September 25, 2022
पाकिस्तान का कराची शहर रहने के लिए दुनिया का सबसे ख़राब स्थान

पाकिस्तान का कराची शहर रहने के लिए दुनिया का सबसे ख़राब स्थान

Spread the love

Karachi: इकोनॉमिस्ट इंटेलिजेंस यूनिट (ईआईयू) द्वारा जारी ग्लोबल लिवेबिलिटी इंडेक्स (Global Liveability Index ) की 2022 की रिपोर्ट में पाकिस्तान का कराची (Karachi)  फिर से दुनिया का सबसे बेकार शहर माना गया है.

कराची है दुनिया का सबसे खराब देश

ANI से मिली जानकारी के मुताबिक, न्यूज इंटरनेशनल ने बताया कि रिपोर्ट ने पांच कारकों के आधार पर 172 शहरों का विश्लेषण और चिह्नित किया है. जो बुनियादी ढांचे, स्वास्थ्य देखभाल, शिक्षा, संस्कृति और मनोरंजन हैं. घटते विदेशी मुद्रा भंडार और बढ़ती मुद्रास्फीति के साथ, पाकिस्तान आर्थिक पतन के कगार पर है.

और श्रीलंका के आर्थिक पतन के समान पथ की ओर बढ़ रहा है. पाकिस्तान के मौजूदा आर्थिक सूचकांक (economic indices) काफी खराब हैं. यूएनडीपी के अनुसार, पाकिस्तान 250 बिलियन अमरीकी डालर से अधिक के कर्ज का सामना कर रहा है और कराची (Karachi) शहर की आर्थिक राजधानी होने के कारण भी गंभीर अस्थिरता के दौर से गुजर रहा है.

जीवन संकट की लागत लाखों लोगों को गरीबी और यहां तक ​​कि लुभावनी गति से भुखमरी की ओर ले जा रही है. और इसके साथ ही बढ़ती सामाजिक अशांति का खतरा दिन पर दिन बढ़ता जा रहा है. फॉरेन एक्सचेंज एसोसिएशन ऑफ पाकिस्तान के अनुसार, 2022 की शुरुआत के बाद से, पाकिस्तानी रुपया अपने मूल्य का 30 प्रतिशत से अधिक खो चुका है.

सामाजिक और आर्थिक स्थिति की वजह से कराची के हैं ऐसे हालात

अधिकारिक  जानकारी के मुताबिक, वैसे तो पाकिस्तान की हालत किसी से छुपी नहीं है. विदेशी मुद्रा भंडार में तेजी से कमी पाकिस्तान के दोहरे घाटे की मुद्रास्फीति, विदेशी मुद्रा प्रवाह की कमी और विदेशी ऋण सेवा दायित्वों में तेज वृद्धि का कारण रही है. पाकिस्तान में मुद्रास्फीति जुलाई में दो अंकों में पहुंच गई, जो लगभग छह वर्षों में सबसे बड़ी वृद्धि है.

इसके अलावा, खराब रहने की स्थिति के अलावा, चोरी, तस्करी, नशीली दवाओं की तस्करी और हिंसा ने सामाजिक और आर्थिक स्थिति को और खराब कर दिया है. पाकिस्तान के शहर कराची में अब आए दिन स्थिति बिगड़ती दिख रही है. जिसकी वजह से कराची को सबसे खराब  शहर माना गया है.

बता दें की, विशेष रूप से, अच्छे बुनियादी ढांचे और स्थिरता के कारण दुनिया के सबसे अधिक रहने योग्य शहर ज्यादातर यूरोप और कनाडा में हैं. ऑस्ट्रिया की राजधानी वियना दुनिया में रहने के लिए शीर्ष 10 स्थानों की सूची में सबसे ऊपर है. वियना ने 2018 और 2019 में भी शीर्ष स्थान हासिल किया.

इसके पहले बेकार शहर घोषित हो चुगा है कराची

इन दिनों पाकिस्तान की आर्थिक और सामाजिक हालत खस्ता है. लेकिन इसके पहले भी पाकिस्तान को दुनिया का सबसे बेकार शहर घोषित किया जा चुगा है. 2017 में आई द इकनॉमिस्ट इंटेलीजेंस यूनिट की ग्लोबल लिवेबिलिटी रिपोर्ट के अनुसार भी, कराची (Karachi) और ढाका दुनिया के सबसे खराब शहरों में गिना गया था.

पाकिस्तान में इन दिनों तंगी के हालात हैं. पाकिस्तान पुरी तरह से क़र्ज़ में डूबा हुआ है. इसके अलावा अब IMF ने भी पाकिस्तान को और क़र्ज़ देने से साफ़ इनकार कर  दिया है. चीन भी पाकिस्तान की कुछ ख़ास मदद नहीं कर रहा है. अगर ऐसा ही चलता रहा तो वो दिन दूर नहीं जब पाकिस्तान के हालात श्रीलंका जैसे हो जाएंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.