Europe में पाकिस्तानी राजनयिक पर लगा यौन उत्पीड़न का आरोप

Europe: स्थानीय मीडिया के अनुसार, एक वरिष्ठ पाकिस्तानी राजनयिक और स्पेन के बार्सिलोना शहर (Europe) में पाकिस्तान के महावाणिज्यदूत को यौन उत्पीड़न के आरोप में बर्खास्त कर दिया गया है. पाकिस्तानी प्रकाशन द नेशन के मुताबिक, इस महीने की शुरुआत में वाणिज्य दूतावास के एक स्थानीय कर्मचारी ने मिर्जा सलमान बेग के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी.

पाकिस्तानी राजनयिक को किया गया बर्खास्त

ANI से मिली जानकारी के मुताबिक, पाकिस्तानी राजनयिक को उत्पीड़न के आरोप में बर्खास्त कर दिया गया है. सूत्रों का हवाला देते हुए, द नेशन ने 11 अगस्त को बताया कि कर्मचारी का नाम, जिसका खुलासा नहीं किया जा रहा है. उन्होंने मैड्रिड में पाकिस्तान के राजदूत शुजात राठौर के पास शिकायत दर्ज कराई.

जिन्होंने बाद में इस मामले को आगे की जांच के लिए इस्लामाबाद में विदेश कार्यालय को भेज दिया है. प्रकाशन के अनुसार, विदेश मंत्रालय ने मामले की जांच के लिए दो सदस्यीय टीम बार्सिलोना और मैड्रिड भेजी. उन्होंने जांच पूरी की, जिसके आधार पर विदेश कार्यालय ने अधिकारी को उनके पद से हटा दिया और उन्हें इस्लामाबाद स्थित मुख्यालय वापस बुला लिया.

इस बीच, पाकिस्तान के विदेश मंत्री बिलावल भुट्टो जरदारी ने सिंध में भीषण बाढ़ के कारण सोमवार को अपनी यूरोप यात्रा रद्द कर दी है. उनकी यूरोपीय यात्रा जर्मनी, डेनमार्क, स्वीडन और नॉर्वे के साथ संबंधों को मजबूत करने के लिए थी.

पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के सूत्रों ने किया ये दावा

द एक्सप्रेस ट्रिब्यून ने बताया कि बिलावल को पद संभालने के बाद से यूरोपीय संघ के देशों के अपने पहले दौरे के पहले चरण में सोमवार को जर्मनी के लिए उड़ान भरने का कार्यक्रम था. प्रकाशन के अनुसार, पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (PPP) के एक सूत्र ने कहा कि उसी यात्रा कार्यक्रम के साथ एक संशोधित कार्यक्रम जल्द ही घोषित किया जाएगा.

द एक्सप्रेस ट्रिब्यून की रिपोर्ट के अनुसार, यात्रा को स्थगित करने का निर्णय सिंध में दो और जिलों को आपदा प्रभावित घोषित किए जाने के एक दिन बाद आया है. जो कि विनाशकारी बारिश और बाढ़ के बाद कुल 13 हो गए हैं.

पाकिस्तानी राजनयिक पर यूरोप में लग चुगे हैं वीजा घोटाले के आरोप

बता दें की, मार्च में मानव तस्करी के गंभीर आरोपों का सामना करने वाले एक उच्च पदस्थ पाकिस्तानी राजनयिक, एक वीजा घोटाले के मूल में है, क्योंकि उसने इस्लामाबाद में यूरोपीय दूतावासों को अवैध रूप से पाकिस्तानी नागरिकों के लिए वीजा प्राप्त करने के लिए मनाने की कोशिश की थी.

उच्च पदस्थ पाकिस्तानी राजनयिक इसरार हुसैन के खिलाफ एक पूर्व सरकारी कर्मचारी तारिक जाविद खान द्वारा शिकायत दर्ज की गई थी, जो वीजा व्यवसाय में है. द न्यूज इंटरनेशनल ने बताया कि आरोपी राजनयिक को भुगतान के सबूत के साथ विभिन्न दूतावासों को जारी किए गए कई ईमेल आवेदन से जुड़े थे.

हुसैन यूरोप के अतिरिक्त सचिव के रूप में काम करते थे और वह इस्लामाबाद में यूरोपीय दूतावासों (Europe) को पाकिस्तान के नागरिकों के लिए वीजा प्राप्त करने के लिए मनाने की कोशिश करते थे. उसने कथित तौर पर लगभग 11 व्यक्तियों को स्पेन भेजने की कोशिश की.

हुसैन इससे पहले चेक गणराज्य में पाकिस्तान के राजदूत के रूप में भी काम कर चुके हैं. खान ने आरोप लगाया कि हुसैन ने “इटली, चेक गणराज्य, स्पेन, पोलैंड और दक्षिण कोरिया के लिए यात्रा, काम और निवास वीजा जारी करने की सुविधा के लिए एक प्रस्ताव दिया. उन्होंने मुझे पाकिस्तान में इन देशों के राजदूतों से भी मिलवाया.”

Leave a Reply

Your email address will not be published.