Mangaluru auto blast मामले में NIA करेगी जाँच

Mangaluru auto blast: मंगलुरु में शनिवार को एक चलते ऑटो रिक्शा में विस्फोट (Mangaluru auto blast) हो गया था. जिसमें दो लोग घायल हो गए थे. पुलिस शुरू में घटना को ‘विस्फोट’ नहीं बता रही थी. पुलिस का कहना था की, यह कोई विस्फोट (Mangaluru auto blast) नहीं है. आग की वजह से ऑटो में यह हादसा हुआ है. लेकिन अब बताया जा रहा है की यह एक आतंकवादी हमला था. ऐसी खबर आ रही है की, अब मामले की जांच NIA करेगी.

Mangaluru auto blast दिल दहला देने वाला था

अधिकारिक मीडिया से मिली जानकारी के मुताबिक, मंगलुरु ऑटोरिक्शा विस्फोट (Mangaluru auto blast) को राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) को सौंपे जाने की संभावना है. मंगलुरु ऑटोरिक्शा विस्फोट (Mangaluru auto blast) में पुलिस ने आरोपी की पहचान शारिक के रूप में की है. जिसे कांकनाडी थाना क्षेत्र में एक ऑटोरिक्शा में हुए विस्फोट के कारण 40-45 प्रतिशत जलने के बाद कर्नाटक के मंगलुरु में फादर मुलर अस्पताल में भर्ती कराया गया है. मंगलुरु शहर में शनिवार शाम करीब 5 बजे यह घटना हुई थी.

मंगलुरु शहर के पुलिस आयुक्त (CP) एन शशि कुमार ने 19 नवंबर को कहा था कि ऑटो चालक और यात्री झुलस गए हैं और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है. इसके अलावा बता दें की, जब ऑटो रिक्शा चालक (Mangaluru auto blast) से पूछताछ की गई, तो उसने पुलिस को बताया कि यात्री अपने बैग में कुछ ले जा रहा था. जिसमें आग लग गई और वह वाहन में फैल गई थी.

Mangaluru auto blast मामले में NIA करेगी जाँच
Mangaluru auto blast मामले में NIA करेगी जाँच

आतंकी साजिश था यह विस्फोट

आगे की जांच ने पुलिस ने इसे एक आतंकी साजिश बताया है. इसमें जांचकर्ताओं ने मुख्य संदिग्ध के घर से विस्फोटक सामग्री के साथ ही कई नकली पहचान पत्र बरामद किए हैं. विशेष रूप से, रविवार को मंगलुरु ऑटोरिक्शा विस्फोट मामले में एक बड़ी सफलता में पुलिस महानिदेशक आलोक कुमार ने घटनास्थल का दौरा किया और कहा कि बम क्षेत्र में लोगों को डराने का प्रयास किया गया था.

वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा, “इलाके में सौहार्द और शांति बिगाड़ने की कोशिश की गई है.” आगे पुलिस महानिदेशक का कहना है की, मंगलुरु में शनिवार को एक चलते हुए ऑटो रिक्शा में विस्फोट हो गया. जिससे आग और भारी धुआं फैल गया और चालक और एक यात्री झुलस गए हैं.

धमाके के बाद ऑटोरिक्शा से एक कुकर बरामद किया गया था

आगे उन्होंने बताया की, जिस यात्री पर फर्जी आईडी होने का संदेह था. वह नागौरी में मैंगलोर रेलवे जंक्शन क्षेत्र से आ रहे ऑटो रिक्शा में सवार हुआ था. बता दें की, धमाके के बाद ऑटोरिक्शा से एक कुकर बरामद किया गया था. विस्फोट के बाद राज्य पुलिस हाई अलर्ट पर है. हवाईअड्डों, रेलवे स्टेशनों, बाजारों, बस स्टैंडों और पर्यटन स्थलों सहित अन्य स्थानों पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है.

मंगलुरु में विस्फोट के एक दिन बाद, कर्नाटक के पुलिस महानिदेशक प्रवीण सूद ने रविवार को कहा कि रहस्यमय विस्फोट एक आतंकी घटना थी और इस घटना की गहरी जांच चल रही है.

डीजीपी (DGP) ने एक ट्वीट में कहा, “अब इसकी पुष्टि हो गई है. विस्फोट आकस्मिक नहीं है. बल्कि गंभीर नुकसान पहुंचाने के इरादे से किया गया आतंकी कृत्य है. कर्नाटक राज्य पुलिस केंद्रीय एजेंसियों के साथ इसकी गहन जांच कर रही है.”

Leave a Reply