Pakistan Floods: पाकिस्तान बहुत तेजी से फ़ैल रहे है संक्रमण रोग, बलोचिस्तान की हालत है सबसे ख़राब

Pakistan Floods: पाकिस्तान में बाढ़ के कारण संक्रमण रोग बहुत तेज़ी से फ़ैल रहा है. पाकिस्तान का सबसे पिछड़ा प्रांत बलूचिस्तान इससे सबसे बुरी तरह से प्रभावित हुआ है. बता दें की, पिछले 24 घंटों में दस्त, त्वचा संक्रमण और मलेरिया के कम से कम 3,963 नए मामले सामने आए हैं.

Pakistan Floods से फैल रही है बीमारियां

पाकिस्तान की मीडिया से मिली जानकारी के मुताबिक बाढ़ (Pakistan Floods) के चलते बहुत से रोग फ़ैल रहे है. बलूचिस्तान ने पिछले 24 घंटों में वायरल रोगों के 3,963 नए मामले दर्ज किए. जिसमें 947 डायरिया (diarrhoea) के मामले, 77 हैजा (cholera) के मामले, श्वसन संक्रमण (respiratory infections) के 1055 मामले, 165 आंखों में संक्रमण (eye infections) और 675 मलेरिया (malaria) के मामले शामिल हैं. जबकि 1043 त्वचा संक्रमण (skin infections) के मामले सामने आए हैं.

बाढ़ (Pakistan Floods) के कारण हुई तबाही के बाद बलूचिस्तान और सिंध पर वायरल बीमारियों (viral diseases) ने अपने पैर पसारे हैं. ARY न्यूज ने बताया कि रुके हुए बाढ़ के पानी ने त्वचा और आंखों में संक्रमण, दस्त, मलेरिया, टाइफाइड और डेंगू बुखार जैसे मामलों को जन्म दिया है. जिससे पाकिस्तान में लोगों के स्वास्थ्य को खतरा पैदा हो गया है.

बलूचिस्तान में सबसे बुरी हालत

एक मीडिया रिपोर्ट में ये दावा किया गया है कि रविवार को बलूचिस्तान (Baloshictan) में वायरल रोगों (viral diseases) के 3,162 नए मामले सामने आए है. जिनमें 859 डायरिया के मामले, हैजा के 50 मामले, श्वसन संक्रमण (respiratory infections) के 862 मामले, आंखों में संक्रमण के 161 मामले और मलेरिया के 5 मामले शामिल हैं. जबकि पिछले 24 घंटों में 994 त्वचा संक्रमण के मामले सामने आए हैं. देश में मलेरिया के मामलों की संख्या 229 हो गई थी.

एक्सप्रेस ट्रिब्यून के अनुसार, सरकार, स्थानीय और विदेशी राहत संगठनों के प्रयासों के बाद भी बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में कई लोगों को भोजन और दवा नहीं मिल पा रही है. जिसकी वजह से अब लोगों की जान पर बन आई है. एक सर्वे के अनुसार, पैसो की कमी से जूझ रहे देश में लाखों लोगों की जान लेने वाली बाढ़ और बारिश पर सरकार की प्रतिक्रिया से लोग नाखुश हैं.

DAWN अखबार की रिपोर्ट के अनुसार, तीन बाढ़ प्रभावित प्रांतों के 14 जिलों के 38 आपदा प्रभावित इलाकों में समुदाय के अधिकृत कार्यकर्ताओं द्वारा सर्वे किया गया है. सर्वे में कहा गया है की, 92 प्रतिशत लोग बाढ़ के चलते अपने गाँव छोड़ने को मजबूर हैं. लोगो में गुस्सा है की उनके मुल्क की सरकार अपनी आवाम के लिए कुछ नहीं कर रही है.

लोग सड़कों पर खुले आसमान के नीचे रहने को हैं मजबूर

6 सप्ताह की बाढ़ के बाद, 15 स्थानों के कई परिवार सड़कों पर और बिना टेंट के खुले आसमान के नीचे रहने को मजबूर हैं. इस साल जून से, पाकिस्तान ने मानसून को देखा है. अब पाकिस्तान में बाढ़ और बारिश के चलते मानवीय और विकास संकट पैदा हो गया है.

सरकारी अनुमानों के अनुसार, देश भर में लगभग 33 मिलियन (3.3 Crore) लोग लगातार भारी बारिश और बाढ़ से प्रभावित हुए हैं. जो बीते दशकों में सबसे खराब है. लाखों एकड़ फसलें और बाग क्षतिग्रस्त और नष्ट हो गए हैं. पाकिस्तान में ज्यादातर परिवार और देश की अर्थव्यवस्था कृषि जीविका और आजीविका पर निर्भर है.

One thought on “Pakistan Floods: पाकिस्तान में बहुत तेजी से फ़ैल रहे है संक्रमण रोग, बलोचिस्तान की हालत है सबसे ख़राब”
  1. […] पाकिस्तान में 20 लाख से अधिक लोग बेघर हो गए हैं. वहां पर लोगों को सिर्फ एक वक़्त का खाना मिल रहा है. पाकिस्तान पहले से ही कर्जे में डूबा हुआ है. आने वाले समय में संयुक्त राष्ट्र ने स्थिति के बिगड़ने के संकेत दिए हैं. […]

Leave a Reply