September 29, 2022
Emmanuel Macron ने संयुक्त राष्ट्र में कहा कि Pm नरेंद्र मोदी सही थे, ये युद्ध का समय नहीं है

Emmanuel Macron ने संयुक्त राष्ट्र में कहा कि Pm नरेंद्र मोदी सही थे, ये युद्ध का समय नहीं है

Spread the love

Emmanuel Macron: फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों (Emmanuel Macron) ने मंगलवार को संयुक्त राष्ट्र महासभा (UNGA) के 77वें सत्र में विश्व नेताओं को संबोधित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सही थे. जब उन्होंने रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से कहा कि यह युद्ध का समय नहीं है.

सही थे भारत के प्रधानमंत्री मोदी

ANI से मिली जानकारी के मुताबिक, पीएम मोदी ने 16 सितंबर को उज्बेकिस्तान के समरकंद में शंघाई सहयोग संगठन (SCO) शिखर सम्मेलन के मौके पर रूस के राष्ट्रपति पुतिन से मुलाकात की थी.

जहां उन्होंने रूसी नेता से कहा कि आज का युग युद्ध का नहीं है. उन्होंने कहा कि उन्होंने राष्ट्रपति पुतिन से फोन पर बात की और इस बात पर जोर दिया कि लोकतंत्र, कूटनीति और संवाद ऐसी चीजें हैं जो दुनिया को जोड़कर रखती हैं.

फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों (Emmanuel Macron) ने अपने संबोधन में कहा की,

“भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सही कहा था कि समय युद्ध का नहीं है. यह पश्चिम से बदला लेने या पूर्व के खिलाफ पश्चिम का विरोध करने के लिए नहीं है. यह सामूहिक साथ में रहने का समय है. हमारे सम्प्रभु समान राज्यों के लिए हमारे सामने आने वाली चुनौतियों का सामना करने के लिए.”

फ्रांस के राष्ट्रपति ने आगे कहा की, “यही कारण है कि उत्तर और दक्षिण के बीच एक प्रभावी अनुबंध विकसित करने की तत्काल आवश्यकता है. जो भोजन के लिए, जैव विविधता के लिए, शिक्षा के लिए सम्मानजनक है.”

यूक्रेन के संघर्ष के बारे में बोले फ्रांस के राष्ट्रपति

राष्ट्रपति मैक्रों ने यूक्रेन में संघर्ष के बारे में बोलते हुए कहा की, “रूस आज दोहरा मापदंड बनाए रखने की कोशिश कर रहा है. लेकिन यूक्रेन में युद्ध एक ऐसा संघर्ष नहीं होना चाहिए जो किसी को भी उदासीन छोड़ दे.”

इस बीच, केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने फ्रांस के राष्ट्रपति की टिप्पणी पर प्रतिक्रिया देने के लिए ट्विटर का सहारा लिया और कहा कि यह इस बात का प्रतिबिंब है कि कैसे भारत के मुखर भू-राजनीतिक दृष्टिकोण ने देश को बढ़ती विश्व व्यवस्था में सबसे आगे रखा है.

इसके अलावा बता दें की, विदेश मंत्री एस जयशंकर ने मंगलवार को संयुक्त राष्ट्र महासभा के उच्च स्तरीय सत्र से इतर दुनिया भर के शीर्ष नेताओं के साथ व्यस्त कूटनीतिक बातचीत जारी रखी और आतंकवाद विरोधी सहयोग से लेकर कोविड-19 तक के मुद्दों पर चर्चा की.

विदेश मंत्री ने घाना के राष्ट्रपति से की मुलाकात

उन्होंने घाना के राष्ट्रपति नाना अकुफो-एडो से मुलाकात की और संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में हमारे चल रहे सहयोग पर चर्चा की, विशेष रूप से आतंकवाद पर. विदेश मंत्री जयशंकर ने ट्वीट किया कि उन्होंने हमारी विकास साझेदारी की उपलब्धियों की सराहना की है.

कोमोरोस के राष्ट्रपति अज़ाली असौमानी के साथ अपनी बैठक में, जयशंकर ने COVID -19 और डेंगू का मुकाबला करने में भारत के आउटरीच के लिए उनकी सराहना का स्वागत किया. और उन्होंने ट्वीट किया, “हमने हमारी विकास साझेदारी को आगे बढ़ाने और समुद्री सुरक्षा पर मिलकर काम करने पर चर्चा की है.”

बता दें की, निकारागुआ के विदेश मंत्री डेनिस मोनकाडा से मुलाकात के बाद जयशंकर ने ट्वीट किया, “वैश्विक स्थिति और इसके बहुपक्षीय प्रभावों पर दिलचस्प चर्चा हुई है.”

1 thought on “Emmanuel Macron ने संयुक्त राष्ट्र में कहा कि Pm नरेंद्र मोदी सही थे, ये युद्ध का समय नहीं है

Leave a Reply

Your email address will not be published.