September 25, 2022
FBI: परमाणु दस्तावेज तलाशने के लिए FBI ने ली डोनाल्ड ट्रम्प के घर की तलाशी

FBI: परमाणु दस्तावेज तलाशने के लिए FBI ने ली डोनाल्ड ट्रम्प के घर की तलाशी

Spread the love

FBI: अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के ऊपर कई गंभीर आरोप लगे हैं. अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के घर पर अमेरिकी फेडरल एजेंट के छापे को लेकर एक बड़ा खुलासा हुआ है.

ये है पूरा मामला

ANI से मिली जानकारी के मुताबिक, सोमवार को फ्लोरिडा में पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के आवास की तलाशी में जांचकर्ताओं द्वारा मांगी गई वस्तुओं में परमाणु हथियारों से संबंधित संयुक्त राज्य अमेरिका के वर्गीकृत दस्तावेज शामिल थे.

बता दें की, रिपोर्ट में कहा गया की, वर्गीकृत जानकारी के विशेषज्ञों ने कहा कि असामान्य खोज सरकारी अधिकारियों के बीच गहरी चिंता को रेखांकित करती है कि उन्हें किस प्रकार की जानकारी ट्रम्प के घर पर स्थित हो सकती है.

सोमवार को फेडरल ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टिगेशन (FBI) ने फ्लोरिडा के पाम बीच में ट्रंप के मार-ए-लागो स्थित घर पर छापा मारा था. रिपोर्टों के तुरंत बाद, ट्रम्प ने एक बयान में कहा, “मेरा खूबसूरत घर, फ्लोरिडा के पाम बीच में मार-ए-लागो, वर्तमान में एफबीआई एजेंटों के एक बड़े समूह द्वारा घेराबंदी, छापेमारी और कब्जा कर लिया गया है.”

अटॉर्नी जनरल मेरिक गारलैंड ने कहीं ये बातें

जानकारी के मुताबिक, ट्रम्प पर छापे के लिए रिपब्लिकन समर्थकों द्वारा एफबीआई (FBI) की आलोचना के बाद, अटॉर्नी जनरल मेरिक गारलैंड ने कहा कि संभावित कारणों की आवश्यक खोज पर एक संघीय अदालत द्वारा तलाशी वारंट को अधिकृत किया गया था.

गारलैंड ने कहा कि उन्होंने इस मामले में तलाशी वारंट मांगने के फैसले को व्यक्तिगत तौर पर मंजूरी दी है. इसी कड़ी में अटॉर्नी जनरल मेरिक गारलैंड ने आगे कहा की,

“दूसरा, विभाग इस तरह के निर्णय को हल्के में नहीं लेता है. जहां संभव हो, खोज के विकल्प के रूप में कम दखल देने वाले साधनों की तलाश करना और किसी भी खोज को संकीर्ण रूप से लागू करना मानक अभ्यास है. तीसरा, मुझे एफबीआई और न्याय विभाग के एजेंटों और अभियोजकों की व्यावसायिकता पर हाल के निराधार हमलों को संबोधित करने दें. जब उनकी ईमानदारी पर गलत तरीके से हमला किया जाएगा तो मैं चुप नहीं बैठूंगा.”

मार्च 2019 के बाद से, अटॉर्नी जनरल, लेटिटिया जेम्स और उनके वकीलों ने इस बात की जांच की है कि क्या ट्रम्प और उनकी कंपनी ने धोखाधड़ी से उनके होटल, गोल्फ क्लब और अन्य संपत्तियों के मूल्य को बढ़ाया है.

अमेरिका के इतिहास में पहली बार होगा ऐसा

बता दें की, अमेरिका के पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प का नाम इतिहास में उन अमेरिकी राष्ट्रपतियों में दर्ज होने जा रहा है. जिन पर सबसे अधिक मुकदमे चलाए गए, क्योंकि पिछले सालों में उनके खिलाफ सिविल और क्रिमिनल दोनों तरह के मामले दायर किए गए हैं.

ऐसा किसी अमेरिकी राष्ट्रपति  के साथ  पहली बार होगा जब उनके खिलाफ ऐसी कार्यवाही होगी. अगर अमेरिका के पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प को हिरासत में लिया गया तो ये पहली बार होगा किसी  राष्ट्रपति के साथ. ट्रम्प के ऊपर पहले भी कई आरोप लगे हैं. आपको जानकर हैरानी होगी की, उनके द्वारा यौन उत्पीड़न के दावे किए गए.

ऐसा बताया जा रहा है की FBI ने इस कार्रवाई को जानबूझकर ऐसे वक्त पर अंजाम दिया गया था, जब डोनाल्ड ट्रंप घर पर नहीं थे. अफसरों का मानना था कि ट्रंप की मौजूदगी में छापे मारने से कार्रवाई प्रभावित हो सकती थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.