September 25, 2022
Spread the love

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री और मौजूदा प्रधानमंत्री के बड़े भाई नवाज शरीफ को ब्रिटेन से अपने गृह देश लौटने के लिए पासपोर्ट जारी कर दिया गया है , जहां वह इलाज करा रहे थे | यह जानकारी सोमवार को पाकिस्तानी मीडिया से मिली | 72 वर्षीय नवाज शरीफ 3 बार पाकिस्तान के प्रधानमंत्री रह चुके हैं |

नवाज के खिलाफ पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान की सरकार द्वारा भ्रष्टाचार के कई मामले शुरू किए गए थे | वह नवंबर 2019 में लाहौर उच्च न्यायालय द्वारा उन्हें इलाज के वास्ते चार सप्ताह के लिए विदेश जाने की अनुमति दिये जाने के बाद लंदन रवाना हुए थे |

नवाज को उनके छोटे भाई एवं पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ के नेतृत्व वाली नयी सरकार द्वारा पासपोर्ट जारी किया गया है | पाकिस्तानी न्यूज़ चैनल ‘जियो न्यूज’ ने बताया कि पासपोर्ट की प्रकृति ‘साधारण’ है और इसे ‘‘तत्काल’ श्रेणी में बनाया गया था |

नवाज शरीफ पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-N) के वरिष्ठ नेता हैं. उन्होंने पिछले हफ्ते लंदन में पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (PPP) के अध्यक्ष बिलावल भुट्टो-जरदारी से मुलाकात की थी और पाकिस्तान की मौजूदा राजनीतिक स्थिति पर चर्चा की थी | दोनों नेताओं ने राजनीतिक और राष्ट्रीय हित से संबंधित कई मुद्दों पर एक साथ काम करने का संकल्प जताया था |

नवाज शरीफ ने 2019 में ब्रिटेन जाने से पहले, लाहौर उच्च न्यायालय को पाकिस्तान लौटने का वचन दिया था परतुं वह वापस नहीं लौटे थे | उनके अनुसार उनकी सेहत ठीक नहीं थी परन्तु नयी सरकार बनते ही उनके वापस आने की अटकले तेज हो गयी थी | अब उनकी पार्टी के लोगों की माने तो वह ईद के समय पाकिस्तान वापस लौट आएंगे |

नवाज को अल-अजीजिया मिल्स भ्रष्टाचार मामले में जमानत दी गई थी, जिसमें वह लाहौर की उच्च सुरक्षा वाली कोट लखपत जेल में सात साल की कैद की सजा काट रहे थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.