MP के रीवा में मंदिर से टकराया विमान 1 पायलट की हुई मौत

MP: मध्य प्रदेश (MP) रीवा में शुक्रवार तड़के प्रशिक्षण के दौरान एक विमान एक मंदिर से जा टकराया है. हादसे में एक पायलट की मौत हो गई जबकि एक अन्य घायल हो गया है. यह विमान एक निजी कंपनी का था.

जो मध्य प्रदेश (MP) में रीवा जिले के डुमरी गांव में एक मंदिर के गुंबद से टकराकर दुर्घटनाग्रस्त हो गया. ANI से बात करते हुए मध्य प्रदेश (MP) के रीवा के एसपी नवनीत भसीन ने कहा, दुर्घटना आज सुबह हुई और उड़ान एक प्रशिक्षण उड़ान थी.

मध्य प्रदेश (MP) के रीवा के एसपी नवनीत भसीन ने ANI को बताया की, “प्रशिक्षण के दौरान विमान एक मंदिर से टकरा गया. एक पायलट की मौत हो गई और दूसरा घायल हो गया और उसका इलाज संजय गांधी मेडिकल कॉलेज में चल रहा है.”

MP में हुआ बड़ा हादसा

ANI से मिली जानकारी के मुताबिक, मध्य प्रदेश (MP) की पुलिस ने शुक्रवार को कहा कि राज्य की राजधानी भोपाल से 400 किलोमीटर दूर मध्य प्रदेश के रीवा जिले में दुर्घटनाग्रस्त होने के बाद एक ट्रेनर विमान के पायलट की मौत हो गई है. मध्य प्रदेश (MP) के एक अधिकारी ने कहा कि गुरुवार रात करीब 11.30 बजे हुई इस घटना में विमान में सवार एक प्रशिक्षु पायलट घायल हो गया है.

मध्य प्रदेश (MP) के चोरहट्टा पुलिस थाने के प्रभारी जे पी पटेल ने कहा कि विमान प्रशिक्षण उड़ान के दौरान चोरहट्टा हवाई पट्टी से तीन किमी दूर एक मंदिर के गुंबद और एक पेड़ से टकराकर दुर्घटनाग्रस्त हो गया है.

कैप्टन विशाल यादव की हुई मौत

मध्य प्रदेश (MP) के अधिकारी ने कहा कि दुर्घटना में कैप्टन विशाल यादव (30) की मौत हो गई है. जबकि प्रशिक्षु पायलट अंशुल यादव को चोटें आईं और उन्हें सरकारी संजय गांधी मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

MP के रीवा में मंदिर से टकराया विमान 1 पायलट की हुई मौत
MP के रीवा में मंदिर से टकराया विमान 1 पायलट की हुई मौत

जिले के अधिकारियों ने कहा कि मध्य प्रदेश (MP) के रीवा के कलेक्टर मनोज पुष्प और पुलिस अधीक्षक ननवनीत भसीन घटनास्थल पर हैं और दुर्घटना के बारे में विस्तृत जानकारी का इंतजार है.

राजस्थान में भी हुई थी भयंकर घटना

इसके अलावा बता दें की, राजस्थान में 28 जुलाई की रात भारतीय वायु सेना का एक मिग-21 ट्रेनर फाइटर जेट दुर्घटनाग्रस्त हो गया था. जिसमें दो पायलट विंग कमांडर एम राणा और फ्लाइट लेफ्टिनेंट अदिति बाल की मौत हो गई थी.

यह मिग-21 लड़ाकू जेट से जुड़ी पहली दुर्घटना नहीं है और इसे अक्सर ‘फ्लाइंग कॉफिन’ और ‘विडो मेकर’ कहा जाता है. क्योंकि पिछले कुछ वर्षों में इसने कई दुर्घटनाओं का सामना किया है. जिसमें भारतीय वायुसेना के कई पायलट मारे गए हैं.

872 मिग विमानों में आधे से ज्यादा दुर्घटनाग्रस्त हुए हैं

2012 में पूर्व रक्षा मंत्री एके एंटनी ने संसद में कहा था कि रूस से खरीदे गए 872 मिग विमानों में आधे से ज्यादा दुर्घटनाग्रस्त हो गए थे. जिसके कारण 171 पायलट, 39 नागरिक और अन्य सेवाओं के आठ लोगों सहित 200 से अधिक लोगों की जान चली गई थी.

मिग-21 बाइसन विमानन इतिहास का पहला सुपरसोनिक जेट विमान है और दुनिया में सबसे ज्यादा बिकने वाला फाइटर जेट भी है. जबकि यह 60 वर्ष से अधिक पुराना है. मिग -21 अभी भी चार सक्रिय स्क्वाड्रनों के साथ भारतीय वायु सेना के साथ सेवा में है और इसे पीढ़ी 3 लड़ाकू जेटों से मेल खाने के लिए अद्यतन किया गया था.

Leave a Reply