भाषण में कहा कि पश्चिमी देशों ने अपने फायदे के लिए भारत जैसे देश को लुटा है. इस बीच संयुक्त राज्य अमेरिका ने 1,000 से अधिक रूसी व्यक्तियों और संगठनों पर प्रतिबंध लगाए हैं. एक भाषण में, राष्ट्रपति जो बिडेन ने पुतिन को चेतावनी दी कि “अमेरिका पूरी तरह से तैयार है. हमारे नाटो सहयोगियों के साथ नाटो क्षेत्र के हर एक इंच की रक्षा के लिए.”

राष्ट्रपति Putin ने कहीं ये बाते

ANI से मिली जानकारी के मुताबिक, जनमत संग्रह के बाद रूस के कब्जे वाले डोनेट्स्क, लुहान्स्क, खेरसॉन और ज़ापोरिज्जिया के क्षेत्रों पर रूस के कब्जे की पश्चिम में व्यापक रूप से निंदा की है. बता दें की, यूक्रेन के 15 प्रतिशत हिस्से पर अब रूस का नियंत्रण हो गया है. क्रेमलिन में आयोजित एक भव्य कार्यक्रम में राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने पश्चिमी देशों को जमकर खरी-खोटी सुनाई है.

पुतिन (Putin) ने पश्चिमी देशों पर हमला बोलते हुए कहा है की, उन्होंने अपने फायदे के लिए भारत जैसे देश का इस्तमाल किया है और उसको लूटा है. इसके अलावा बता दें की, शुक्रवार को समारोह में पुतिन ने कहा कि रूस के पास यूक्रेन के चार नए क्षेत्र आ गए हैं. यूक्रेन के कब्जे वाले डोनेट्स्क, लुहान्स्क, खेरसॉन और ज़ापोरिज़िया क्षेत्रों के निवासियों को अब हमेशा के लिए हमारा नागरिक कहा जाएगा.

जनता खुद चाहती थी रूस का साथ

क्रेमलिन के सेंट जॉर्ज हॉल में सैकड़ों गणमान्य (dignitaries) व्यक्तियों के सामने पुतिन ने एक भाषण में कहा की, “यह लाखों लोगों की इच्छा थी वो अब रूस के नेतृत्व में रहें. जो अब उनकी इच्छा पूरी हो गई है.” राष्ट्रपति पुतिन ने कहा की,  “हम अपनी पूरी ताकत और अपने सभी साधनों के साथ अपनी भूमि की रक्षा करेंगे.”

इसके साथ ही उन्होंने ने यूक्रेन के सामने प्रस्ताव रखा की, अब यूक्रेन को युद्ध समाप्त कर देना चाहिए. और रूस से एक बार शांति वार्ता करनी चाहिए. यूक्रेन सरकार के अनुसार, रूसी हमले में 30 लोग मारे गए और 88 घायल हो गए हैं.

राष्ट्रपति पुतिन ने अपने अधिकारिक बयान में कहा की,

 ”अमेरिका दुनिया का एकमात्र ऐसा देश है जिसने दो बार परमाणु हथियारों का इस्तेमाल किया है. जिसने जापान के हिरोशिमा और नागासाकी को नष्ट कर इसका उदाहरण दिया है. आज भी उसका जर्मनी, जापान, कोरिया गणराज्य और अन्य देशों पर कब्जा है और साथ ही उन्हें समान स्थिति वाला सहयोगी बताता है.”

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में दिखा अमेरिका का गुस्सा

रूस ने जबसे यूक्रेन पर हमला बोला है तबसे अमेरिका रूस के खिलाफ है. अमेरिका नाटो के साथ मिल कर हमेशा रूस को चेतावनी देता रहता है. लेकिन इस बार  राष्ट्रपति जो बिडेन ने राष्ट्रपति पुतिन का नाम लेकर उनको संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में चेतावनी दे डाली है. यूक्रेन में शांति और सुरक्षा के मुद्दे पर बुलाई गई बैठक में अमेरिका ने रूस (Russia) को जमकर कोसा है.

यूक्रेन के खिलाफ युद्ध को रोकने के परिपेक्ष में भारत के प्रधानमंत्री मोदी ने भी रूस के राष्ट्रपति को समझाया था की यह वक़्त युद्ध का नहीं है. जिस पर प्रधानमंत्री मोदी की सराहना भी हुई थी. लेकिन जबसे रूस ने यूक्रेन के 4 बड़े शहरों पर कब्ज़ा किया है तबसे अमेरिका और आग बबूला हो गया है.

2 thoughts on “रूसी राष्ट्रपति Putin ने पश्चिमी देशों पर हमला बोलते हुए कहा की, ‘भारत जैसे देश को लूटा गया है’”

Leave a Reply