Bengaluru में PM Modi ने वंदे भारत एक्सप्रेस को दिखाई हरी झंडी

Bengaluru: इन दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चार दक्षिणी राज्यों कर्नाटक, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश और तेलंगाना के दौरे पर हैं. पीएम मोदी ने क्रांतिवीर संगोली रायण्णा (KSR) रेलवे स्टेशन पर जाकर मैसूर-चेन्नई वंदे भारत ट्रेन को हरी झंडी दिखाकर उसकी शुरुआत की. यह देश की पांचवीं वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन है और दक्षिण भारत में इस तरह की पहली ट्रेन है.

प्रधानमंत्री के एजेंडे में सबसे पहले भाजपा शासित कर्नाटक है. पीएम मोदी ने शुक्रवार सुबह बेंगलुरु (Bengaluru) में राज्य सचिवालय विधान सौध में संत-कवि कनक दास और महर्षि वाल्मीकि की प्रतिमाओं पर पुष्पांजलि अर्पित कर अपने कार्यक्रम की शुरुआत की है.

Bengaluru में शुर हुई Vande Bharat Express

समाचार एजेंसी से मिली जानकारी के मुताबिक, पीएमओ (PMO) ने कहा की, “यह चेन्नई के औद्योगिक केंद्र और बेंगलुरु (Bengaluru) के टेक और स्टार्टअप हब और प्रसिद्ध पर्यटन शहर मैसूर के बीच कनेक्टिविटी को बढ़ाएगा.” पीएम मोदी ने बेंगलुरु (Bengaluru) के केएसआर (KSR) रेलवे स्टेशन पर भारत गौरव काशी दर्शन ट्रेन को भी हरी झंडी दिखाई है.

कर्नाटक भारत गौरव योजना के तहत इस ट्रेन को चलाने वाला पहला राज्य है.  कर्नाटक सरकार और रेल मंत्रालय ने कर्नाटक से तीर्थयात्रियों को काशी तक जाने के लिए एक और कदम उठाया है. पीएमओ ने कहा है की, “काशी, अयोध्या और प्रयागराज जाने के लिए तीर्थयात्रियों को आराम से रहना और मार्गदर्शन प्रदान किया जाएगा.”

Bengaluru में PM Modi ने वंदे भारत एक्सप्रेस को दिखाई हरी झंडी
Bengaluru में PM Modi ने वंदे भारत एक्सप्रेस को दिखाई हरी झंडी

वंदे भारत एक्सप्रेस सरकार के बड़े प्रोजेक्ट में से एक है

वैसे बता दें की, वंदे भारत ट्रेन काफी समय से सुर्ख़ियों में छाई हुई है. सेमी-हाई-स्पीड पैसेंजर ट्रेन वंदे भारत एक्सप्रेस ने इस साल अपने संचालन के सिर्फ एक महीने में चार बड़े हादसे दर्ज किए हैं. ट्रेन के मुंबई-गांधीनगर मार्ग पर ज्यादातर घटनाएं हुईं हैं.

अहमदाबाद से आ रहे वंदे भारत की चपेट में आने से मंगलवार को 54 वर्षीय महिला की मौत भी हो गई थी. घटना उस समय हुई थी जब वो आनंद रेलवे स्टेशन के पास रेलवे ट्रैक पार कर रही थी.

इसके आलवा बता दें की, अक्टूबर में हुई एक अन्य घटना में सेमी-हाई-स्पीड ट्रेन ने भैंसों के झुंड को टक्कर मार दी थी. हादसा गैरतपुर और वटवा रेलवे स्टेशनों के बीच हुआ था. टक्कर इतनी जोरदार थी कि फाइबर प्रबलित प्लास्टिक (FRP) इंजन का अगला हिस्सा क्षतिग्रस्त हो गया था. वंदे भारत ट्रेन भारत सरकार के बड़े प्रोजेक्ट में से एक रहा है. और अब इस ट्रेन का साउथ में शुरू होना एक बड़ी उपलब्धि है. बेंगलुरु के लिए यह ट्रेन एक बड़ी सौगात है.

अब साउथ इंडिया भी आराम से कर सकेगा काशी के दर्शन

इतना ही नहीं बल्कि उन्होंने भारत गौरव काशी दर्शन ट्रेन को भी हरी झंडी दिखाकर रवाना किया है. पीएमओ के अनुसार, कर्नाटक भारत गौरव योजना के तहत इस ट्रेन को चलाने वाला पहला राज्य है जिसमें कर्नाटक सरकार और रेल मंत्रालय राज्य से तीर्थयात्रियों को काशी भेजने के लिए मिलकर काम कर रहे हैं.”

प्रधानमंत्री ने बेंगलुरु के विधान सौध में संत कवि कनकदास और महर्षि वाल्मीकि की प्रतिमाओं पर पुष्पांजलि भी अर्पित की है. पीएम मोदी बेंगलुरु (Bengaluru) के केम्पेगौड़ा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के टर्मिनल 2 का उद्घाटन करेंगे.

इसके बाद वह नादप्रभु केम्पेगौड़ा की 108 फीट की कांस्य प्रतिमा का अनावरण करेंगे. इसके बाद बेंगलुरु (Bengaluru) में एक सार्वजनिक समारोह होगा. दोपहर करीब साढ़े तीन बजे पीएम मोदी तमिलनाडु के डिंडीगुल में गांधीग्राम ग्रामीण संस्थान के 36वें दीक्षांत समारोह में शामिल होंगे.

 

 

Leave a Reply