Indian Coast Guard: भारतीय तटरक्षक बल (Indian Coast Guard) ने आज पहले 10 मछुआरों को बचाने के बाद रविवार को 17 और बांग्लादेशी मछुआरों को बचाया है. अत्यधिक चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों और उबड़-खाबड़ समुद्र के बीच एक ही दिन में तीन अलग-अलग अभियानों में कुल 27 बांग्लादेशी मछुआरों को बचाया गया है.

भारतीय तटरक्षक बल ने ट्वीट करके बताई ये बातें

ANI से मिली जानकारी के मुताबिक, भारतीय तटरक्षक बल (Indian Coast Guard) ने बांग्लादेश के 27 मछुआरों की जान बचायी है.

भारतीय तटरक्षक बल ने एक ट्वीट में कहा की, “ तटरक्षक जहाज अनमोल ने आज बंगाल की खाड़ी में दस बांग्लादेशी मछुआरों को बचाया है. शेष दो लापता बांग्लादेशी मछुआरों की तलाश जारी है. इस काम के लिए जहाजों और विमानों की मदद ली जा रही है. इससे पहले 18 अगस्त को तटरक्षक बल ने दमन से एक चेतक हेलीकॉप्टर के जरिए अभियान शुरू किया था और वलसाड तट से मछली पकड़ने वाली नाव तुलसी देवी के 14 मछुआरों को बचाया था.”

बता दें की, इस बीच, 18 अगस्त को, भारतीय तटरक्षक बल ने दमन से एक चेतक हेलीकॉप्टर लॉन्च किया और वलसाड तट से मछली पकड़ने वाली नाव (एफबी) तुलसी देवी के 14 फंसे मछुआरों को बचाया था.

इससे पहले बुधवार को लगभग 11:30 बजे तटरक्षक वायु स्टेशन दमन को फंसे हुए एफबी तुलसी देवी को बचाव सहायता प्रदान करने का काम सौंपा गया था, जो 16 अगस्त को कृष्णापुर मछली पकड़ने के बंदरगाह वलसाड से रवाना हुई थी.

ख़राब मौसम  की वजह से जहाज को रोका गया था

क्षेत्र में 5-6 मीटर की प्रफुल्लित ऊंचाई, 20-25 समुद्री मील और समुद्र राज्य 5 की तेज हवाओं के साथ बढ़ती खतरनाक स्थिति ने क्षेत्र में जहाज या नावों द्वारा बचाव को रोक दिया था. बेजोड़ लचीलेपन का प्रदर्शन करते हुए, विमान ने संकटग्रस्त एफबी के सभी चालक दल के सदस्यों को सफलतापूर्वक बचाया गया.

इसके साथ ही उन्हें सुरक्षित रूप से तटरक्षक वायु स्टेशन दमन तक पहुंचा दिया. आगमन पर, एक प्रारंभिक चिकित्सा जांच की गई और मछुआरों को प्राथमिक उपचार प्रदान किया गया. सभी जीवित बचे लोगों को उनके परिजन तक पहुंचा दिया गया.

अगर भारतीय तटरक्षक बल (ICG) न होता तो उन बांग्लादेसी मछुआरों की जान भी जा सकती थी. भारत में इस वक़्त  कहीं तूफ़ान आ रहा है तो कही भूकंप. हालाँकि, सरकार in परिस्थितयों  पर नज़र बनाए हुए है.

ICG पकड़ चुगा है ड्रग्स

आजतक से मिली जानकारी के अनुसार, भारतीय तटरक्षक बल ने म्यांमार के एक जहाज को 1160 किलोग्राम प्रतिबंधित ड्रग के साथ पकड़ा था. भारतीय तटरक्षक बल के महानिरीक्षक मनीष पाठक ने बताय था की,

‘तटरक्षक जहाज राजवीर ने भारत की समुद्री सीमा से 6 क्रू मेंमर के साथ म्यांमार के एक जहाज को है. म्यांमार के इस जहाज से 1160 किलोग्राम प्रतिबंधित ड्रगअब समुद्री तटो बरामद हुई. इस ड्रग्स की आपूर्ति दक्षिण-पूर्व एशियाई देशों में की जा रही थी.’

मनीष पाठक का कहना है की, ड्रग्स अब तटों पर मिलना आम बात हो गई है. डइसके आगे उन्होंने कहा की, ड्रग्स पर हम अपनी पैनी नज़र बनाए हुए हैं. मनीष पाठक की माने तो, डोर्नियर सर्विलांस प्लेन द्वारा जहाज के संदिग्ध मूवमेंट पर नज़र रखती है भारतीय तटरक्षक बल (Indian Coast Guard).

Leave a Reply