Pakistan के पूर्व PM Imran Khan ने कहा की, अँधेरे और गर्त में जा रहा मुल्क

Pakistan: पाकिस्तान (Pakistan) तहरीक ए इंसाफ (PTI) के अध्यक्ष और पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान. जो एक हमले के दौरान लगी अपनी चोटों से अब धीरे-धीर्रे ठीक हो रहे हैं. पाकिस्तान (Pakistan) के पूर्व पीएम पाकिस्तान में निष्पक्ष और स्वतंत्र चुनाव की मांग को लेकर लंबे मार्च के दौरान विरोध कर  रहें हैं. इमरान खान ने एक मीडिया इंटरव्यू में कहा है की, पाकिस्तान अँधेरे और गर्त में जा रहा है.

Pakistan को लेकर इमरान खान ने व्यक्त की चिंता

ब्लूमबर्ग से मिली जानकारी के मुताबिक, अब पाकिस्तान (Pakistan) के पूर्व प्रधानमंत्री को आपने मुल्क की चिंता हो रही है. पूर्व क्रिकेटर और पाकिस्तान (Pakistan) के पूर्व प्रधानमंत्री ने कहा है कि पाकिस्तान गर्त में जा रहा है. अगर एक नई और स्थिर सरकार बनती है. तो पाकिस्तान की संकटग्रस्त अर्थव्यवस्था को पुनर्जीवित करने की गुंजाइश है.”

पाकिस्तान (Pakistan) के पूर्व पीएम ने आगे कहा की, “मेरी चिंता यह है कि जब तक ये अपराधी नहीं जाएंगे. तब तक देश की अर्थव्यस्था वापस न आने की स्थिति में चली जाएगी. सभी आर्थिक संकेतक अर्थव्यस्था के नीचे जाने की ओर इशारा कर रहे हैं. हम एक अंधेरी सुरंग की ओर बढ़ रहे हैं. अब इसका एकमात्र समाधान चुनाव है. जब मुल्क में एक स्थिर सरकार होगी तब ही निवेशक आएंगे.”

Pakistan के पूर्व PM Imran Khan ने कहा की, अँधेरे और गर्त में जा रहा मुल्क
Pakistan के पूर्व PM Imran Khan ने कहा की, अँधेरे और गर्त में जा रहा मुल्क

इमरान खान को पहले से इन बातों का था पता

इमरान खान ने अपने ऊपर हुए हमले के बारे में बोलते हुए इमरान खान ने DWU न्यूज को दिए एक इंटरव्यू में कहा है की, “हमेशा से मुझे लगता था की मेरी जान जोखिम है. मुझे पता है कि किसने इसकी साजिश रची थी. और इसलिए मैं इसकी एक स्वतंत्र जांच चाहता हूं. और हम सभी परिस्थितिजन्य साक्ष्य प्रदान करेंगे.” आगे उन्होंने कहा, देश की व्यापक लोकप्रियता के कारण मौजूदा सरकार उन्हें मरवाना चाहती है.

इस इंटरव्यू की क्लिप उनकी पार्टी ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर पोस्ट की है. 3 नवंबर की हत्या के प्रयास के बाद क्या हुआ वो भी उन्होंने बताया.

 

इमरान खान का एक विडियो सामने आया है. जिसमें उन्होंने फिर से मार्च म शामिल होने की बात कही है. उन्होंने कहा है की, “मैं रावलपिंडी पहुंचूंगा और मैं आप सभी को हमारे साथ आने और मार्च करने के लिए आमंत्रित करता हूं. क्योंकि यह देश के भविष्य और आपके बच्चों के भविष्य का मामला है.”

अप्रैल में अविश्‍वास प्रस्‍ताव में अपने पद से हटाए जाने के खिलाफ समर्थन जुटाने के लिए भी इमरान खान इस मार्च का हिस्‍सा बने हुए हैं. उन्होंने आरोप लगाया है कि पाकिस्तान की तत्कालीन विपक्षी पार्टियों ने उन्हें सत्ता से बेदखल करने के लिए अमेरिका के साथ सांठगांठ की है.

अस्मेरिचा पर भी खान ने साधा निशाना

पाकिस्तान (Pakistan) के पूर्व प्रधानमंत्री ने हालांकि, साजिश के आरोप का कोई सबूत नहीं दिया है और वाशिंगटन और अब सत्ता में पाकिस्तान के राजनीतिक दलों दोनों ने आरोपों से इनकार किया है.

बुधवार को एक ट्वीट में कहा था की, उन्होंने दो महीने पहले उनकी हत्या की कथित साजिश का पता लगाया था. उन्होंने कहा कि वह लॉन्ग मार्च में भाग लेने वाले समर्थकों को अपने संबोधन के दौरान कथित रूप से साजिश में शामिल एक दूसरे सैन्य अधिकारी के नाम का खुलासा करेंगे.

Leave a Reply