पाकिस्तान के PM Shahbaz Sharif का हुआ ऑडियो लीक, अब डार्क वेब पर हो रही नीलामी, साइबर सुरक्षा पर उठे सवाल

PM Shahbaz Sharif: पाकिस्तान में नेताओं के बीच हुई ‘सीक्रेट’ बातचीत का ऑडियो लीक होने से हड़कंप  मच  गया है. अब इस ऑडियो की डार्क वेब (Dark Web) पर नीलामी हो रही है. ये ऑडियो लीक हाई-प्रोफाइल स्थानों की सुरक्षा और वहां आयोजित बैठकों पर सवाल उठाता है.

ऑडियो लीक पर मचा बवाल

ANI से मिली जानकारी के मुताबिक, ऑडियो क्लिप में उच्च सुरक्षा वाले पीएम हाउस में सत्तारूढ़ पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (PML-N) के कई वरिष्ठ नेताओं के बीच बातचीत शामिल थी. आंतरिक मंत्री राणा सनुल्लाह, रक्षा मंत्री ख्वाजा आसिफ, कानून मंत्री आजम तरार और आर्थिक मामलों के मंत्री अयाज सादिक को वित्त मंत्री मिफ्ता इस्माइल के इस्तीफे की बात हो रही थी.

एक अन्य ऑडियो क्लिप पर पीएमएल-एन की उपाध्यक्ष मरियम नवाज और प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ (PM Shahbaz Sharif) के बीच वित्त मंत्री इस्माइल के बारे में बातचीत का ऑडियो सामने आया है. पाकिस्तान के तीन बार के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की बेटी मरियम नवाज को मिफ्ता इस्माइल की आलोचना करते सुना जा सकता है. बता दें की, मरियम नवाज पार्टी में एक ख़ास औदा रखती हैं.

ऑडियो क्लिप में मरियम नवाज़ कहती हैं की,  “वह (इस्माइल) कोई जिम्मेदारी नहीं लेते है. टीवी पर अजीब चीजें कहते है. जिसके लिए लोग उनका मजाक उड़ाते हैं. उन्हें खुद  नहीं पता कि वह क्या कर रहे है.”  मरियम आगे कहती हैं की, ”चाचा, उन्हें नहीं पता कि वह क्या कर रहे हैं.”

पीटीआई ने मौजदा सरकार को लताड़ा

सरकार ने लीक क्लिप के बारे में कुछ नहीं कहा है. लेकिन विपक्षी पीटीआई (PTI) ने पहले ही इस मुद्दे को सोशल मीडिया पर उछाला और फिर मौजूदा सरकार को भी लताड़ लगाई है.

पीटीआई के पूर्व सूचना मंत्री फवाद चौधरी ने दो मिनट से अधिक लंबे ऑडियो क्लिप को पीएम शहबाज (PM Shahbaz Sharif) और अधिकारी के बीच की बातचीत को साझा किया. जिसमें उन्होंने आरोप लगाया गया कि सत्तारूढ़ दल (PML-N) पारिवारिक मामलों की सुरक्षा में अधिक रुचि रखती है. देश में क्या हो रहा उससे उन्हें कोई मतलब नहीं है.

पीएम ऑफिस से बातचीत के लीक होने की बात करते हुए उन्होंने कहा कि, “देश की साइबर सुरक्षा की स्थिति को दिखाते हुए डेटा को डार्क वेब पर बिक्री के लिए पेश किया गया था. यह हमारी खुफिया एजेंसियों, विशेष रूप से इंटेलिजेंस ब्यूरो (IB) की विफलता है. जाहिर है, राजनीतिक मुद्दों के अलावा सुरक्षा और विदेशी मुद्दों पर अहम चर्चा अब मौजुदा सरकार की बस की बात नहीं रही है.”

आम जनता की ज़िम्मेदारी कौन लेगा

आगे पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (PTI) के नेता फवाद चौधरी ने दावा किया है कि लीक हुई ऑडियो क्लिप को 3,50,000 डॉलर (पाकिस्तानी करेंसी के अनुसार 8.53 करोड़ और भारतीय करेंसी के मुताबिक 2.84 करोड़) में डार्क वेब पर नीलामी के लिए रखा गया है.

बता दें की, मीडिया से बात करते हुए चौधरी ने कहा कि प्रधानमंत्री का दफ्तर (PMO) सुरक्षित नहीं है. हैकिंग इसलिए हुई क्योंकि डिवाइस इन जगहों पर रखे गए थे. आगे उन्होंने कहा की, जब प्रधानमंत्री का डाटा नहीं सुरक्षित नहीं है तो आम जनता की ज़िम्मेदारी कौन लेगा? यह एक ऐसा प्रश्न है जिस पर भी ध्यान दिया जाना चाहिए.”

3 thoughts on “पाकिस्तान के PM Shahbaz Sharif का हुआ ऑडियो लीक, अब Dark Web पर हो रही नीलामी, साइबर सुरक्षा पर उठे सवाल”
  1. […] प्रधानमंत्री के राजनीतिक और सार्वजनिक मामलों के सलाहकार आमिर मुक़ाम ने कहा की, , “पीएमएल-एन स्वात में शांति से कभी समझौता नहीं करेगा.” उन्होंने आगे कहा कि स्वात के लोग जाग चुके हैं. और सही और गलत और बुरे और अच्छे के बारे में पूरी तरह से जागरूक हैं. […]

Leave a Reply