Pakistan में पेट्रोल, डीजल की कीमत में फिर 30 रुपये की बढ़ोतरी, बिजली भी हुई महंगी

पाकिस्तान (Pakistan) के वित्तमंत्री मिफ्ताह इस्माइल ने गुरुवार को घोषणा की कि केंद्र सरकार ने सभी पेट्रोलियम उत्पादों की कीमतों में एक बार फिरसे 30 रुपये की बढ़ोतरी करने का फैसला किया है | इससे पहले समान वृद्धि पिछले हफ्ते भी की गयी थी।

वित्तमंत्री मंत्री ने इस्लामाबाद में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि नई कीमतें आज आधी रात से लागू होंगी।

ताजा बढ़ोतरी के बाद पाकिस्तान (Pakistan) में पेट्रोल की कीमत 209.86 रुपये, डीजल की कीमत 204.15 रुपये, मिट्टी के तेल की कीमत 181.94 रुपये और हल्के डीजल की कीमत 178.31 रुपये होगी।

वित्तमंत्रीमंत्री ने बताया कि “30 रुपये की और बढ़ोतरी करने के बावजूद सरकार को अभी भी पेट्रोल में लगभग 9 रुपये का नुकसान हो रहा है क्योंकि हम ईंधन पर कोई कर नहीं लगा कर रहे हैं।”

इस्माइल ने कहा कि सरकार अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) के साथ दैनिक आधार पर बातचीत कर रही है, “हम उनकी सभी मांगों को स्वीकार नहीं कर सकते हैं, लेकिन कुछ बिंदु हैं जिन पर हमें सहमत होना है।”

हालांकि, इस्माइल ने कहा कि सरकार देश भर में यूटिलिटी स्टोर्स पर चीनी और गेहूं की कीमतों में क्रमश: 70 रुपये प्रति किलो और 40 रुपये प्रति किलो की स्थिरता सुनिश्चित करेगी।

उन्होंने जोर देकर कहा कि सरकार के वित्तीय नुकसान को रोकने के लिए पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान द्वारा घोषित पेट्रोलियम उत्पादों पर सब्सिडी को वापस लेना होगा।IMF चाहे कुछ भी कहे, परन्तु पाकिस्तान (Pakistan) सरकार घाटे में पेट्रोल-डीजल नहीं बेच सकती है ।

वित्त मंत्री ने कहा कि हमारी सरकार रूस से सस्ता तेल आयात करने के लिए “इच्छुक” है, बशर्ते यह किसी प्रतिबंधों में न आता हो |

तेल के बाद अब बिजली के दाम भी बढ़ेंगे

तेल कीमतों में बढ़ोतरी पाकिस्तान (Pakistan) सरकार और IMF के बीच किसी समझौते पर पहुंचने में विफल रहने के बाद हुई है, जिसका मुख्य कारण तेल और बिजली सब्सिडी से हो रहा घाटा था | 6 दिन पहले पाकिस्तान में तेल के रेट्स 30 रुपए प्रति लीटर बढ़ाए गए थे और आज फिर 30 रूपये बढ़ाकर सरकार 10 दिनों में 60 रूपये प्रति लीटर का अतिरिक्त बोझ पाकिस्तान की गरीब जनता पर डाल दिया है । पेट्रोल-डीजल और केरोसिन के बाद सरकार बिजली भी जबरदस्त झटका देने जा रही है।

पाकिस्तान की नेशनल इलेक्ट्रिक पॉवर रेग्युलेट्री अथॉरिटी (Nepra) ने भी ऐलान किया है कि अगले महीने से बिजली 7.91 रुपए प्रति यूनिट महंगी की जा रही है। अब एक यूनिट के बिजली के लिए 24.82 रुपए देने होंगे।

Read Also – कांन्स फिल्म फेस्टिवल में पाकिस्तानी ट्रांस फिल्म ‘जॉयलैंड’ ने रचा इतिहास

विपक्षी नेताओं ने की सरकार के फैसलों की निंदा

पाकिस्तान के विपक्षी नेताओं ने पेट्रोलियम उत्पादों की कीमतों को नई ऊंचाई पर ले जाने के लिए सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि PML-N के नेतृत्व वाली शाहबाज़ शरीफ सरकार अर्थव्यवस्था के प्रबंधन के लिए संघर्ष कर रही है।

पूर्व सूचना मंत्री फवाद चौधरी ने कहा कि पेट्रोल की कीमतों में ताजा बढ़ोतरी से देश के मध्यम वर्ग की मौत हो जाएगी।

 

By Satyam

Leave a Reply