पूर्व पीएम Atal Bihari Vajpayee की बायोपिक में पंकज त्रिपाठी मेन किरदार में नज़र आएंगे

Atal Bihari Vajpayee: लोकप्रिय अभिनेता पंकज त्रिपाठी भारत के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee ) की बायोपिक “मैं रहूं या ना रहूं ये देश रहना चाहिए अटल” में उनकी भूमिका निभाने के लिए पूरी तरह तैयार हैं. उल्लेख एनपी की किताब द अनटोल्ड वाजपेयी: पॉलिटिशियन एंड पैराडॉक्स पर आधारित यह फिल्म क्रिसमस 2023 में रिलीज होने की उम्मीद है. संदीप सिंह और विनोद भानुशाली द्वारा निर्मित इस फिल्म का शीर्षक ‘मैं रहूं या ना रहूं ये देश रहना चाहिए-अटल’ है.

Atal Bihari Vajpayee का किरदार अदा करेंगे दिग्गज अभिनेता पंकज त्रिपाठी

इंडिया टुडे से मिली जानकारी के मुताबिक, बॉलीवुड अभिनेता पंकज त्रिपाठी को पूर्व भारतीय प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee) की आगामी बायोपिक में मुख्य भूमिका निभाने के लिए चुना गया है.

पूर्व भारतीय प्रधानमंत्री, अटल बिहारी बाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee) का किरदार अदा करने को लेकर अभिनेता पंकज त्रिपाठी ने इंस्टाग्राम पर एक पोस्ट साझा किया जिसे उन्होंने हिंदी में कैप्शन दिया, “भारत ज़मीन का टुकड़ा नहीं, जीता जगत राष्ट्रपुरुष है! ये पंक्तियाँ लिखने वाली महान नेता श्री अटल बिहारी वाजपेयी जी की भूमिका मुझे बड़े परदे पर साकार करने का अवसर मिल रहा है. ये मैं अपने सौभाग्य मानता हूं. #अटल जल ही.”

बायोपिक की घोषणा 28 जून को हो गई थी

वैसे बायोपिक की घोषणा 28 जून, 2022 को की गई थी. जब से यह घोषणा की गई थी तब से दर्शकों की दिलचस्पी यह जानने में थी कि अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee) की भूमिका कौन निभाएगा. मिर्जापुर स्टार पंकज त्रिपाठी ने फिल्म के लिए निर्माताओं के साथ सहयोग किया है. जिसे रवि जाधव द्वारा निर्देशित किया जाएगा और उत्कर्ष नैथानी द्वारा लिखा गया है.

मैं रहूं या ना रहूं ये देश रहना चाहिए अटल पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee) के जीवन के इर्द-गिर्द घूमती है. पूर्व पीएम बीजेपी के सह-संस्थापकों में से एक थे और भारतीय जनता पार्टी (BJP) के एक वरिष्ठ नेता भी थे.

 पूर्व पीएम Atal Bihari Vajpayee की बायोपिक में पंकज त्रिपाठी मेन किरदार में नज़र आएंगे
पूर्व पीएम Atal Bihari Vajpayee की बायोपिक में पंकज त्रिपाठी मेन किरदार में नज़र आएंगे

इसके अलावा, ‘मैं रहूं या ना रहूं, ये देश रहना चाहिए-अटल’ फिल्म अगले साल क्रिसमस के मौके पर सिनेमाघरों में दस्तक देगी. अगले साल पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी की 99वीं जयंती है.

इन दिन हुआ था पूर्व पीएम का निधन

देश के प्रमुख नेताओं में से एक और भारतीय जनता पार्टी के संस्थापक सदस्यों में से एक पूर्व पीएम वाजपेयी का लंबी बीमारी के बाद 16 अगस्त, 2018 को अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) में निधन हो गया था. वह 93 वर्ष के थे.

जानकारी के मुताबिक, दिवंगत नेता को 2015 में भारत रत्न से सम्मानित किया गया था. उन्हें 1994 में सर्वश्रेष्ठ सांसद के लिए पंडित गोविंद बल्लभ पंत पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया था.

पंकज त्रिपाठी ने अटल जी की भूमिका पर साझा की यह बातें

अटल जी की भूमिका निभाने के बारे में बोलते हुए, पंकज त्रिपाठी ने कहा की, “ऐसे मानवीय राजनेता को पर्दे पर चित्रित करना मेरे लिए सम्मान की बात है. वह न केवल एक राजनेता थे. बल्कि उससे कहीं अधिक, वह एक उत्कृष्ट लेखक और एक प्रसिद्ध कवि थे. उनकी जगह पर होना बहुत अच्छा है. मेरे जैसे अभिनेता के लिए कुछ भी नहीं बल्कि एक विशेषाधिकार है.”

निर्देशक रवि जाधव ने आगे कहा की, “मेरे लिए एक निर्देशक के रूप में मैं अटलजी की कहानी से बेहतर कोई और कहानी नहीं मांग सकता था. सबसे बड़ी बात यह है कि पंकज त्रिपाठी जैसे एक अनुकरणीय अभिनेता को अटलजी की कहानी को स्क्रीन पर लाने और उनके समर्थन के लिए मई धन्यवाद देता हूँ. मुझे उम्मीद है कि मैं अटल के साथ लोगों की उम्मीदों पर खरा उतर सकता हूं.”

One thought on “पूर्व पीएम Atal Bihari Vajpayee की बायोपिक में पंकज त्रिपाठी मेन किरदार में नज़र आएंगे”

Leave a Reply