September 25, 2022
POK में जनता का फूटा गुस्सा, बढ़ते बिजली बिल और महंगाई पर जनता ने किया जमकर विरोध
Spread the love

पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (POK) में लोगों का गुस्सा सरकार के खिलाफ फूट रहा है.  POK में लोग तेज़ी से बढ़ती महंगाई और लगातार हो रही बिजली (Load shedding) में कटौती के विरोध में सरकार के खिलाफ नारे बाज़ी कर रहे है.

पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में जनता ने किया प्रदर्शन

ANI से मिली जानकारी के मुताबिक, पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (POK) के विभिन्न हिस्सों में लोग बड़े पैमाने पर बिजली कटौती का सामना कर रहे हैं. जो दिन में लगभग 18 घंटे तक होता है. छात्रों और राजनीतिक दलों द्वारा बुलाए गए विरोध प्रदर्शनों को क्रूर बल का उपयोग करके दबा दिया जाता है.

यह बड़े पैमाने पर विरोध तब हो रहा है जब पाकिस्तान इस महीने के अंत तक लोड शेडिंग की अवधि के घंटों को कम करके दो घंटे तक करने की योजना बना रहा है.

वैश्विक स्तर पर तेल की कीमतों में बढ़ोतरी को इस्लामाबाद ऊर्जा संकट का जिम्मेदार ठहरा रहा है.इससे पहले जुलाई में, POK के पीछे के इलाके में सुरक्षा बलों द्वारा अंधाधुंध फायरिंग करने के बाद विरोध प्रदर्शनों में दर्जनों युवक घायल हो गए थे.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, 18 जुलाई को हुई एक घटना में दर्जनों प्रदर्शनकारियों को गिरफ्तार किया गया था. जिन पर आतंकी कानून के तहत मामला दर्ज किया गया था.

बड़े पैमाने पर हो रहा विरोध

उच्च मुद्रास्फीति और पाकिस्तानी अधिकारियों द्वारा बुनियादी मानवाधिकारों से इनकार करने पर पूरे POK में बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन अब आम हो गया हैं. POK में लोगों को बुनियादी अधिकारों से वंचित किया जा रहा है.

अधिकारिक जानकारी के मुताबिक, उन्हें उच्च मुद्रास्फीति, खराब शिक्षा और स्वास्थ्य सुविधाओं जैसी कई चुनौतियों का सामना करना पड़ता है. पाकिस्तानी अधिकारियों के खिलाफ अपनी आवाज उठाने से सुरक्षा एजेंसियों की ओर से क्रूर बल का प्रयोग किया जाता है.

इससे पहले, POK के कई हिस्सों में दर्जनों नाराज निवासियों ने इस्लामाबाद (केंद्र सरकार) की कठोर नीतियों पर सड़क पर उतर कर विरोध प्रदर्शन शुरू दिया था.

PoK के 40 लाख निवासियों को कभी भी एक शब्द बोलने और अपनी राजनीतिक और सामाजिक-आर्थिक शिकायतों को दूर करने की अनुमति सरकार द्वारा नहीं दी गई है.

इसके पहले भी हो चुका है प्रदर्शन

बीते महीने POK में उग्र प्रदर्शन हो चुगा है. पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (PoK) के निवासियों ने संयुक्त राष्ट्र (UN) के वाहन (Vehicle) को रोक कर नारेबाजी की थी. जानकारी के मुताबिक, संयुक्त राष्ट्र (UN) के सामने प्रदर्शनकारियों ने नारे बाज़ी भी की थी. जिसमें लोगों ने नारे लगाए थे की, ‘पाकिस्तानी सेना वापस जाओ’, ‘हमें आजादी चाहिए’ और ‘कश्मीर में हत्या बंद करो’.

बता दें की, काफ़ी समय से ये विरोध पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (PoK) में चल रहा है. वैसे बता दें की, पागली क्षेत्र के निवासियों ने राज्य के अत्याचारों के खिलाफ आंदोलन जारी रखने का फैसला किया था. पीओके में लोगों को बुनियादी अधिकारों से वंचित रखा गया था.

पीओके के 40 लाख लोगों को कभी भी कुछ बोलने और अपनी राजनीतिक और सामाजिक-आर्थिक शिकायतों को दूर करने की अनुमति नहीं दी गई है. लोगों का प्रदर्शन अभी भी जारी रहने की उम्मीद है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.