Myanmar की सेना ने अपने ही देश में की एयर स्ट्राइक, 80 लोगों की हुई मौत

Myanmar: म्यांमार (Myanmar) की सेना ने अपने ही लोगों पर एयर स्ट्राइक की है.  म्यांमार की सेना द्वारा किए गए हवाई हमलों में गायकों और संगीतकारों सहित 80 से अधिक लोग मारे गए. म्यांमार में इस वक़्त अफरा-तफरी का माहौल है.

Myanmar ने किया एयर स्ट्राइक

रायटर्स से मिली जानकारी के मुताबिक, काचिन जातीय अल्पसंख्यक समूह के सालगिरह समारोह में शामिल हुए लोगों पर हमला किया गया है. रविवार की रात काचिन स्वतंत्रता संगठन की स्थापना का जश्न मनाने के लिए इकट्ठा हुए सैकड़ों लोगों पर बमबारी हुई. जिसमें 80 लोगों की मौत हो गई. और सौ से अधिक लोग घायल हो गए हैं.

Myanmar की सेना ने अपने ही देश में की एयर स्ट्राइक, 80 लोगों की हुई मौत
Myanmar की सेना ने अपने ही देश में की एयर स्ट्राइक, 80 लोगों की हुई मौत

बताया जा रहा है की, फरवरी 2021 में म्यांमार (Myanmar) की सेना द्वारा सत्ता पर कब्जा करने के बाद से यह सबसे खराब हवाई हमला है. काचिन आर्टिस्ट्स एसोसिएशन के एक प्रवक्ता ने सोमवार को फोन पर एसोसिएटेड प्रेस समाचार एजेंसी को बताया कि,

“हमले में कम से कम 80 लोग मारे गए और लगभग 100 घायल हो गए हैं.” आगे प्रवक्ता ने कहा कि, “शुरुआती रिपोर्टों में 60 लोगों की मौत हुई थी. लेकिन काचिन इंडिपेंडेंस आर्मी के अधिकारियों के करीबी सूत्रों ने बताया कि अब लगभग 80 लोगों की मौत हो गई है.”

सेना ने गिराए चार बम

उन्होंने कहा कि सैन्य विमानों ने रविवार शाम समारोह में चार बम गिराए थे. जिसमें संगीतकारों और अन्य कलाकारों सहित 300 से 500 लोगों ने भाग लिया था. उन्होंने आगे कहा कि मारे गए लोगों में काचिन सैन्य अधिकारी और सैनिक, संगीतकार, जेड खनन व्यवसाय के मालिक, अन्य नागरिक और मंच के पीछे काम करने वाले रसोइये भी शामिल हैं.

मृतकों में एक काचिन गायक और कीबोर्ड प्लेयर शामिल हैं. काचिन आर्टिस्ट्स एसोसिएशन के एक प्रवक्ता का कहना है की मृतक लोगों की पहचान करने से लोग डर रहें हैं क्योंकि अगर उन्होंने सही सही पहचान की तो स्थाई सेना उनको छोड़ेगी नहीं.

स्थाई  मीडिया ने सच को किया उजागर

बताया जा रहा है की हमले के बारे में दुनिया को बताना आसन नहीं था. लेकिन फिर भी म्यांमार (Myanmar) में काचिन के प्रति सहानुभूति रखने वाले मीडिया ने वीडियो पोस्ट करते हुए दिखाया कि विनाशकारी हमले के बाद क्या हो गया है. किस तरह से लोगों के चिथड़े उड़े पड़े हैं.  काचिन न्यूज ग्रुप ने यह भी बताया कि सरकारी सुरक्षा बलों ने घायलों को पास के शहरों के अस्पतालों में इलाज कराने जाने से भी रोक लिया था.

माय वोंग ने ट्वीटर पर शेयर किया हमले के बाद का विडियो 

एमनेस्टी इंटरनेशनल की उप क्षेत्रीय निदेशक ने कहीं ये बातें

हालाँकि, एमनेस्टी इंटरनेशनल ने सेना से डॉक्टरों और मानवीय संगठनों को क्षेत्र में और हवाई हमलों से प्रभावित लोगों तक पहुंच प्रदान करने का आह्वान किया था. एमनेस्टी के उप क्षेत्रीय निदेशक हाना यंग ने एक बयान में कहा की,

“हमें डर है कि यह हमला सेना द्वारा गैरकानूनी हवाई हमलों के एक पैटर्न का हिस्सा है. जिसने सेना द्वारा नियंत्रित क्षेत्रों में नागरिकों को मार डाला और घायल कर दिया है. हम बहुत डरे हुए हैं.”

स्थाई मीडिया की माने तो, म्यांमार (Myanmar) के सूचना कार्यालय ने बड़ी संख्या में लोगों के हताहत होने की बात को अफवाह करार दिया और इनकार किया कि सेना ने संगीत कार्यक्रम पर बमबारी की है.

Leave a Reply