Israel के रक्षा मंत्री ने कहा की, Ukraine को नहीं मुहैया कराएंगे हथियार

Israel: इजरायल के रक्षा मंत्री बेनी गैंट्ज़ ने स्पष्ट रूप से कहा कि इजराइल (Israel) यूक्रेन को हथियार नहीं देगा. गैंट्ज़ ने अपने कार्यालय के एक बयान के अनुसार, यूरोपीय संघ के राजदूतों की एक ब्रीफिंग में कहा की, “यूक्रेन के साथ हमारी नीति नहीं बदलेगी. हम रूस का समर्थन करना जारी रखेंगे और पश्चिम देशों के साथ भी खड़े रहेंगे, हम हथियार प्रणाली प्रदान नहीं करेंगे.”

Israel नहीं ख़राब करना चाहता अपने रिश्ते

रायटर्स से मिली जानकारी के मुताबिक,  जब से रूस ने यूक्रेन पर हमला किया है तब से इजराइल (Israel) ने कड़ा रुख अख्तियार किया है. इज़राइल ने पश्चिम के साथ-साथ रूस के साथ भी संबंध बनाए रखने की बात कही है.

इजरायल (Israel) के रक्षा मंत्री बेनी गैंट्ज़ ने बुधवार को कहा कि इज़राइल यूक्रेन को मानवीय सहायता प्रदान करना जारी रखेगा. जिसमें जीवन रक्षक रक्षात्मक उपकरण (life-saving defensive equipment) शामिल हैं और जल्द ही इजराइल की तरफ से यूक्रेन को एक और पैकेज को मंजूरी देने की संभावना है. गैंट्ज़ का कहना है की वो यूक्रेन को हथियार नहीं दे सकते.

Israel के रक्षा मंत्री ने कहा की, Ukraine को नहीं मुहैया कराएंगे हथियार
Israel के रक्षा मंत्री ने कहा की, Ukraine को नहीं मुहैया कराएंगे हथियार

बताया जाता है की, इज़राइल (Israel) को पड़ोसी सीरिया में हवाई हमलों के अपने अभियान को जारी रखने के लिए रूसी सहयोग की आवश्यकता है. रूस में बड़ी संख्या में यहूदी आबादी है और इजरायल (Israel) के अधिकारियों ने पहले रूस के साथ संबंधों को सुरक्षित रखने की बात कही है. इजराइल अपने रिश्ते रूस के साथ कभी नहीं खराब करना चाहता है.

अब ऐसी खबरे आ रहीं हैं की यूक्रेन इजराइल (Israel) के इस फैसले से निराश है. राष्ट्रपति वलोडिमिर ज़ेलेंस्की जो खुद एक यहूदी हैं.  उन्होंने कई मौकों पर इजराइल को फटकार लगाई है की इजराइल को यूक्रेन का समर्थन करना चाहिए और रूस का इस युद्ध को लेकर खुलकर विरोध करना चाहिए.

इजराइल को रूस ने दी चेतावनी

रूस के पूर्व राष्ट्रपति दिमित्री मेदवेदेव जो रूस की सिक्योरिटी काउंसिल के डिप्टी चेयरमैन भी हैं. उनका कहना है की, “अगर इजरायल यूक्रेन को हथियार सप्लाई करेगा तो रूस और इजरायल के राजनयिक संबंध खत्म हो जाएंगे.”

यूक्रेन के ऊपर जब से रूस ने ड्रोन हमला किया था तब से रूस की वैश्विक स्तर पर आलोचना हो रही है. संयुक्त राष्ट्र से यूक्रेन ने जांच करने की बात कही थी. लेकिन रूस ने संयुक्त राष्ट्र को भी आज चेतावनी दी है की अगर संयुक्त राष्ट्र ऐसी कोई जांच करता है तो उसके लिए अच्छा नहीं होगा.

भारतीय नागरिक ना करें यूक्रेन की यात्रा

बता दें की रूस और यूक्रेन के बीच अब युद्ध और तेज़ होता जा रहा है. इंडिया टुडे में छपी एक खबर के मुताबिक, भारतीयों को यूक्रेन की यात्रा न करने की सलाह दी गई है. और देश में रहने वालों को तुरंत छोड़ने के लिए कहा गया है. क्योंकि रूस ने यूक्रेन पर अपना आक्रमण तेज कर दिया है.

कीव में भारतीय दूतावास ने कहा है की, “बिगड़ती सुरक्षा स्थिति और हाल ही में यूक्रेन में शत्रुता के बढ़ने के मद्देनजर, भारतीय नागरिकों को यूक्रेन की यात्रा न करने की सलाह दी गई है.”

भारतीयों के लिए जारी की गई एडवाइजरी 

 

Leave a Reply