Interpol: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार दोपहर नई दिल्ली के प्रगति मैदान में इंटरपोल (Interpol) की 90वीं महासभा को संबोधित करेंगे. इंटरपोल की 90वीं महासभा 18 से 21 अक्टूबर तक होगी. बैठक में 195 इंटरपोल सदस्य देशों के प्रतिनिधिमंडल शामिल होंगे. जिसमें मंत्री, देशों के पुलिस प्रमुख, राष्ट्रीय केंद्रीय ब्यूरो के प्रमुख और वरिष्ठ पुलिस अधिकारी शामिल होंगे.

PM Modi महासभा को करेंगे संबोधित

ANI से मिली जानकारी के मुताबिक,   प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी मंगलवार को राजधानी दिल्ली स्थित प्रगति मैदान में आयोजित 90वीं इंटरपोल (Interpol) महासभा को संबोधित करेंगे. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह 21 अक्टूबर को विधानसभा के अंतिम दिन अपनी उपस्थिति दर्ज कराएंगे. बताया जा रहा है की, इस अवसर पर इंटरपोल के अध्यक्ष अहमद नासर अल रायसी, महासचिव जुर्गन स्टॉक और केंद्रीय जांच ब्यूरो के निदेशक भी मौजूद रहेंगे.

PM Modi आज 90वीं Interpol महासभा को करेंगे संबोधित
PM Modi आज 90वीं Interpol महासभा को करेंगे संबोधित

भारत में लगभग 25 वर्षों के लंबे ब्रेक के बाद इंटरपोल (Interpol) महासभा की बैठक हो रही है. यह आखिरी बार भारत में 1997 में आयोजित हुई था. 2022 में स्वतंत्रता के 75 वर्ष के उत्सव के अवसर पर इंटरपोल महासभा की मेजबानी करने के भारत के प्रस्ताव को महासभा ने भारी बहुमत से स्वीकार किया था.

पीएमओ (PMO) की तरफ से अधिकारिक बयान में कहा गया है की, “प्रधानमंत्री मोदी 18 अक्टूबर को नयी दिल्ली के प्रगति मैदान में दोपहर करीब एक बजकर 45 मिनट पर 90वीं इंटरपोल महासभा को संबोधित करेंगे.”

इंटरपोल (Interpol) की प्रमुख भूमिका दुनिया भर की पुलिस एजेंसियों को एक सुरक्षित जगह बनाने के लिए मिलकर काम करने में मदद करना है. यह संगठन एजेंसियों को अपराधों और अपराधियों पर डेटा साझा करने और एक्सेस करने में सक्षम बनाता है. बता दें की, इस बैठक में इंटरपोल के कामकाज की समीक्षा की जाती है और महत्वपूर्ण फैसले भी लिए जाते हैं.

इंटरपोल का अधिकारिक ट्वीट…

PMO की तरफ से आया अधिकारिक बयान

इंटरपोल के महासचिव जुर्गन स्टॉक ने कहा कि यह देशों को कई प्रकार की विशेषज्ञता और सेवाएं प्रदान करता है. प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) के अनुसार, “बैठक में इंटरपोल के प्रधान कार्यालय के प्रतिनिधियों, भारतीय अधिकारियों और मीडिया प्रतिनिधियों के अलावा 195 इंटरपोल सदस्य देशों के मंत्रियों, पुलिस प्रमुखों, पुलिस अधिकारियों और सहयोगी कर्मचारियों सहित लगभग 2,000 विदेशी गणमान्य व्यक्ति शामिल होंगे.”

महासभा इंटरपोल एक सर्वोच्च शासी निकाय (supreme governing body) है. यह एक ऐसा संगठन है जिसे 1923 में कानून प्रवर्तन को अंतर्राष्ट्रीय सहयोग लाने के लिए स्थापित किया गया था. आज, संगठन के 195 सदस्य देश हैं.

CBI ने इंटरपोल के साथ किए हैं कई सफल ऑपरेशन

सीबीआई के विशेष निदेशक प्रवीण सिन्हा ने कहा कि, “हाल के दिनों में इंटरपोल की मदद से बच्चों के यौन शोषण, साइबर धोखाधड़ी और नशीले पदार्थों के संबंध में कई वैश्विक अभियान चलाए गए हैं.” आगे सिन्हा ने कहा, “सीबीआई (CBI) ने इंटरपोल के साथ जो कुछ सफल ऑपरेशन किए, उनमें ऑपरेशन मेघदूत, ऑपरेशन चक्र और ऑपरेशन गार्ड शामिल हैं. हीरा व्यापारी नीरव मोदी को भी इंटरपोल के अनुरोध पर यूके पुलिस ने गिरफ्तार किया था.”

आगे उन्होंने बताया की, “इस बैठक का एजेंडा पुलिसिंग के भविष्य, साइबर अपराध, बच्चों के खिलाफ अपराधों के साथ-साथ कई अन्य अपराधों पर चर्चा करना होगा. भारत भी इंटरपोल के अधिक सक्रिय सदस्यों में से एक रहा है और सभी की निगाहें बैठक के दौरान लिए जाने वाले महत्वपूर्ण फैसलों पर होंगी.”

Leave a Reply