Pakistan सेना प्रमुख जनरल ने LOC के दौरे के दौरान भारत के खिलाफ दिखाए तीखे तेवर

Pakistan: पाकिस्तान (Pakistan) के नव नियुक्त सेना प्रमुख ने कहा है कि यदि अगर किसी देश द्वारा हम पर हमला हुआ तो सेना देश की रक्षा के लिए तैयार है. पाकिस्तान (Pakistan) के लेफ्टिनेंट जनरल असीम मुनीर ने शनिवार को कहा है की, “मैं स्पष्ट रूप से यह स्पष्ट कर देना चाहता हूं कि पाकिस्तान की सशस्त्र सेना न केवल हमारी मातृभूमि के एक-एक इंच की रक्षा के लिए बल्कि दुश्मन के खिलाफ लड़ाई वापस लेने के लिए भी तैयार है.”

Pakistan के सेना प्रमुख के बयान पर कांग्रेस नेता हरीश रावत ने कहीं ये बातें

प्रेस न्यूज़ से मिली जानकारी के मुताबिक, पाक अधिकृत कश्मीर (POK) पर पाकिस्तान के नए सेना प्रमुख असीम मुनीर के बयान पर रविवार को कांग्रेस नेता हरीश रावत ने करारा जवाब देते हुए कहा कि यह पीओके (POK) को वापस लेने का समय है. कांग्रेस नेता हरीश रावत ने कहा कि फिलहाल पाकिस्तान कमजोर स्थिति में है और यही वह वक्त है जब हम पाकिस्तान से पीओके ले सकते हैं.

हरीश रावत ने कहा है की, “पीओके (POK) को पाकिस्तान (Pakistan) के अवैध कब्जे से मुक्त कराना हमारी जिम्मेदारी है. हमने कांग्रेस सरकार के समय संसद में प्रस्ताव पारित किया था. अब मोदी सरकार को इसे भी अपने एजेंडे में शामिल करना चाहिए. कमजोर स्थिति में, यही वह समय है जब हम पाकिस्तान से पीओके ले सकते हैं.”

Pakistan सेना प्रमुख जनरल ने LOC के दौरे के दौरान भारत के खिलाफ दिखाए तीखे तेवर
Pakistan सेना प्रमुख जनरल ने LOC के दौरे के दौरान भारत के खिलाफ दिखाए तीखे तेवर

पाकिस्तान अपने ऊपर होने वाले हर हमलों का देगा जवाब

उत्तरी सेना के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल उपेंद्र द्विवेदी के बयान का उल्लेख करते हुए कहा है कि भारतीय सेना पाकिस्तान (Pakistan) के कब्जे वाले कश्मीर को वापस लेने जैसे आदेशों को पूरा करने के लिए तैयार है. बता दें की, सीओएएस (COAS) जनरल सैयद असीम मुनीर ने अपनी नियुक्ति के एक सप्ताह के भीतर कहा है कि, “अगर उनके देश पर हमला किया जाता है. तो प्रतिष्ठान अपनी मातृभूमि की रक्षा करें और दुश्मन से भी लड़ें.”

प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार पाकिस्तान (Pakistan) के नए सेना प्रमुख ने कहा है की, “मैं स्पष्ट रूप से स्पष्ट कर दूं, पाकिस्तान की सशस्त्र सेना न केवल हमारी मातृभूमि के एक-एक इंच की रक्षा के लिए बल्कि दुश्मन से लड़ाई वापस लेने के लिए भी तैयार है. यदि कभी भी, युद्ध हम पर थोपा जाता है.”

भारत के रक्षा मंत्री ने दिया था यह बयान

बताया जा रहा है की, भारत के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने अक्टूबर के अंत में कहा था कि नई दिल्ली पाकिस्तान के अर्ध-स्वायत्त क्षेत्र गिलगित-बाल्टिस्तान तक पहुंचने के लिए तैयार है. भारत का कहना है कि गिलगित-बाल्टिस्तान कश्मीर का हिस्सा है और इस पर पाकिस्तान का अवैध कब्जा है.

दक्षिण एशिया विशेषज्ञ माइकल कुगेलमैन ने ट्वीट किया है की, “भारत पर तीखी बयानबाजी का अनुमान लगाया जा सकता है. क्योंकि नए प्रमुख अब एक मजबूत स्वर सेट करना चाह रहे हैं.”

इस्लामाबाद ने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के बयान को हास्यास्पद बताया और कहा कि यह नई दिल्ली की विस्तारवादी मानसिकता और अपने पड़ोसी के प्रति शत्रुता का प्रतिनिधित्व करना. दोनों दक्षिण एशियाई परमाणु शक्तियां पूरे कश्मीर पर दावा करती हैं. लेकिन इसके कुछ हिस्सों पर उनका कब्ज़ा है. उन्होंने कश्मीर के लिए तीन में से दो युद्ध हिमालयी क्षेत्र पर लड़े हैं.

Leave a Reply