Pallonji Mistry: बिज़नस टाइकून पालोनजी मिस्त्री का हुआ निधन, 50 से ज्यादा देशों में फैला है कारोबार, इतने अमीर हैं की...

Pallonji Mistry: बिज़नस टाइकून पालोनजी मिस्त्री (Pallonji Mistry) अरबपति उद्योगपति थे. इनका निधन 93 साल की उम्र में हो गया है. 150 वर्ष से अधिक पुराना, शापूरजी (Shapoorji) पालोनजी ग्रुप (Pallonji Group) भारत (India) की सबसे बड़ी व्यापारिक फर्मों में से एक है और एकांतप्रिय अरबपति पालोनजी मिस्त्री को इसकी सफलता का श्रेय दिया जाता है.

Pallonji Mistry नामी अरबपति उद्योगपति थे

ANI की ख़बर के मुताबिक, शापूरजी (Shapoorji) पालोनजी ग्रुप के चेयरमैन पालोनजी मिस्त्री का 93 साल की उम्र में निधन हो गया. शापूरजी पालोनजी ग्रुप (Shapoorji Pallonji Group) देश के सबसे प्रतिष्ठित कारोबारी घरानों में से एक है. (Shapoorji Pallonji Group)  का कारोबार कंस्ट्रक्शन, इंजीनियरिंग, रियल एस्टेट समेत कई अन्य फील्ड में फैला हुआ है.

मिली जानकारी  के मुताबिक, शापूरजी पालोनजी ग्रुप (Shapoorji Pallonji Group) के पास तकरीबन 50,000 कर्मचारी हैं. कंपनी की ओर से कहा जाता है कि यह ग्रुप दुनिया के 50 देशों में कारोबार कर रही है. ब्लूमबर्ग बिलिनेयर इंडेक्स के मुताबिक, उनकी कुल संपत्ति 28.9 बिलियन डॉलर है और वे दुनिया में 41वें सबसे रईस थे.

इसके साथ ही शापूरजी पालोनजी ग्रुप के सास देश की प्रतिष्ठित कंपनी टाटा संस (Tata Sons) में 18.37 फीसदी की हिस्सेदारी है. कुछ साल पहले ही पालोनजी मिस्त्री के बेटे साइरस मिस्त्री को टाटा संस का चेयरमैन नियुक्त किया गया था. लेकिन बाद में विवाद के चलते उन्हें अपने पद से इस्तीफा देना पड़ा था.

पारसी परिवार में जन्में थे मिस्त्री

भारत के सबसे पुराने बिजनेसमैन में से एक पालोनजी (Pallonji Mistry) का जन्म गुजरात में एक पारसी परिवार में हुआ था. पालोनजी को सबसे अमीर पारसी व्यक्ति भी कहा जाता था. चूंकि उनके पास आयरलैंड (Ireland) की भी नागरिकता थी, इस कारण वह आयरलैंड (Ireland) के सबसे अमीर व्यक्ति थे. शापोरजी पालोनजी ग्रुप की स्थापना साल 1865 में हुई थी.

जानकारी के मुताबिक, शापूरजी पालोनजी ग्रुप इस समय वित्तीय संकट से गुजर रहा है. कंपनी पर कर्ज का बोझ लगातार बढ़ रहा है. उद्योग क्षेत्र में उनके योगदान को देखते हुए साल 2016 में उन्हें भारत (India) का तीसरा सबसे बड़ा नागरिक सम्मान पद्म भूषण (Padma Bhushan) से सम्मानित किया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published.