Manipur Landslide: मणिपुर में हुआ बड़ा हादसा, भूस्खलन में लगभग 20 लोगों की गई जान

Manipur Landslide: मणिपुर में भूस्खलन (Manipur Landslide) से हर तरफ़ अफरा तफरी का माहौल है. मणिपुर के नोनी जिले में एक रेलवे निर्माण स्थल पर भूस्खलन (Manipur Landslide) के बाद मलबे से तीन और शव बरामद होने के बाद इस घटना में जान गंवाने वालों की संख्या बढ़कर अब 20 हो गई है.

आर्मी के 10 जवान भी हैं शामिल

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, मणिपुर (Manipur) के नोनी जिले में 29 जून को हुए भूस्खलन (Manipur Landslide) में अब तक 81 लोगों लापता हैं. जबकी 18 टेरिटोरियल आर्मी जवानों के शवों का रेस्क्यू किया गया है. यहां फंसे हुए लोगों को निकालने के लिए बड़े पैमाने पर बचाव का काम जारी है. आपदा में मृतकों की संख्या 20 हो गई है. जिनमें टेरिटोरियल आर्मी के 10 जवान शामिल हैं. एक बयान में सेना ने कहा कि असम राइफल्स और प्रादेशिक सेना के जवानों ने खराब मौसम के बावजूद टुपुल रेलवे स्टेशन के आम क्षेत्र में दिनभर बचाव अभियान चलाया गया है.

एक बयान में कहा गया है की, ‘‘ नागरिक प्रशासन ने इजेई नदी के निचले हिस्से में रह रहे लोगों को एहतियात बरतने तथा भूस्खलन के कारण नदी पर बने बांध के टूट जाने की आशंका से वहां से चले जाने की हिदायत दी है. बता दें की, भारतीय सेना, आसाम राइफल्स, टेरिटोरियल आर्मी और एनडीआरएफ, राज्य की एजेंसियों के साथ मिलकर राहत और बचाव अभियान चला रहे हैं. उधर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शुक्रवार को कहा कि आपदा में उनके राज्य के नौ जवानों की जान गई है.

ANI की ख़बर के अनुसार, मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह (N. Biren Singh) ने हादसे में जान गंवाने वालों के परिजनों को पांच-पांच लाख रुपये और घायलों को 50-50 हजार रुपये की मुआवजा राशि देने की घोषणा की है. दिन में असम (Assam) के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्व सरमा (Himanta Biswa Sarma) ने कहा था कि इस भूस्खलन (Manipur Landslide) में उनके राज्य से कम से कम एक व्यक्ति की मौत हुई है एवं 16 अन्य लापता हैं.

Leave a Reply