September 29, 2022
Forex Reserve: देश के विदेशी मुद्रा भंडार में आया उछाल, फिर पहुंचा 600 अरब डॉलर के पार

Forex Reserve: देश के विदेशी मुद्रा भंडार में आया उछाल, फिर पहुंचा 600 अरब डॉलर के पार

Spread the love

भारत का विदेशी मुद्रा भंडार(Forex Reserve) 27 मई को समाप्त सप्ताह में 3.854 अरब डॉलर बढ़कर 601.363 अरब डॉलर हो गया. भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के आंकड़ों के अनुसार यह वृद्धि विदेशी मुद्रा परिसंपत्तियों में हुई बढ़ोतरी के कारण हुई है. इससे पिछले सप्ताह, विदेशी मुद्रा भंडार(Forex Reserve) 4.230 अरब डॉलर बढ़कर 597.509 अरब डॉलर हो गया था.

क्या हैं रिजर्व बैंक के आंकड़े

रिजर्व बैंक(RBI) के आंकड़ों के अनुसार, समीक्षाधीन सप्ताह में विदेशी मुद्रा भंडार(Forex Reserve) में वृद्धि का कारण विदेशी मुद्रा(Forex Reserve) आस्तियों में वृद्धि होना है जो कुल मुद्रा भंडार का एक महत्वपूर्ण घटक है. आंकड़ों के अनुसार विदेशी मुद्रा आस्तियां (एफसीए) 3.61 अरब डॉलर बढ़कर 536.988 अरब डॉलर हो गयी. डॉलर में अभिव्यक्त विदेशी मुद्रा भंडार(Forex Reserve) में रखे जाने वाली विदेशी मुद्रा आस्तियों में यूरो, पौंड और येन जैसी गैर-अमेरिकी मुद्राओं में मूल्यवृद्धि अथवा मूल्यह्रास के प्रभावों को शामिल किया जाता है.

डॉलर में अभिव्यक्त विदेशी मुद्रा भंडार(Forex Reserve) में रखे जाने वाली विदेशी मुद्रा आस्तियों में यूरो, पौंड और येन जैसी गैर-अमेरिकी मुद्राओं में मूल्यवृद्धि अथवा मूल्यह्रास के प्रभावों को शामिल किया जाता है. डॉलर में अभिव्यक्त विदेशी मुद्रा भंडार(Forex Reserve) में रखे जाने वाली एफसीए में यूरो, पौंड और येन जैसी गैर-अमेरिकी मुद्राओं में मूल्यवृद्धि अथवा मूल्यह्रास के प्रभावों को शामिल किया जाता है. आंकड़ों के अनुसार, इस सप्ताह में स्वर्ण भंडार का मूल्य भी 9.4 करोड़ डॉलर बढ़कर 40.917 अरब डॉलर हो गया. इसके पिछले सप्ताह में भी गोल्ड रिजर्व का मूल्य बढ़ा था. तब यह  25.3 करोड़ डॉलर बढ़कर 40.823 अरब डॉलर हो गया.

जब आई थी देश में Forex Reserve में गिरावट

देश के विदेशी मुद्रा भंडार (Foreign Exchange Reserves/Forex Reserves) में आई थी गिरावट. बीते हफ्ते यह 2.676 अरब डॉलर घटकर 593.279 अरब डॉलर रह गया. शुक्रवार को भारतीय रिजर्व बैंक यानी आरबीआई की ओर से जारी किए आंकड़ों में ये जानकारी दी गई थी. वहीं इससे पहले के सप्ताह में ये 1.774 अरब डॉलर घटकर 595.954 अरब डॉलर रह गया था.  29 अप्रैल को खत्म हुए सप्ताह में विदेशी मुद्रा भंडार(Forex Reserve) 2.695 अरब डॉलर घटकर 597.73 अरब डॉलर रह गया था. आरबीआई के मई बुलेटिन में ‘स्टेट ऑफ इकोनॉमी’ पर प्रकाशित एक लेख के मुताबिक, 6 मई को देश का विदेशी मुद्रा भंडार 596 अरब डॉलर था, जो कि वर्ष 2022-23 के लगभग 10 महीने के प्रोजेक्टेड इंपोर्ट के बराबर था.

आरबीआई की ओर से शुक्रवार को जारी किए गए साप्ताहिक आंकड़ों के मुताबिक, 13 मई के खत्म हुए सप्ताह में विदेशी मुद्रा भंडार में ये गिरावट मुख्य रूप से फॉरेन करेंसी एसेट यानी एफसीए (Foreign Currency Assets) में आई कमी की वजह से हुई, जो कुल मुद्रा भंडार का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है. रिजर्व बैंक के रिपोर्टिंग वीक में भारत की एफसीए (FCA) 1.302 अरब डॉलर घटकर 529.554 अरब डॉलर हो गई. गौरतलब है कि डॉलर में बताई जाने वाली एफसीए में विदेशी मुद्राओं के मूल्य में वृद्धि या कमी का प्रभाव भी शामिल होता है.

RBI की एनुअल रिपोर्ट 2021-2022…

1 thought on “Forex Reserve: देश के विदेशी मुद्रा भंडार में आया उछाल, फिर पहुंचा 600 अरब डॉलर के पार

Leave a Reply

Your email address will not be published.