September 25, 2022
Nepal-India Electricity: भारतीय बिजली से अब रोशन होंगे नेपाली घर, खरीदेगा 365MW बिजली

Nepal-India Electricity: भारतीय बिजली से अब रोशन होंगे नेपाली घर, खरीदेगा 365MW बिजली

Spread the love

Nepal-India Electricity: मीडिया रिपोर्टों की माने तो नेपाल (Nepal) भारत से 365MW बिजली खरीदेगा. ये बिजली उस वक़्त खरीदी जाएगी जब नेपाल की नदी जल विद्युत परियोजनाओं का उत्पादन कम हो जाता है.

India Electricity से रोशन होंगे Nepal के घर

ANI से मिली जानकारी के मुताबिक, नेपाल विद्युत प्राधिकरण (NEA) ने भारतीय ऊर्जा विनिमय बाजार से प्रतिस्पर्धी बोली (competitive bidding) के माध्यम से लंबी अवधि के आधार पर बिजली खरीदने जा रहा है. नेपाल विद्युत प्राधिकरण (NEA) का कहना है की, सर्दियों में भारतीय ऊर्जा से नेपाली घर रोशन होंगे.

मिली जानकारी के मुताबिक, एक निविदा नोटिस (tender notice) जारी करके, राज्य के स्वामित्व वाली बिजली उपयोगिता निकाय (state-owned power utility body) ने कहा कि वह इस साल 1 दिसंबर से अगले साल 31 मई तक (Nepal-India Electricity) भारतीय बिजली व्यापारियों से 365MW तक की खरीद करेगी.

निविदा नोटिस (tender notice) में कहा गया है की,

“नेपाल विद्युत प्राधिकरण (NEA) की योजना मुजफ्फरपुर सबस्टेशन से ढलकेबार-मुजफ्फरपुर क्रॉस-बॉर्डर ट्रांसमिशन लाइन के माध्यम से 300MW और टनकपुर सबस्टेशन के माध्यम से अतिरिक्त 65MW की बिजली की डिलीवरी लेगी है. बिजली चौबीसों घंटे खरीदी जाएगी.”

वर्तमान में भी बिजली का निर्यात कर रहा Nepal

बता दें की, नेपाल (Nepal) वर्तमान में बिजली का निर्यात कर रहा है. नेपाल इस वक़्त निर्यात करने में इस लिए सक्षम है क्योंकि मानसून का मौसम है. नेपाल की तरफ से कहा गया है की, वो सर्दियों के मौसम में बिजली आयात करेगा क्योंकि उस वक़्त नदियों में पर्यात पानी नहीं रहता है.

NEA के अनुसार, वर्तमान में नेपाल की बिजली परियोजनाओं की कुल क्षमता लगभग 2,200MW है. जबकि बुधवार को बिजली की अधिकतम मांग 1866MW थी. राज्य के स्वामित्व वाली बिजली उपयोगिता निकाय (state-owned power utility body) लंबे समय से सरकार से सरकारी सौदों के तहत भारत से बिजली खरीद रही है. खासकर उस मौसम में जो दिसंबर से मई तक चलता है.

नेपाल विद्युत प्राधिकरण (NEA) ने हाल ही में भारतीय बिजली विनिमय बाजार से दैनिक आधार पर बिजली खरीदना शुरू किया था. नेपाल विद्युत प्राधिकरण (NEA) के आर्थिक विश्लेषण प्रभाग के प्रमुख जयराज भंडारी ने कहा की, “यह पहली बार है कि हम लंबी अवधि की बिजली आपूर्ति के लिए प्रतिस्पर्धी बोली  (competitive bidding) प्रक्रिया के माध्यम से भारत से बिजली खरीदने की कोशिश कर रहे हैं.”

दिसंबर से अगले साल फरवरी तक Electricity खरीदी जाएगी

नेपाल विद्युत प्राधिकरण (NEA) द्वारा प्रकाशित दस्तावेज के अनुसार, इस साल दिसंबर से अगले साल फरवरी तक 265MW और मार्च से मई तक 365MW खरीदने की योजना है. इसकी छह महीने में टनकपुर डिलीवरी पॉइंट के माध्यम से 65MW खरीदने की योजना है और मुजफ्फरपुर डिलीवरी पॉइंट से 200MW दिसंबर से फरवरी तक खरीदी जाएगी और 300MW मार्च से मई तक खरीदा जाएगा.

पावर ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म इंडिया एनर्जी एक्सचेंज लिमिटेड (India Energy Exchange Limited) से रोज़ बिजली खरीदने के बजाए नेपाल विद्युत प्राधिकरण (NEA) अब भारत से एक साथ ज्यादा बिजली खरीदने की योजना बना रहा है.

नेपाल विद्युत प्राधिकरण (NEA) के आर्थिक विश्लेषण प्रभाग के प्रमुख जयराज भंडारी ने कहा की,

“जब नेपाल पिछले सूखे मौसम में भारत से बिजली आयात करने के लिए दिन-ब-दिन बाजार पर निर्भर था. तो हम उतना आयात नहीं कर सके जितना हम चाहते थे. भारत से आपूर्ति कम होने के कारण NEA को इस साल मार्च से मई तक कुछ औद्योगिक गलियारों में बिजली की आपूर्ति में कटौती करने के लिए मजबूर होना पड़ा. क्योंकि कोयले की वैश्विक कमी के बीच पड़ोसी देश खुद पर्याप्त बिजली का उत्पादन करने में विफल रहा है”

Leave a Reply

Your email address will not be published.