Nepal और भारत में आया भूकंप, Nepal की क्षति पर पीएम देउबा ने लोगों की मौत पर व्यक्त किया शोक

Nepal: अधिकारियों ने कहा कि बुधवार तड़के नेपाल (Nepal) में 6.6 तीव्रता का भूकंप आया है. इस भूकंप में कम से कम छह लोगों की मौत हो गई है. नेपाल (Nepal) के पश्चिमी जिले डोती में कई घर नष्ट हो गए हैं. ना सिर्फ नेपाल बल्कि भारत भी भूकंप (Earthquake) के झटकों से हिला है.

Nepal में हुई ज्यादा क्षति, प्रधानमंत्री ने व्यक्त की संवेदना

नेपाल (Nepal) के प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउबा ने बुधवार को 6.3 तीव्रता के भूकंप (Earthquake) में जान गंवाने वालों के परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त की है. प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउबा ने ट्वीट कर के कहा है की,

“भूकंप में मारे गए लोगों के परिवारों के प्रति अपनी हार्दिक संवेदना व्यक्त करता हूँ. भूकंप सुदूर पश्चिम के खाप्टाड क्षेत्र में केंद्रित था. साथ ही, मैंने संबंधित एजेंसियों को प्रभावित क्षेत्रों में राहत और बचाव में घायलों और पीड़ितों के तत्काल और उचित इलाज की व्यवस्था करने का निर्देश दिया है.”

नेपाल के प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउबा का अधिकारिक ट्वीट…

नेपाल (Nepal) में आए भूकंप में स्थानीय मीडिया ने नष्ट हुए मिट्टी और ईंट के घरों की फोटो साझा की हैं. साथ ही बचे हुए लोगों की मलबे में तलाश करने वाले बचाव दल के दृश्य को भी दिखाया गया है. नेपाली सेना के प्रवक्ता नारायण सिलवाल ने बताया कि भूकंप (Earthquake) में कम से कम दो लोगों के लापता होने की खबर है.

भूकंप से लोग बुरी तरह से घायल हो गए हैं

नेपाल (Nepal) के डोटी के पुलिस उपाधीक्षक भोला भट्टा ने गृह मंत्रालय के अधिकारी तुलसी रिजाल द्वारा साझा किए गए एक पुराने आंकड़े की पुष्टि करते हुए कहा कि आठ घरों के ढहने से पांच अन्य लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं. प्रवक्ता सिलवाल ने कहा कि “नेपाली सेना का एक जमीनी बचाव दल घटनास्थल पर भेजा गया है और दो हेलीकॉप्टर पास के सुरखेत और नेपालगंज शहरों में खड़े हैं.”

Nepal और भारत में आया भूकंप, Nepal की क्षति पर पीएम देउबा ने लोगों की मौत पर व्यक्त किया शोक
Nepal और भारत में आया भूकंप, Nepal की क्षति पर पीएम देउबा ने लोगों की मौत पर व्यक्त किया शोक

डोटी जिले में पूर्वी चौकी ग्रामीण नगर पालिका के अध्यक्ष प्रत्यक्षदर्शी राम उपाध्याय ने कहा कि, “नेपाल के समयानुसार तड़के 2 बजे भूकंप आया. जिसके बाद से सब कुछ हिल गया. लोग बुरी तरह से घबरा गए हैं. हम अभी भी भूकंप में मारे गए लोगो के शवों को तलाश रहे हैं.”

2015 के भूकंप से आज भी नहीं उभर पाया है नेपाल

बता दें की, नेपाल में आए  2015 में दो बड़े भूकंपों की भरपाई आज तक नहीं हो पाई है. उन भूकंपों में लगभग 9,000 लोग मारे गए थे. और कई घर और मंदिर बुरी तरह से नष्ट हो गए थे. बताया जाता है की नेपाल की अर्थव्यवस्था को $ 6 बिलियन का झटका लगा था. इस भूकंप में  2,000 से अधिक घायल हुए थे. नेपाल के साथ-साथ चीन, भारत और बांग्लादेश में भी लगभग 250 लोगों की मौत की पुष्टि हुई थी.

वहीँ अगर भारत में आये भूकंप (Earthquake) की बात करें तो, दिल्ली-एनसीआर में भूकंप (Earthquake in Delhi NCR) के तेज झटके महसूस किए गए हैं. दिल्ली के साथ ही नोएडा और गुरुग्राम में भी कई सेकेंड तक भीषण झटके महसूस किए गए. इसके कारण लोग उठ गए और कई लोग अपनी सोसायटी में बाहर निकल आए.

Leave a Reply