Missile Test: चीन ने किया लैंड बेस्ड मिसाइल परिक्षण

Missile Test: चीनी रक्षा मंत्रालय ने बड़ा बयान ज़ारी करके मिसाइल परीक्षण की जानकारी दी है. अमेरिका(America) से तनाव के बीच चीन ने हवा में अंतरमहाद्वीपीय मिसाइल को मार गिराने का सफल परीक्षण किया है. जमीन आधारित इस एंटी बलिस्टिक मिसाइल सिस्‍टम का रव‍िवार की रात को देश की सीमा पर परीक्षण किया गया.

इसके पहले भी चीन कर चुगा है मिसाइल परीक्षण

WION न्यूज़ के मुताबिक, चीन(China) के रक्षा मंत्रालय (Ministry of Defence) के मुताबिक पीएलए ने इसी तरह का परीक्षण पिछले साल फरवरी महीने में किया था. इसके साथ ही चीन(China) की ओर से जमीन आधारित एंटीबलिस्टिक मिसाइल(Missile Test) के परीक्षण की छठवीं बार घोषणा की गई है.

रविवार देर रात एक संक्षिप्त बयान में कहा गया कि परीक्षण ने “अपने अपेक्षित उद्देश्य को प्राप्त कर लिया. मंत्रालय ने दावा किया कि परीक्षण किसी भी देश के उद्देश्य से नहीं था”

ख़बरों की माने तो, बता दें कि चीन(China) राष्ट्रपति शी जिनपिंग(Xi Jinping) की महत्वाकांक्षी आधुनिकीकरण योजना के हिस्से के रूप में, देश अंतरिक्ष में उपग्रहों को नष्ट करने वाली मिसाइलों से लेकर उन्नत परमाणु-टिप वाली बैलिस्टिक मिसाइलों( Missile Test) तक, सभी प्रकार की मिसाइलों के रिसर्च में तेजी ला रहा है.

शी जिनपिंग की महत्वाकांक्षी योजना है ये

चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग(Xi Jinping) की देखरेख वाली महत्वाकांक्षी योजना के तहत, चीन(China) सभी प्रकार की मिसाइलों को विकसित करने के उद्देश्य से अनुसंधान में बहुत सारे संसाधन लगा रहा है. यह उन मिसाइलों के लिए है जो अंतरिक्ष में उपग्रहों को नष्ट करने के लिए उन्नत परमाणु-इत्तला दे दी गई बैलिस्टिक मिसाइलों को नष्ट कर सकती हैं.

चीन(China) ने तर्क दिया कि उपकरण का शक्तिशाली रडार(Radar) उसके क्षेत्र में प्रवेश कर सकता है. चीन और रूस(Russia) ने नकली मिसाइल रोधी अभ्यास भी किया है. 2016 में, रक्षा मंत्रालय (Ministry of Defence) ने पुष्टि की कि वह राज्य टेलीविजन पर तस्वीरें आने के बाद मिसाइल रोधी प्रणाली परीक्षणों के साथ आगे बढ़ रहा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.