Nepal की शिक्षा, स्वास्थ्य देखभाल और पेयजल परियोजनाओं के निर्माण में भारत करेगा मदद

Nepal: दोनों देशों के बीच संबंधों को मजबूत करने के लिए, भारत के दूतावास और नेपाल (Nepal) सरकार के संघीय मामलों के मंत्रालय और सामान्य प्रशासन ने 12 दिसंबर को एक समझौता ज्ञापन (MOU) पर हस्ताक्षर किए हैं. अनुदान सहायता (Memorandum of Understanding- MoU) के तहत नेपाल में तीन परियोजनाओं के लिए समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए गए हैं. भारत सरकार, शिक्षा, स्वास्थ्य सेवा और पेयजल क्षेत्रों में नेपाल की सहायता करेगी.

Nepal की मदद कर रहा है भारत

PTI से मिली अधिकारिक जानकारी के मुताबिक, नेपाल  के काठमांडू में भारत के दूतावास ने प्रेस विज्ञप्ति में कहा है कि, “इन परियोजनाओं के निर्माण से नेपाल में लोगों के लिए बेहतर शिक्षा, स्वास्थ्य देखभाल और पीने के पानी की सुविधा उपलब्ध होगी.” आगे कहा गया की, भारत और नेपाल (Nepal) व्यापक और बहु-क्षेत्रीय सहयोग साझा करते हैं. साथ ही इस सहायता से नेपाल (Nepal) में लोगों के जीवन की गुणवत्ता में सुधार होगा.

मिली जानकारी के मुताबिक, तीन परियोजनाओं में श्री जनता बेलाका सेकेंडरी स्कूल का निर्माण शामिल है. उदयपुर जिले में भवन, नोंगा थेनचौक छोलिंग ध्यान का निर्माण करवाया जाएगा. सोलुखुम्बु डिस्ट्रिक्ट में केंद्र और लिस्नेखोला टिकसुंग डांगचेत का निर्माण होगा. धाडिंग जिले में झारलांग जलापूर्ति परियोजना की शुरुवात की जाएगी. इसके साथ ही कई अन्य परियोजनाओं को कुल मिलाकर लागू किया जाएगा.

Nepal की शिक्षा, स्वास्थ्य देखभाल और पेयजल परियोजनाओं के निर्माण में भारत करेगा मदद
Nepal की शिक्षा, स्वास्थ्य देखभाल और पेयजल परियोजनाओं के निर्माण में भारत करेगा मदद

भारतीय दूतावास ने ट्वीट कर के दी जानकारी

नेपाल  में भारत के दूतावास ने कहा कि इन परियोजनाओं के कार्यान्वयन से लोगों के उत्थान में नेपाल सरकार के प्रयासों को मजबूत करने में भारत सरकार के समर्थन का पता चलता है. इसकी जानकारी भारत द्वारा ट्वीटर पर भी साझा की गई है.

नेपाल (Nepal) में भारतीय दूतावास ने ट्वीट किया की, “आज, @IndiaInNepal और @mofaganepal ने नेपाल में 3 HICDP परियोजनाओं के लिए भारत सरकार के अनुदान के तहत उदयपुर, सोलुखुम्बु और धाडिंग में शिक्षा, स्वास्थ्य और पेयजल क्षेत्रों में क्रमशः NRs 101.79 की कुल अनुमानित लागत पर एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए हैं.”

भारत ने साझा की अधिकारिक जानकारी…

पहले से और बेहतर होंगी स्वास्थ्य सुविधाएं

भारत के दूतावास ने एक बयान में कहा, “उपर्युक्त परियोजनाओं के निर्माण से स्थानीय समुदाय के लिए बेहतर शिक्षा सुविधाएं, बेहतर स्वास्थ्य देखभाल सुविधाएं और सुरक्षित पेयजल सुविधाएं उपलब्ध होंगी और लोगों के जीवन की गुणवत्ता में सुधार होगा.”

नेपाल (Nepal)  में भारत के दूतावास ने आगे कहा की, “निकट पड़ोसियों के रूप में, भारत और नेपाल व्यापक और बहु-क्षेत्रीय सहयोग साझा करते हैं. इन परियोजनाओं से सभी का लाभ जुड़ा है.”

नेपाल में 476 परियोजनाओं को पूरा किया है

नेपाल में भारतीय दूतावास ने कहा की, भारत ने नेपाल में 532 से अधिक उच्च प्रभाव विकास परियोजनाओं (HICDPs) को शुरू करने के लिए लिया है. और स्वास्थ्य, शिक्षा, पेयजल, कनेक्टिविटी, स्वच्छता और अन्य सार्वजनिक उपयोगिताओं के विकास सहित विभिन्न क्षेत्रों में 476 परियोजनाओं को पूरा किया है.

वैसे तो भारत और नेपाल आपस में अच्छे पड़ोसी हैं. लेकिन चीन की बातों मी आ कर नेपाल को अकसर भटकते हुए देखा गया है. नेपाल की हर कदम पर भारत ने मदद की है. फिर चाहे वो कोई परियोजना हो या फिर चुनाव.

Leave a Reply