पाकिस्तानी पत्रकार Arshad Sharif की हत्या को PTI नेता Imran Khan ने बताया टारगेट किलिंग

Arshad Sharif: पाकिस्तानी पत्रकार अरशद शरीफ (Arshad Sharif) की केन्या में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. इस बात की पुष्टि उनकी पत्नी ने की थी. अरशद शरीफ पर देशद्रोह का आरोप लगा था. पाकिस्तानी पत्रकार की मौत पर अब पीटीआई नेता और पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान का भी बयान सामने आया है. इमरान खान ने अरशद शरीफ की मौत को टारगेट किलिंग बताया है.

Arshad Sharif की हत्या पर बोले इमरान खान

पेशावर में एक वकीलों के सम्मेलन में बोलते हुए, इमरान खान ने कहा कि उन्होंने अरशद (Arshad Sharif) को बार-बार देश छोड़ने की चेतावनी दी थी क्योंकि उन्हें धमकियां मिल रही थीं. लेकिन उन्होंने रहने का विकल्प चुना.

पाकिस्तानी पत्रकार Arshad Sharif की हत्या को PTI नेता Imran Khan ने बताया टारगेट किलिंग
पाकिस्तानी पत्रकार Arshad Sharif की हत्या को PTI नेता Imran Khan ने बताया टारगेट किलिंग

पीटीआई प्रमुख इमरान खान ने कहा कि उन्होंने अरशद (Arshad Sharif) को शांत रहने की सलाह दी थी लेकिन वह डरे नहीं. उन्होंने ने बेबाकी से मौजूदा सरकार की आलोचना की. पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा की, “कोई फर्क नहीं पड़ता कि लोग क्या कहते हैं, मुझे पता है कि यह एक टारगेट किलिंग थी.”

इस तरह से की गई Arshad Sharif की हत्या

पाकिस्तानी पत्रकार अरशद शरीफ को केन्या में एक पुलिस चौकी पर रुकने को बोला गया था. लेकिन वो नहीं रुके और पुलिस ने उन पर गोली चला दी जिसके कारण उनकी तुरंत मौत हो गई. दरअसल पुलिस कारजैकिंग की घटना में चोरी हुए एक वाहन की तलाश कर रही थी जिसमें एक बच्चे का अपहरण किया गया था. स्थानीय पुलिस ने एक बयान में कहा कि यह घटना में उनको लगा की अरशद का हाँथ है इसलिए उन्होंने गाड़ी रुकवाई जांच के लिए.

लेकिन वो नहीं रुके तो पुलिस को गोली चलानी पड़ी जिसकी वजह से उनकी मौत हो गई है. पुलिस का कहना है की उनको अरशद की मौत का गहरा दुःख हुआ है. पीटीआई नेता इमरान खान ने दावा किया कि अरशद शरीफ को पता था कि उनकी जान को खतरा है. इमरान खान ने आगे दावा किया कि उन्होंने शरीफ को चेतावनी दी थी और उन्हें देश छोड़ने के लिए कहा था.

अरशद शरीफ हैं बहादुर देशभक्त

इमरान खान ने अरशद शरीफ (Arshad Sharif) को ‘बहादुर देशभक्त’ कहा. इमरान ने बताया की अरशद के घर पर भी हमला किया गया था. लेकिन वो फिर भी नहीं डरे और सरकार को लगातार घेरते रहे. इमरान खान ने कहा की अरशद शरीफ जैसे पत्रकार को कोई खरीद नहीं सकता. वो एक सच्चे और ईमानदार पत्रकार थे.

इमरान खान ने दावा किया कि अरशद शरीफ (Arshad Sharif) ने अंत में उनकी सलाह पर देश छोड़ दिया था. लेकिन जब उनका यूएई (UAE) वीजा समाप्त होने वाला था तो उन्हें वापस बुला लिया गया था. उन्होंने बताया की शाहबाज़ सरकार अरशद को गिरफ्तार करना चाहती थी. लेकिन जब वो ऐसा नहीं कर पाए तो अरशद को मौत के घाट उतार दिया.

अरशद की पत्नी ने ट्वीटर पर उनकी मौत की जानकारी दी थी. अरशद की पत्नी जवारिया सिद्दीक़ी ने ट्विटर पर इस घटना की पुष्टि की और लिखा “आज मैंने अपने दोस्त, पति और पसंदीदा पत्रकार को खो दिया है.” जवारिया सिद्दीकी ने कहा है कि “पुलिस ने उन्हें बताया है कि अरशद शरीफ़ को केन्या में मारा गया है.”

2 thoughts on “पाकिस्तानी पत्रकार Arshad Sharif की हत्या को PTI नेता Imran Khan ने बताया टारगेट किलिंग”

Leave a Reply