September 29, 2022
Kabul में रूसी दूतावास के पास हुआ भयंकर विस्फोट

Kabul में रूसी दूतावास के पास हुआ भयंकर विस्फोट

Spread the love

Kabul: स्थानीय मीडिया ने बताया कि सोमवार को काबुल शहर (Kabul) के दक्षिण-पश्चिम में रूसी दूतावास के पास एक विस्फोट की आवाज सुनी गई. खामा प्रेस ने बताया कि धमाका आज सुबह करीब 11 बजे रूसी दूतावास के पास दारुलामन रोड पर हुआ.

सुरक्षा अधिकारियों की तरफ से नहीं आया बयान

ANI से मिली जानकारी के मुताबिक,  इसकी कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है. प्रकाशन ने बताया कि सुरक्षा अधिकारियों ने अभी तक इस बारे में कुछ नहीं कहा है. इसमें कहा गया है कि विस्फोट की प्रकृति और मरने वालों की संख्या के बारे में कोई विवरण नहीं दिया गया है.

इस बीच अफगानिस्तान के हेरात में आत्मघाती बम विस्फोट, जिसमें बीस लोगों की मौत हो गई. उन्होंने दुनिया भर से कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की है. टोलो न्यूज ने बताया कि अफगानिस्तान के लिए अमेरिका के विशेष दूत थॉमस वेस्ट, यूएनएएमए और ईरान और पाकिस्तान के विदेश मंत्रालयों ने इस घटना की निंदा की और अफगानिस्तान में पूजा स्थलों पर घातक हमलों को समाप्त करने का आह्वान किया.

अफगानिस्तान के लिए अमेरिका के विशेष दूत ने हेरात गुजरगाह मस्जिद विस्फोट में मारे गए या घायल हुए पीड़ितों के परिवारों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की. उन्होंने आतंकवाद के कृत्य की भी निंदा की.

तालिबान के प्रवक्ता जबीहुल्लाह मुजाहिद ने कहीं ये बातें

पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने भी आत्मघाती हमले की निंदा की है. तालिबान के प्रवक्ता जबीहुल्लाह मुजाहिद ने कहा कि नमाज का नेतृत्व करने वाले मौलवी मुजीब रहमान अंसारी की मौत धर्म के दुश्मनों द्वारा किए गए कायरतापूर्ण हमले के रूप में की गई थी.

मुजाहिद ने कहा कि तालिबान विस्फोट के लिए जिम्मेदार लोगों को दंडित करेगा. उन्होंने किसी विशेष समूह को दोष नहीं दिया लेकिन तालिबान इस्लामिक स्टेट-खुरासान आतंकी समूह से लड़ रहा है. जो धार्मिक सभाओं और गश्ती दल को निशाना बनाता रहा है.

खामा प्रेस ने बताया कि मारे गए मौलवी एक कट्टरपंथी थे. जिन्होंने विद्रोहियों का सिर कलम करने, मिलावट करने वालों को पत्थर मारने और चोरों के हाथ काटने की वकालत की थी. मुजाहिद ने एक साहसी धार्मिक विद्वान के रूप में उनकी प्रशंसा की.

इसके पहले भी हो चुगे हैं धमाके

मिली जानकारी के मुताबिक, अफगानिस्तान की राजधानी काबुल (Kabul) में स्थानीय समयानुसार जनवरी 2016 में शाम को रूसी दूतावास के पास एक विस्फोट हुआ था. रेडियो फ्री यूरोप के संवाददाता फ्रूड बेजान ने रूसी दूतावास की तुलना में उनके कार्यालयों के पास एक बम विस्फोट की पुष्टि की थी. अफगान आंतरिक मामलों के मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने ट्वीट किया कि विस्फोट एक आत्मघाती बम था.

बता दें की बीते महीने अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में एक मस्जिद में हुए विस्फोट में कम से कम 30 लोगों की मौत हो गई और 40 घायल हो गए थे. खैर खाना इलाके की मस्जिद में उस वक्त धमाका हुआ जब लोग मगरिब की नमाज अदा कर रहे थे.

काबुल सुरक्षा विभाग के प्रवक्ता खालिद जादरान ने विस्फोट की पुष्टि करते हुए कहा कि काबुल के पीडी 17 में एक मस्जिद में बम विस्फोट हुआ था. उन्होंने कहा था कि “सुरक्षा बल इलाके में पहुंच गए हैं और सभी घायलों को अस्पताल ले जाया जा रहा है. इस विस्फोट में मस्जिद के इमाम मावलवी अमीर मोहम्मद काबुली की भी मौत हो गई थी.”

Leave a Reply

Your email address will not be published.