केंद्रीय मंत्री Nitin Gadkari ने पश्चिम बंगाल में 1,082 करोड़ रुपये की 2 राजमार्ग परियोजनाओं का उद्घाटन

Nitin Gadkari: सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय द्वारा एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया है की, केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री, नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) ने पश्चिम बंगाल के रायगंज में 1,082 करोड़ रुपये की 2 NH परियोजनाओं का उद्घाटन किया है.

Nitin Gadkari ने पश्चिम बंगाल को दी यह सौगात

ANI से मिली जानकारी के मुताबिक, केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री, नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) ने कहा कि डालखोला (NH-34) के लोगों की 60 साल पुरानी मांग को पूरा करते हुए 120 करोड़ रुपये की लागत से बने इस 5 किमी और 4 लेन के बाइपास से डालखोला कस्बे की ट्रैफिक समस्या का समाधान हो जाएगा.

आगे उन्होंने (Nitin Gadkari) कहा की, इसके अलावा बाइपास और आरओबी (ROB) बनने से सिलीगुड़ी से कोलकाता की यात्रा में दो घंटे की कमी आएगी. अधिकारिक बयान के अनुसार, इस जगह से बांग्लादेश, भूटान और नेपाल के सीमावर्ती क्षेत्रों में आवाजाही में भी सुधार होगा.

इन क्षेत्रों के बीच बढ़ेगा संपर्क

इसके आगे उन्होंने (Nitin Gadkari) कहा की, 962 करोड़ रुपये की कुल लागत से निर्मित, रानीगंज से डालखोला खंड को 4 लेन करने से पश्चिम मेदिनीपुर और बांग्लादेश की सीमाओं के बीच पूरा संपर्क में सुधार हुआ है. यह खंड बंगाल और उत्तर पूर्वी क्षेत्र के बीच संपर्क को भी बढ़ाएगा.

केंद्रीय मंत्री Nitin Gadkari ने पश्चिम बंगाल में 1,082 करोड़ रुपये की 2 राजमार्ग परियोजनाओं का उद्घाटन
केंद्रीय मंत्री Nitin Gadkari ने पश्चिम बंगाल में 1,082 करोड़ रुपये की 2 राजमार्ग परियोजनाओं का उद्घाटन

इससे पहले दिन में, केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री, नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) ने सिलीगुड़ी में 1,206 करोड़ रुपये की तीन राष्ट्रीय राजमार्ग परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास किया था.

तीस्ता नदी पर जल्द ही 1,100 करोड़ रुपये की लागत से बनेगा पुल

केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री, नितिन गडकरी ने यह कहते हुए कि अन्य बुनियादी ढांचा परियोजनाएं पाइपलाइन में हैं. उन्होंने यह भी घोषणा की कि तीस्ता नदी पर जल्द ही 1,100 करोड़ रुपये की लागत से एक पुल बनाया जाएगा. यह कहते हुए कि अन्य बुनियादी ढांचा परियोजनाएं पाइपलाइन में हैं.

केंद्रीय मंत्री गडकरी ने कहा कि उत्तर बंगाल में बुनियादी ढांचे की वजह से पर्यटन उद्योग को बढ़ावा मिलेगा. उन्होंने कहा की, इन परियोजनाओं पर काम दिसंबर में शुरू होगा. इस क्षेत्र को 5.12 किलोमीटर लंबी छह लेन की सड़क, 3.6 किलोमीटर की चार लेन की सड़क और 3.7 किलोमीटर की एक और एलिवेटेड सड़क मिलेगी.

कार्यक्रम में अचानक बिगड़ी केंद्रीय मंत्री की तबीयत

उन्होंने कहा, “ये परियोजनाएं कनेक्टिविटी में सुधार करने और दार्जिलिंग, सिक्किम और भूटान जाने वाले यात्रियों के समय को बचाने में मदद करेंगी.” केंद्रीय मंत्री को उत्तर दिनाजपुर के रायगंज में दो और राष्ट्रीय राजमार्ग परियोजनाओं और पश्चिम मेदिनीपुर जिले के खड़गपुर में चार अन्य परियोजनाओं का शिलान्यास करना था. सिलीगुड़ी में बीमार पड़ने के कारण उन स्थानों पर नहीं जा पाए.

ऐसा बताया जा रहा है की, कार्यक्रम मंच के पास एक कमरे में चाय पी रहे थे. तभी उनकी तबीयत अचानक खराब हो गई. नेओटिया अस्पताल (Neotia  Hospital) के जाने माने डॉक्टर पीबी भूटिया खुद नितिन गडकरी की देख रेख कर रहे हैं. दरअसल, गडकरी का शूगर लेवल गिर गया था और वे थोड़े असहज हो गए थे. हालाँकि, बताया जा रहा है की अब उनकी तबीयत बिलकुल सही है. लेकिन अकसर उनकी तबीयत ऐसे अचानक खराब हो जाती है.

 

Leave a Reply