September 25, 2022
Spread the love

थॉमस कप के फाइनल में भारत ने 14 बार की चैंपियान इंडोनेशिया को हराकर इतिहास रच दिया है। लक्ष्य सेन और सात्विक-चिराग की जोड़ी को बाद किदांबी श्रीकांत ने तीसरा मैच जीता और भारत को पहली बार थॉमस कप का चैंपियन बना दिया।

थॉमस कप के फाइनल मैच में भारत ने इंडोनेशिया को हारकर इतिहास रच दिया है। भारत ने 14 बार टूर्नामेंट जीतने वाली टीम इंडोनेशिया को पराजित किया है। लक्ष्य सेन ने पहले और सात्विक चिराग की जोड़ी ने दूसरे मैच में भारत को जीत दिलाई। इसके बाद किंदांबी श्रीकांत ने तीसरा मैच जीतकर भारतीय टीम को पहली बार थॉमस कप का चैंपियन बनाया।

लक्ष्य सेन ने पहले मैच में डिफेंडिंग चैंपियन इंडोनेशिया के एंतोनी सिनिसुका को 8-21, 21-17, 21-16 से मात दी। दूसरे मैच में भी सात्विक चिराग की जोड़ी ने भी 18-21, 23-21, 21-19 से जीत हासिल की। तीसरा मैच श्रीकांत और क्रिस्टी के बाच खेला जा रहा है और पहला सेट किदांबी श्रीकांत ने जीत लिया है।

भारतीय टीम ने मलेशिया और डेनमार्क जैसी मजबूत टीमों को हराकर पहली बार फाइनल में जगह बनाई थी। इस टूर्नामेंट में भारत सिर्फ एक मैच हारा था, जब ग्रुप स्टेज में चीनी ताइपे ने उसे मात दी थी। वहीं, इंडोनेशिया की टीम फाइनल से पहले इस टूर्नामेंट में अजेय रही थी।

थॉमस कप को बैडमिंटन का वर्ल्ड कप कहा जाता है | भारत यह कप पहली बार जीता है |

प्रधानमंत्री मोदी ने खिलाडियों से जीत के बाद बात की और भविष्य के लिए भी शुभकामनाये दी |

केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने भारतीय टीम को थॉमस कप चैंपियन बनने पर ढेरों शुभकामनाएं दी. इसके अलावा उन्होंने पूरी टीम के लिए 1 करोड़ के इनाम का ऐलान किया |

Leave a Reply

Your email address will not be published.